Saturday, 13 April, 2024

---विज्ञापन---

Nehru Museum Renaming Row: ‘एक परिवार से आगे नहीं देख सकती कांग्रेस…’, बीजेपी ने किया पलटवार, जानें किसने क्या कहा?

Nehru Museum Renaming Row: पूर्व पीएम जवाहर लाल नेहरू की स्मृति में दिल्ली में स्थित नेहरू मेमोरियल म्यूजियम एंड लाइब्रेरी सोसायटी का नाम बदलकर प्रधानमंत्री संग्रहालय और लाइब्रेरी सोसायटी कर दिया गया है। इसके बाद बीजेपी और कांग्रेस के बीच नया विवाद खड़ा हो गया है। शनिवार को भाजपा प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन […]

Edited By : Bhola Sharma | Updated: Jun 17, 2023 12:14
Share :
Nehru Museum Renaming Row, Congress Vs BJP, Shehzad Poonawalla, Gourav Vallabh, Sushil Modi, Sanajy Raut
Nehru Museum Renaming Row

Nehru Museum Renaming Row: पूर्व पीएम जवाहर लाल नेहरू की स्मृति में दिल्ली में स्थित नेहरू मेमोरियल म्यूजियम एंड लाइब्रेरी सोसायटी का नाम बदलकर प्रधानमंत्री संग्रहालय और लाइब्रेरी सोसायटी कर दिया गया है। इसके बाद बीजेपी और कांग्रेस के बीच नया विवाद खड़ा हो गया है।

शनिवार को भाजपा प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे पर पलटवार किया। पूनावाला ने कहा कि कांग्रेस एक परिवार से आगे नहीं देख सकती। कांग्रेस परिवार लिमिटेड कंपनी है। इस देश के विकास में सभी प्रधानमंत्रियों ने योगदान किया है। अगर सभी प्रधानमंत्रियों के योगदान को एक संग्रहालय में याद किया जाता है तो यह तानाशाही रवैया क्यों है?

दरअसल, खड़गे ने शुक्रवार को कहा था कि जिनके पास कोई इतिहास नहीं है, वे दूसरों के इतिहास को मिटाने में लग गए हैं। उन्होंने आरएसएस का जिक्र करते हुए कहा कि यह केवल भाजपा-आरएसएस की नीच मानसिकता और तानाशाही रवैये को दर्शाता है।

  • म्यूजियम पर मचा राजनीतिक घमासान

सुशील मोदी बोले- पहले सिर्फ नेहरू पर केंद्रित था म्यूजियम

भाजपा सांसद सुशील मोदी ने कहा कि कांग्रेस ने जवाहरलाल नेहरू के योगदान को संग्रहालय में ठीक से प्रदर्शित नहीं किया। मैं वहां गया था। कुछ दस्तावेज और कुर्सियां रखी थीं। लेकिन अब यह बहुत अच्छा है। पहले यह केवल जवाहरलाल नेहरू पर केंद्रित था, लेकिन अब सभी प्रधानमंत्रियों के योगदान को दिखाया गया है और इसलिए नाम केवल जवाहरलाल नेहरू के नाम पर नहीं हो सकता है।

कांग्रेस को वंशवाद में रहने की आदत

दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा ने कहा कि क्या देश के अन्य प्रधानमंत्रियों ने कुछ योगदान नहीं दिया? जबकि अधिकतर कांग्रेस के नेता पीएम बने। संग्रहालय किसी एक व्यक्ति की संपत्ति नहीं है, बल्कि सभी प्रधानमंत्रियों को समर्पित है। कांग्रेस को वंशवाद में रहने की आदत है।

  • कांग्रेस ने पीएम मोदी पर जमकर साधा निशाना

नेहरू का कम नहीं होगा व्यक्तित्व

कांग्रेस नेता गौरव वल्लभ ने कहा कि बीजेपी को लगता है कि बोर्ड से जवाहरलाल नेहरू का नाम हटाने से उनका व्यक्तित्व कम हो जाएगा। देश के लोग नेहरू जी को आधुनिक भारत का निर्माता मानते हैं। मैं मोदी जी को याद दिलाना चाहता हूं वाजपेयी जी के एक बयान की – छोटे मन से कोई बड़ा नहीं बनेगा। आप देश के सामने अपनी ओछी मानसिकता का प्रदर्शन कर रहे हैं। आप पंडित नेहरू का नाम बोर्ड से हटा देंगे लेकिन लोगों के दिलों से कैसे निकालेंगे?

नाम बदलने की आवश्यकता नहीं थी: संजय राउत

उद्धव ठाकरे गुट के नेता और सांसद संजय राउत ने कहा कि पंडित नेहरू ने देश को बनाने में येगदान दिया है उन्होंने आजादी की लड़ाई में भी योगदान दिया था। देश में कई प्रधानमंत्री हुए और सभी ने देश के लिए काम किया है। लेकिन संग्रहालय का नाम बदलने की जरूरत नहीं थी। नेहरू के नाम से ही संग्रहासय चल सकता था। उसी में आप बढ़ा स्थान सभी को दे सकते थे। पंडित नेहरू से नफरत के कारण ये किया गया है।

यह भी पढ़ें: Modi@9Years: कुएं में कूदकर मर जाऊंगा, मगर, कांग्रेस में शामिल होने की सलाह पर बोले केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी

 

First published on: Jun 17, 2023 12:14 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें