Tuesday, September 27, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

“मैं डायन नहीं आम महिला हूँ, मुझे इंसाफ दो या मौत दो एसपी साहब” डायन का दंश झेल रही महिला का दर्द

के जे श्रीवत्सन, भीलवाड़ा: राजस्थान के भीलवाड़ा जिले से इस वक्त की बड़ी खबर सामने आ रही है। जिले में महिलाओं के साथ मारपीट कर उन्हें डायन बताने का सिलसिला अभी रुकने का नाम नहीं ले रहा है। ऐसा ही एक मामला भीलवाड़ा जिले के रायपुर थाना क्षेत्र में एक गांव का सामने आया है। जिसमें महिला को डायन बताकर उसके साथ मारपीट की जा रही है।

बैनर से बताई आपबीती

यह महिला हाथ में बैनर लेकर राजस्थान के भीलवाड़ा जिला मुख्यालय पर एसपी ऑफिस के बाहर न्याय मांगती नजर आई। इस बैनर पर लिखा है, “मैं डायन नही एक आम महिला हूँ..मुझे इंसाफ दो या मौत दो एसपी साहब..।” यह तस्वीर यह बताने को काफी है कि आज भी राजस्थान में महिलाओं की स्थिति कितनी बदतर है।

घरवालों ने भोपे के कहने पर डायन घोषित किया

इस महिला को पश्चिमी राजस्थान मारवाड़ क्षेत्र के एक भोपे के कहने पर मारपीट कर डायन घोषित कर दिया गया। इसने इस मामले की रायपुर थाने में एफ आई आर दर्ज करवाई तो पुलिस ने जांच कर अंतिम रिपोर्ट ही लगा दी। पुलिस द्वारा कोई कार्रवाई नहीं किए जाने हैं पर अब इस महिला ने भीलवाड़ा के एसपी आदर्श सिद्धू से मिलकर अपनी आपबीती बताई।

एसपी ने पुनः जाँच के आदेश दिया

भीलवाड़ा एसपी आदर्श सिद्धू ने कहा कि रायपुर थाना क्षेत्र के एक गांव में रहने वाली महिला उसके परिवार के साथ शिकायत लेकर पहुंची थी। महिला ने बताया कि उसके जेठ के लड़के और अन्य रिश्तेदारों ने उसे डायन बताकर मारपीट कर गांव से निकाल दिया। इसे लेकर रायपुर थाने में एक मामला दर्ज हुआ था और जांच में पुलिस ने एफआर लगा दी। लेकिन परिवादी इस जांच से संतुष्ट नहीं है इसके चलते अब मैं संबंधित अधिकारियों से पुनः जांच का आदेश दे रहा हूं।

डायन के दंश से पीड़ित महिला ने बताया कि उसके जेठ के बेटे को मारवाड़ के किसी भोपा ने यह बता दिया कि तुम्हारी काकी डायन है और तुम्हारे घर में जो भी कुछ बुरा हो रहा है उसके लिए तुम्हारी काकी जिम्मेदार है। यह लोग मुझे डायन बताकर मारपीट कर घर से निकाल देते हैं।

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -