Tuesday, 27 February, 2024

---विज्ञापन---

Khurai, Madhya Pradesh Assembly Election Result 2023: खुरई विधानसभा सीट से भूपेंद्र सिंह 47 हजार से ज्यादा वोटों से विजयी

Khurai Assembly Election Result 2023: खुरई विधानसभा सीट से भाजपा के भूपेंद्र सिंह ने कांग्रेस की युवा प्रत्याशी रक्षा राजपूत को 47, 325 वोटों से हरा दिया है।

Edited By : Shailendra Pandey | Updated: Dec 3, 2023 19:40
Share :
Bhupendra Singh, Madhya Pradesh Assembly Election Result 2023, Khurai assembly Seat, Election Result, Madhya Pradesh News, live updates, Chunav ka result

Madhya Pradesh Assembly Election Result 2023: सागर जिले की खुरई विधानसभा सीट से भाजपा के भूपेंद्र सिंह चौधरी ने कांग्रेस की युवा प्रत्याशी रक्षा राजपूत को 47, 325 वोटों से हरा दिया है।

यह भी पढ़ें- Assembly Election Result 2023 Analysis: कमलनाथ-गहलोत-बघेल, कांग्रेस के तीनों धुरंधर क्यों हुए चुनावी परीक्षा में फेल…

वहीं, 2018 विधानसभा चुनाव में भूपेन्द्र सिंह ने 15,295 वोटों से जीत दर्ज की थी। इस चुनाव में भूपेन्द्र सिंह को 78,156 वोट मिले थे वहीं, कांग्रेस के अरुणोदय चौबे को 62861 मत प्राप्त हुए थे। खुरई क्षेत्र को कृषि उपकरणों का हब माना जाता है, यहां 100 से अधिक फैक्ट्रियां हैं, जो स्थानीय लोगों को रोजगार प्रदान करती हैं।

यह भी पढ़ें- Explainer: शिवराज सिंह चौहान क्यों और कैसे बने मध्य प्रदेश में भाजपा की जीत के सूत्रधार?

कई मंत्रालय संभाल चुके

सीएम शिवराज सिंह चौहान के बेहद खास माने जाने वाले मंत्री भूपेंद्र सिंह वर्तमान में खुरई विधानसभा से विधायक हैं। भूपेंद्र सिंह मध्य प्रदेश की राजनीति में एक खास जगह रखते हैं। वे मध्य प्रदेश सरकार की कैबिनेट में कई मंत्रालय को संभाल चुके हैं। उन्होंने शिवराज चौहान के शासनकाल में गृह मामलों के मंत्री के रूप में कार्य किया। वहीं, वर्ष 2013 से वह मध्य प्रदेश सरकार में आवास और परिवहन मंत्री हैं। भूपेंद्र 2009 के आम चुनाव में मध्य प्रदेश के सागर लोकसभा क्षेत्र से 15वीं लोक सभा के लिए चुने गए थे। वे वर्ष 1993-2003 के दौरान मध्य प्रदेश विधानसभा सदस्य भी थे।

यह भी पढ़ें- Election Result 2023: चुनावों में बीजेपी की प्रचंड जीत पर पीएम मोदी की पहली प्रतिक्रिया, देखिए क्या कहा

Whtasapp Channel Logo Template

भूपेंद्र सिंह ने अपने राजनीति की शुरुआत छात्र संघ के चुनाव से की थी, इस दौरान वे 1982 में डॉ हरिसिंह गौर विश्वविद्यालय के छात्र संघ सचिव बने। इसके बाद वर्ष 1985 में वह सागर विश्वविद्यालय के मंत्री सभा के सदस्य रहे थे। वर्ष 1985-86 से वे भारतीय जनता युवा मोर्चा की राजनीति में आ गए तथा भारतीय जनता युवा मोर्चा के जिला अध्यक्ष बने। इसके बाद वर्ष 1985 से 90 तक वह है, कृषि उपज मंडी सागर के उपाध्यक्ष भी रहे।

 

First published on: Dec 02, 2023 07:07 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें