Thursday, 29 February, 2024

---विज्ञापन---

Jammu and Kashmir: सरहद पर फिर दिखा ड्रोन, तलाशी अभियान जारी

सांबा: जम्मू-कश्मीर के सांबा में रविवार को जाख के सीमावर्ती इलाके में ग्रामीणों ने एक संदिग्ध ड्रोन देखा। ड्रोन दिखने के बाद यहां सघन तलाशी अभियान जारी है। विशेष अभियान समूह (एसओजी) मामले की छानबीन में जुटी है। एसओजी के डीएसपी घरू राम ने कहा पाकिस्तान ने एक बार फिर सांबा में ड्रोन साजिश को […]

Edited By : Amit Kasana | Updated: Sep 18, 2022 15:52
Share :
pm modi, pm modi residence, drone over pm modi house, delhi police, SPG, Special Protection Group
प्रतीकात्मक तस्वीर।

सांबा: जम्मू-कश्मीर के सांबा में रविवार को जाख के सीमावर्ती इलाके में ग्रामीणों ने एक संदिग्ध ड्रोन देखा। ड्रोन दिखने के बाद यहां सघन तलाशी अभियान जारी है। विशेष अभियान समूह (एसओजी) मामले की छानबीन में जुटी है। एसओजी के डीएसपी घरू राम ने कहा पाकिस्तान ने एक बार फिर सांबा में ड्रोन साजिश को अंजाम दिया है। हमें ग्रामीणों से एक संदिग्ध ड्रोन देखे जाने की सूचना मिली है। जिसके बाद तलाशी अभियान जारी है।

 

ड्रोन से यह काम लेता है पाकिस्तान 

डीएसपी के अनुसार रक्षा सूत्रों की मानें तो पाकिस्तान से एक ड्रोन शनिवार शाम को भारतीय क्षेत्र में घुसा था। जिसके बाद स्थानीय लोगों और सुरक्षा बलों में हड़कंप मच गया। ड्रोन को सारथी कलां में देखा गया। जो सांबा सेक्टर के सीमावर्ती गांव है। ड्रोन फिर जगमगाती सफेद रोशनी के साथ डेरा और मदून गांव से रीगल की ओर गया और चक दुलमा से पाकिस्तान में हैदर पोस्ट वापस चला गया। जहां उक्त ड्रोन जमीन से कम से कम एक किलोमीटर की ऊंचाई पर उड़ रहा था। वहीं दूसरी ओर सुरक्षा बलों ने मौके पर जाकर स्थिति का जायजा लिया और सुबह सभी इलाकों में तलाशी अभियान चलाया। डीएसपी घरू राम ने कहा कि पाकिस्तान पहले भी कई बार ऐसे प्रयास कर चुका है, जिसमें उसने ड्रोन के जरिए भारतीय क्षेत्र में हथियार और गोला-बारूद उतारा।

पिछले सालों में इतने ड्रोन दिखे

इससे पहले इस साल जुलाई तक सीमा पार से उड़ान भरने वाले कुल 107 ड्रोन भारतीय क्षेत्र के अंदर देखे गए। पिछले साल कुल 97 ड्रोन देखे गए थे। जिसमें पंजाब में 64, जम्मू में 31 और जम्मू में नियंत्रण रेखा (एलओसी) से दो ड्रोन प्रवेश करते हुए देखे गए थे। जुलाई 2022 तक आईबी के पास 107 ड्रोन देखे जाने की सूचना। जिनमें जम्मू में 14 और पंजाब सेक्टर में 93 शामिल हैं। बीएसएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक दिखने वाले ज्यादातर ड्रोन पाकिस्तान से आए हैं और इनका इस्तेमाल नशीले पदार्थ, हथियार, विस्फोटक और गोला-बारूद पहुंचाने के लिए किया जाता है।

First published on: Sep 18, 2022 03:38 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें