Wednesday, 24 April, 2024

---विज्ञापन---

MP Politics: उमा भारती ने शराब दुकान के सामने डाला डेरा, कहा-2003 वाली जीत चाहिए तो…

MP Politics: मध्य प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती इन दिनों सख्त तेवर दिखा रही हैं, जबकि अब उन्होंने एक बार फिर शराबनीति को लेकर मुखरता दिखाई है। उमा भारती ने राजधानी भोपाल के एक मंदिर में डेरा जमा लिया है। उनका कहना है कि वह इसी मंदिर से नई शराब नीति की घोषणा सुनेंगी। […]

Edited By : Arpit Pandey | Updated: Jan 30, 2023 11:08
Share :
uma bharti stayed bhopal temple demand liquor policy
uma bharti stayed bhopal temple demand liquor policy

MP Politics: मध्य प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती इन दिनों सख्त तेवर दिखा रही हैं, जबकि अब उन्होंने एक बार फिर शराबनीति को लेकर मुखरता दिखाई है। उमा भारती ने राजधानी भोपाल के एक मंदिर में डेरा जमा लिया है। उनका कहना है कि वह इसी मंदिर से नई शराब नीति की घोषणा सुनेंगी। खास बात यह है कि उमा भारती ने चुनाव को लेकर भी एक बड़ा बयान दिया है।

और पढ़िए –Samajwadi Party: सपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी का दोबारा गठन, चाचा शिवपाल यादव को मिली बड़ी जिम्मेदारी

31 जनवरी तक मंदिर में रहेंगी उमा भारती

उमा भारती भोपाल के अयोध्या वायपास पर स्थित हनुमान मंदिर पहुंची, जहां उन्होंने कहा कि वह 31 जनवरी तक इसी मंदिर में रहेगी। उन्होंने कहा कि वह इसी मंदिर से नई शराब नीति के बारे में सुनेगी। बता दें कि उमा भारती नशा मुक्ति को बढ़ावा देने के लिए मध्य प्रदेश की नई शराब नीति में बदलाव की मांग कर रही हैं। इसलिए उन्होंने कहा कि वह नई शराब नीति की घोषणा तक यही रहेगी।

2003 वाली जीत चाहिए तो…

उमा भारती ने इस दौरान 2023 में होने वाले चुनाव को लेकर भी बड़ा बयान दिया, उन्होंने कहा कि अगर शिवराज सरकार मध्य प्रदेश में नियंत्रित शराब नीति लागू करती है तो फिर भाजपा को 2003 की तरह अपनी रिकॉर्ड जीत दर्ज होगी। इसलिए मध्य प्रदेश में नियंत्रित शराब नीति लागू होनी चाहिए। उमा भारती ने ऐलान किया है कि वह शराब नीति की घोषणा का इंतजार करते हुए 31 जनवरी तक मंदिर में ही रहेंगी।

और पढ़िए –इंदौर कोर्ट में जासूसी, वकील की ड्रेस में पकड़ी गई संदिग्ध महिला, PFI से जुड़ा है मामला

पूर्ण शराबबंदी की मांग कभी नहीं की

उमा भारती ने कहा कि ‘उन्होंने पूर्ण तरीके से शराबबंदी की मांग कभी नहीं की है। लेकिन मुझे मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर पूरा भरोसा है कि वह नई और नियंत्रित शराबनीति लागू करेंगे। उमा भारती ने कहा कि वह नहीं चाहती है कि उनकी किसी भी बात का फायदा कांग्रेस को हो, इसलिए भाजपा को एमपी में नियंत्रित शराबनीति लागू करके 2003 में मिली रिकॉर्ड जीत को दोहराना चाहिए।’

शराबबंदी को लेकर मुखर है उमा भारती

बता दें कि मध्य प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती शराबबंदी को लेकर मुखर बनी हुई है। इससे पहले उन्होंने राजधानी भोपाल में कई बार शराबबंदी को लेकर सरकार कड़े नियम बनाने की मांग की है। उमा भारती ने कई बार शराब को लेकर विरोध भी जताया है। जबकि अब एक बार फिर वह मुखर नजर आ रही हैं। पिछले दिनों उन्होंने सीएम शिवराज से मुलाकात की थी।

और पढ़िए –दिल्ली: IGI एयरपोर्ट पर CISF ने शख्स से जब्त किए 64 लाख रुपये की विदेशी मुद्रा

2023 में MP में हैं चुनाव

बता दें कि मध्य प्रदेश में 2023 में विधानसभा चुनाव होने हैं। उमा भारती के नेतृत्व में बीजेपी ने 2003 में सबसे बड़ी जीत दर्ज की थी, तब बीजेपी 170 से ज्यादा सीटों पर जीती थी। ऐसे में उन्होंने मांग की है कि अगर भाजपा कड़ी शराब नीति लाती है तो पार्टी को फिर से वहीं जीत मिल सकती है।

और पढ़िए – देश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

First published on: Jan 29, 2023 04:16 PM
संबंधित खबरें