Saturday, 13 April, 2024

---विज्ञापन---

Gujarat News: गुजरात के कच्छ में पत्थर की खदान धंसी, एक मजदूर की मौत, तीन मलबे में फंसे

Gujarat News: गुजरात के कच्छ जिले में शनिवार को एक खदान में बड़ा हादसा हो गया। हादसे में एक मजदूर की मौत हो गई, जबकि तीन अन्य मलबे में फंस गए है। हादसा कच्छ जिले के खावड़ा गांव के पास हुआ है। जानकारी के मुताबिक, पत्थर खदान धंसने से ट्रक सहित मजदूर मलबे में दब गए […]

Edited By : Om Pratap | Updated: Dec 24, 2022 15:31
Share :

Gujarat News: गुजरात के कच्छ जिले में शनिवार को एक खदान में बड़ा हादसा हो गया। हादसे में एक मजदूर की मौत हो गई, जबकि तीन अन्य मलबे में फंस गए है। हादसा कच्छ जिले के खावड़ा गांव के पास हुआ है।

जानकारी के मुताबिक, पत्थर खदान धंसने से ट्रक सहित मजदूर मलबे में दब गए हैं। अभी तक सिर्फ एक मजदूर का शव मिला है। मलबे में और लोगों के दबे होने की आशंका के बीच मलबा हटाने का काम चल रहा है। पुलिस पूरे घटनाक्रम की जांच कर रही है।

और पढ़िए – राजस्थान के दौसा में गैंगवार, तीन आरोपी गिरफ्तार; भाजपा ने गहलोत सरकार पर साधा निशाना

शुक्रवार शाम की है घटना

पत्थर गिरने की पूरी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है। सीसीटीवी फुटेज में महज पांच सेकंड में पत्थर गिरने के बाद वहां खड़ी गाड़ियां मलबे के चपेट में आ गए। कहा जा रहा है कि भुज से करीब 100 KM दूर खवड़ा के रतालिया के पास माइल स्टोन खदान में पत्थर खनन किया जा रहा था।

शुक्रवार शाम करीब 6.30 बजे 40 से 50 फीट ऊंची पहाड़ी से भारी पत्थर टूटकर अचानक गिर गया। घटना में चार लोग दब गए, जिनमें से एक की मौत हो गई, जबकि एक की हालत गंभीर बनी हुई है और दो लोग अभी भी मलबे में दबे हुए हैं, जिनकी तलाश जारी है।

और पढ़िए –ईंट भट्ठा हादसे में मृतकों की संख्या बढ़कर 9 हुई; PM मोदी, CM नीतीश ने जताया दुख, मुआवजे का ऐलान

सुरक्षा की अनदेखी कर किया जा रहा था खनन

आरोप है कि जिम्मेदार कंपनी का ठेकेदार सुरक्षा की अनदेखी कर खनन कर रहा था। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, क्षेत्र में 6 से 7 खनन पट्टे दिये गये हैं, जिसमें गैर पट्टा क्षेत्रों में खनन हो रहा है, जिससे गरीब लोग हादसे का शिकार हो रहे हैं।

स्थानीय लोगों के अनुसार, हादसे के बाद ट्रक में फंसा चालक हनीस समा शीशा तोड़कर बाहर निकला। उधर, हादसे की सूचना मिलने के बाद पुलिस ने मामले की सूचना भुज मामलातदार सहित जिला प्रशासन को दी। सूत्रों का कहना है कि ऑपरेशन के दौरान अभी भी अन्य बोल्डर के गिरने का खतरा है।

और पढ़िए –  देश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

First published on: Dec 24, 2022 12:28 PM
संबंधित खबरें