Thursday, December 8, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

हेमंत सोरेन बोले-विरोधी रच रहे झूठा षड्यंत्र, हमारी गाड़ी न रुकी है न रुकेगी 

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि झारखंड का भौगोलिक परिवेश अलग तरह का है।

विवेक चंद्र, बोकारो: विरोधी हमारे खिलाफ झूठा षड्यंत्र रच रहे हैं। इस षड्यंत्र से हमारी गाड़ी ने रुकी है न रुकेगी। हम हर रोज चुनौतियां झेल रहे हैं पर हम घबराते नहीं हैं। सरकार बनते ही करोना की समस्या को हमने झेला है 2 साल तक पूरी दुनिया में सब कुछ ठप रहा। 2 साल के बाद काम करने के लिए हम जैसे ही आगे बढ़े की राज्य को सुखा का सामना करना पड़ रहा है।

ये बातें झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने सरकार के तीन साल पूरे होने पर ‘आपकी योजना आपकी सरकार आपके द्वार’ कार्यक्रम के दूसरे चरण में बोकारो के पुस्तकालय मैदान में आयोजन कार्यक्रम में लोगों को संबोधित करते हुए कहीं। उन्होंने आगे कहा कि पहले किसानों को खाद बीज नहीं मिलता था , हमने समय पर खाद बीज गरीबों के लिए मुहैया कराया पर अब सूखे से निपटना एक बड़ी चुनौती है ।

अभी पढ़ें AAP की सरकार बन रही है इसलिए भाजपा बुरी तरह घबरा रही है: मनीष सिसोदिया

5 दिनों में ही दिख रहा बेहतर रिस्पांस

सीएम ने कहा सरकार आपके द्वार का पहला चरण काफी सकारात्मक रहा। इसके बाद मांग हुई कि यह कार्यक्रम और भी चले हम लोगों ने सरकार आपके द्वार के पहले चरण में जो शिविर लगा उसमें लगभग 99 फ़ीसदी मामलों का निपटारा कर लिया गया। अब इसका दूसरा चरण प्रारंभ है आपके घर के आगे सरकार खड़ी है। अब तक दूसरे चरण के 5 दिनों में साढ़े पांच लाख से ज्यादा आवेदन प्राप्त हुए हैं। यह काफी खुशी की बात है ।पहले लोगों को विभागीय अधिकारियों के चक्कर लगाने पड़ते थे पहले आप जिसके लिए भटक रहे थे अब वह भटकने की जरूरत नहीं है।

अंतिम आदमी तक पहुंचे विकास की रोशनी

हेमंत सोरेन ने कहा कि बोकारो में हम यह देखने आए हैं कि यहां रोजगार और अन्य योजनाओं का क्या हाल है। मैं इसी शहर में पला बढ़ा हूं ।बोकारो जिला एक औद्योगिक जिला है और यहां एशिया का सबसे बड़ा लोहे का कारखाना लगा । उन्होंने यह भी कहा कि मेरा लालन-पालन इसी जिले की मिट्टी में हुआ है। मैं यहां के हर गली मोहल्ले में घुमा हूं । आज आप लोगों के आशीर्वाद से मैं इस राज्य के सबसे महत्वपूर्ण पद पर हूं। इसे लेकर जनता के प्रति मेरी जिम्मेदारी भी है। मैं विकास की रोशनी अंतिम पायदान पर पहुंचे हर एक व्यक्ति के लिए उपलब्ध कराना चाहता हूं ।

अभी पढ़ें बाहुबली विधायक रहे विजय मिश्रा को कोर्ट से झटका, 13 साल पुराने आर्म्स एक्ट के मुकदमे में दो साल की सजा

झारखंड का भौगोलिक परिवेश काफी अलग

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि झारखंड का भौगोलिक परिवेश अलग तरह का है। यहां कई गांव पहाड़ियों के ऊपर बसे हैं तो कई गांव पहाड़ियों के नीचे। ऐसे में भी आज अधिकारी आपके दरवाजे तक पहुंच रहे हैं। कोई मोटरसाइकिल से आपके दरवाजे तक पहुंच रहा है तो कोई ट्रैक्टर पर बैठकर तो कोई पैदल।

JPSC की हालत हमने सुधारी

मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि जेपीएससी की स्थिति पहले खराब थी हमने इसे दुरुस्त किया और 250 दिन में रिजल्ट है इसमें 33 फ़ीसदी वैसे बच्चे अफसर बने हैं जो बीपीएल परिवारों से आते हैं।, मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि
आज हर ओर शहरीकरण हो रहा है पर शहरों में स्थिति अच्छी नहीं ।हमें गांव को बेहतर बनाना है क्यों ना हम गांव में उत्पादन करें और शहरों में भेजें! इससे हम सब की आर्थिक स्थिति बेहतर होगी। उन्होंने जनता को आश्वस्त किया कि अभी जो योजनाएं चल रही हैं वह बंद नहीं होंगी वह लगातार जारी रहेगी.
कई योजनाओं उद्घाटन और शिलान्यास मुख्यमंत्री ने इस कार्यक्रम में कुल 145 करोड़ रुपए लागत की 97 योजनाओं का शिलान्यास, 396 करोड़ रुपए की 84 योजनाओं का उद्घाटन एवं 20,669 लाभुकों के बीच 34.15 करोड़ रुपए की परिसंपत्ति का वितरण किया ।
ये भी रहे मौजूद इस मौके पर झारखंड के शिक्षा मंत्री जगन्नाथ महतो श्रम मंत्री सत्यानंद भोक्ता,, बेरमो विधायक जय मंगल सिंह, गोमिया विधायक लंबोदर महतो और मुख्यमंत्री के सचिव विनय चौबे समेत कई महत्वपूर्ण हस्तियां मौजूद रहीं।

अभी पढ़ें प्रदेश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -