Monday, September 26, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

Punjab News: आईएसआई के आतंकी मॉड्यूल का पर्दाफाश, AK-56 और गोला-बारूद समेत दो गिरफ्तार

पंजाब पुलिस ने कनाडा में बैठे गैंगस्टर लखबीर सिंह और पाकिस्तान के गैंगस्टर हरविंदर सिंह द्वारा चलाए जा रहे आईएसआई के आतंकवादी माड्यूल के दो संदिग्धों की गिरफ्तारी के साथ गिरोह का पर्दाफाश किया है।

चंडीगढ़/जालंधरः मुख्यमंत्री भगवंत मान की ओर से पंजाब को अपराध मुक्त राज्य बनाने के लिए चलाई जा रही मुहिम के तहत एक बड़ी सफलता हाथ लगी है। पंजाब पुलिस ने कनाडा में बैठे गैंगस्टर लखबीर सिंह और पाकिस्तान के गैंगस्टर हरविंदर सिंह द्वारा चलाए जा रहे आईएसआई के आतंकवादी माड्यूल के दो संदिग्धों की गिरफ्तारी के साथ गिरोह का पर्दाफाश किया है। यह जानकारी शुक्रवार को पंजाब के डीजीपी गौरव यादव ने दी।

अभी पढ़ें – UP: लखनऊ और नोएडा के बाद अब इटावा में दीवार ढही, 4 बच्चों की मौ

कनाडा और पाकिस्तान में बैठे गैंगस्टरों के खास

बता दें कि कनाडा स्थित लखबीर सिंह बब्बर खालसा इंटरनेशनल (बीकेआई) में शामिल हुआ था। लखबीर पाकिस्तान में बैठे गैंगस्टर हरविंदर सिंह का करीबी माना जाता है। इनके आईएसआई के साथ नजदीकी संबंध हैं। बताते हैं कि लखबीर ने मोहाली स्थित पंजाब पुलिस इंटेलिजेंस हेडक्वाटर पर रॉकेट प्रोपेलड ग्रेनेड (आरपीजी) आतंकवादी हमले की साजिश रचने में मुख्य भूमिका निभाई थी। अमृतसर में सब-इंस्पेक्टर दिलबाग सिंह की कार के नीचे एक आईईडी भी लगाया था।

संदिग्धों की निशानदेही पर हथियार बरामद

पंजाब के डीजीपी ने बताया कि गिरफ्तार किए गए आरोपियों की पहचान बलजीत सिंह मल्ली (25) निवासी गांव जोगेवाल, फिरोजपुर और गुरबख्श सिंह उर्फ गोरा संधू निवासी हांव बुह गुजरां, फिरोजपुर के रूप में हुई है। डीजीपी गौरव यादव ने बताया कि काउंटर इंटेलिजेंस जालंधर के एआईजी नवजोत सिंह माहल के नेतृत्व में एक खुफिया ऑपरेशन के दौरान पुलिस टीमों ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार किया है। उन्होंने बताया कि पुलिस ने गुरबख्श सिंह की निशादेही पर उसके गांव से दो मैगजीन, 90 जिंदा कारतूस और दो गोलियों के खोल समेत एक आधुनिक AK-56 असॉल्ट राइफल बरामद की है।

अभी पढ़ें – AAP सांसद ने पंजाब के राज्यपाल पर साधा निशाना, बोलेये आदेशऑपरेशन लोटसके साजिश को साबित करता

राज्य में चल रहा है अभियान

उन्होंने बताया, प्राथमिक जांच से पता लगा है कि बलजीत इटली निवासी हरप्रीत सिंह उर्फ हैपी संघेड़ा के संपर्क में था। उसके निर्देशों पर बलजीत ने जुलाई 2022 में गांव सूदण में मक्खू-लोहियां रोड पर हथियारों की खेप हासिल की थी। फिर टैस्ट फायर करने के बाद इन्हें गुरबख्श के खेतों में छिपा दिया। उन्होंने कहा कि यह भी पता लगा है कि बलजीत कनाडा स्थित लखबीर और अरश दल्ला समेत खतरनाक गैंगस्टरों के सीधे संपर्क में था। उन्होंने कहा कि जांच जारी है और जल्द ही और हथियारों की बरामदगी की उम्मीद है। डीजीपी ने कहा कि मुख्यमंत्री भगवंत मान के निर्देशों पर पंजाब पुलिस की ओर से गैंगस्टरों के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है।

अभी पढ़ें – प्रदेश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

Click Here – News 24 APP अभी download करें

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -