Wednesday, 21 February, 2024

---विज्ञापन---

Delhi Police Raids: गणतंत्र दिवस से पहले दिल्ली में आतंकी साजिश का भंडाफोड़, छापेमारी में 2 हैंड ग्रेनेड बरामद

Delhi Police Raids: गणतंत्र दिवस समारोह से पहले दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने एक आतंकी साजिश का भंडाफोड़ किया और दो लोगों को गिरफ्तार किया। गिरफ्तार किए गए दोनों आरोपियों के आतंकवादी संगठनों से संबंध होने का संदेह था। सूत्रों ने कहा कि आरोपी टार्गेट की योजना बना रहे थे। दिल्ली पुलिस ने उत्तर […]

Edited By : Om Pratap | Updated: Jan 14, 2023 13:24
Share :
raid by Delhi Police Spl Cell

Delhi Police Raids: गणतंत्र दिवस समारोह से पहले दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने एक आतंकी साजिश का भंडाफोड़ किया और दो लोगों को गिरफ्तार किया। गिरफ्तार किए गए दोनों आरोपियों के आतंकवादी संगठनों से संबंध होने का संदेह था। सूत्रों ने कहा कि आरोपी टार्गेट की योजना बना रहे थे।

दिल्ली पुलिस ने उत्तर पश्चिमी दिल्ली के जहांगीरपुरी में एक घर पर विशेष छापेमारी की जहां उन्होंने आरोपियों से तीन पिस्तौल और 22 राउंड बरामद किए। छापेमारी गुरुवार रात को की गई।

छापेमारी के बाद, पुलिस ने 56 वर्षीय नौशाद और 29 वर्षीय जगजीत सिंह को गैरकानूनी गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम (यूएपीए) के तहत गिरफ्तार किया। दोनों को कल 14 दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया। जांच के दौरान, आरोपी पुलिस टीम को श्रद्धा नंद कॉलोनी, थाना भलस्वा डेयरी के अपने किराए के आवास पर ले गए।

छापेमारी के बाद दो हैंड ग्रेनेड बरामद

शुक्रवार की रात पुलिस ने भलस्वा डेयरी पर छापा मारा और एक घर से दो हैंड ग्रेनेड बरामद किए। पुलिस की टीम ने घर की दीवारों पर खून के धब्बे भी पाए। इसके बाद सैंपल कलेक्ट करने के लिए फॉरेंसिक साइंस लेबोरेटरी (FSL) की एक टीम को लगाया गया।

पुलिस सूत्रों ने बताया कि जगजीत और नौशाद ने भलस्वा डेयरी के एक घर में किसी की हत्या की थी। वारदात को अंजाम देने के दौरान दोनों ने वीडियो भी बनाया था और अपने हैंडलर को भेजा था। दिल्ली पुलिस की जांच में खुलासा हुआ कि जगजीत सिंह खालिस्तानी आतंकवादी अर्शदीप सिंह गिल उर्फ अर्श के संपर्क में था और उसे दूसरे देशों के राष्ट्र विरोधी तत्वों से निर्देश मिलते रहते थे। गिल को सरकार ने आतंकवादी घोषित कर दिया था। वह पंजाब में टार्गेट किलिंग, आतंक के लिए फंड वसूली और जबरन वसूली में शामिल रहा है।

नौशाल पहले भी काट चुका है सजा

नौशाद आतंकी संगठन हरकत उल अंसार से जुड़ा था और दोहरे हत्याकांड के मामले में सजा काटकर जेल से बाहर आया था। नौशाद पहले ही दो हत्याओं और विस्फोटक रखन के जुर्म में 10 साल की पूरी सजा काट चुका है।

गृह मंत्रालय ने सोमवार को कहा था कि गिल उर्फ अर्श डाला, जो लुधियाना में पैदा हुआ था, लेकिन वर्तमान में कनाडा में स्थित है, बड़े पैमाने पर ड्रग्स और हथियारों की सीमा पार तस्करी में शामिल है। वह प्रतिबंधित खालिस्तान टाइगर फोर्स (केटीएफ) से जुड़ा हुआ है और नामित आतंकवादी हरदीप सिंह निज्जर की ओर से आतंकी मॉड्यूल चलाता है।

First published on: Jan 14, 2023 01:24 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें