---विज्ञापन---

Delhi Flood Alert: दिल्ली में बाढ़ का खतरा बढ़ा, खतरे के निशान से पार हुई यमुना

Delhi Flood Alert: पहाड़ों पर बारिश के बीच दिल्ली के लिए खतरे की घंटी बज गई है। सोमवार को दिल्ली में यमुना का जल स्तर खतरे के निशान को पार कर गया है। इसके साथ ही दिल्ली के निचले इलाकों में बाढ़ का खतरा (Delhi Flood Alert) बढ़ गया है। हालांकि केंद्रीय जल आयोग ने […]

Edited By : Naresh Chaudhary | Updated: Jul 10, 2023 15:20
Share :
Delhi Flood Alert, Flood Risk, Delhi News, Yamuna Danger Mark, Delhi Flood

Delhi Flood Alert: पहाड़ों पर बारिश के बीच दिल्ली के लिए खतरे की घंटी बज गई है। सोमवार को दिल्ली में यमुना का जल स्तर खतरे के निशान को पार कर गया है। इसके साथ ही दिल्ली के निचले इलाकों में बाढ़ का खतरा (Delhi Flood Alert) बढ़ गया है। हालांकि केंद्रीय जल आयोग ने एक दिन बाद मंगलवार को इसकी आशंका जताई थी, लेकिन सोमवार को हथिनी कुंड बैराज से पानी छोड़ दिया गया।

हथिनीकुंड बैराज से छोड़ा 1.90 लाख क्यूसेक पानी

समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार दिल्ली में यमुना नदी का जलस्तर खतरे के निशान को पार कर चुका है। यमुना में खतरे का निशान 204.50 मीटर है। सोमवार दोपहर 1 बजे तक यमुना का जलस्तर 204.63 मीटर दर्ज किया गया। बताया गया है कि हथिनीकुंड बैराज से यमुना नदी में 1,90,837 क्यूसेक पानी छोड़ा गया है।

निचले इलाकों से लोगों को निकालने का काम शुरू

उधर, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को घोषणा की कि नदी के 206 मीटर के निशान को छूते ही यमुना के आसपास के निचले इलाकों से लोगों को निकालना शुरू कर दिया गया है। साथ ही लोगों को आश्वासन दिया कि अधिकारियों और विशेषज्ञों की टीमें लगातार बाढ़ की स्थिति पर निगरानी कर रही हैं।

सीएम केजरीवाल ने की प्रेस कॉन्फ्रेंस

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में मूसलाधार बारिश और बढ़ते यमुना जल स्तर को लेकर बैठक के बाद सीएम केजरीवाल ने एक प्रेस कॉन्फ्रेस को संबोधित किया। इसमें कहा कि कहा कि सरकार स्थिति पर बारीकी से नजर रख रही है। साथ ही साथ बाढ़ की स्थिति से निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार है।

दिल्ली में 40 साल का रिकॉर्ड टूटा

सीएम केजरीवाल ने कहा कि भीषण बारिश से लोगों को परेशानी हुई और दिल्ली की व्यवस्था इसे झेलने में सक्षम नहीं थी। उन्होंने कहा कि हर साल बारिश के बाद कुछ संवेदनशील इलाकों में पानी भरता था और कुछ घंटों में पानी निकल जाता है, लेकिन 40 वर्षों का रिकॉर्ड तोड़ते हुए इस बार 153 मिमी बारिश हुई है। सभी को साथ मिलकर इससे निपटना चाहिए।

करनाल के गांवों में घुसा पानी

हरियाणा में भी यमुना नदी अपने रौद्र रूप में बह रही है। हथिनीकुंड में पानी ज्यादा आने पर बैराज के द्वार खोले गए हैं। एएनआई के अनुसार, करनाल के कई गांवों में यमुना नदी का पानी घुस गया है। एनडीआरएफ की टीम मौके पर मौजूद है और रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है।

दिल्ली की खबरों के लिए यहां क्लिक करेंः-

First published on: Jul 10, 2023 03:18 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें