Saturday, October 1, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

अक्षय कुमार के नए विज्ञापन पर मचा बवाल, नितिन गडकरी से भी लोगों ने पूछे सवाल, जानें क्या है मामला

भारत में सामने वाले यात्री और चालक के लिए एयरबैग अनिवार्य हैं। जनवरी 2022 में केंद्र सरकार ने प्रत्येक कार में छह एयरबैग अनिवार्य कर दिया था।

नई दिल्ली: बॉलीवुड एक्टर अक्षय कुमार के नए विज्ञापन पर बवाल हो गया है। दरअसल, ये विज्ञापन सड़क सुरक्षा से जुड़ा हुआ है जिसे केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने अपने ट्विटर हैंडल पर शेयर किया है। उन्होंने लिखा है कि 6 एयरबैग वाले गाड़ी से सफर कर जिंदगी को सुरक्षित बनाएं।

नितिन गडकरी के कैप्शन से ही पता चल जाता है कि इस विज्ञापन को जागरूकता के उद्देश्य से बनाया गया है, लेकिन वीडियो के कंटेंट को लेकर सोशल मीडिया यूजर्स सवाल उठा रहे हैं। यूजर्स का कहना है कि अक्षय कुमार का ये नया विज्ञापन दहेज को बढ़ावा देता है।

अभी पढ़ें World: शिखर सम्मेलन के दौरान समरकंद में रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से मिल सकते है पीएम मोदी 

आखिर अक्षय के विज्ञापन पर विवाद क्यों

दरअसल, विज्ञापन में शादी के बाद लड़की की विदाई का सीन दिखाया गया है। इसमें अक्षय कुमार पुलिसकर्मी के गेटअप में दिख रहे हैं। विज्ञापन में वे दुल्हन के पिता को डांटते हुए दिख रहे हैं, वो भी इसलिए क्योंकि दुल्हन के पिता ने अपनी बेटी को ऐसी कार में विदा किया है जिसमें केवल दो एयरबैग है।

विज्ञापन के कंटेंट से समझ आता है कि दुल्हन के पिता ने अपनी बेटी को कार उपहार में दी है जिससे वो विदा होकर अपने ससुराल जा रही है, लेकिन दिक्कत ये है कि कार में सिर्फ दो एयरबैग है। अक्षय कुमार उन्हें छह एयरबैग वाली कार का सुझाव देते हैं। कुल मिलाकर विज्ञापन में सोशल मैसेज दिया गया है।

उधर, इस विज्ञापन को लेकर सोशल मीडिया यूजर्स के अलावा कुछ नेताओं ने भी सवाल उठाए हैं। उनका आरोप है कि विज्ञापन के जरिए दहेज प्रथा को बढ़ावा दिया जा रहा है, चूंकि विज्ञापन सरकारी है, इसलिए सरकार पर भी दहेज प्रथा को बढ़ावा देने का आरोप लगाया है।

प्रियंका चतुर्वेदी ने बताया ‘समस्यात्मक’

शिवसेना नेता प्रियंका चतुर्वेदी ने इस विज्ञापन को समस्यात्मक बताते हुए ट्वीट किया है। उन्होंने कहा कि ऐसे क्रिएटिव कौन पास करता है? क्या सरकार कार के सुरक्षा पहलू को बढ़ावा देने के लिए पैसा खर्च कर रही है या इस विज्ञापन के माध्यम से दहेज की बुराई और आपराधिक कृत्य को बढ़ावा दे रही है?

तृणमूल कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता साकेत गोखले ने कहा, भारत सरकार को आधिकारिक तौर पर दहेज को बढ़ावा देते हुए देखना ठीक नहीं लगता है। सड़कों को ठीक करने के बजाय 6 एयर बैग और महंगी कारों पर जोर देकर जिम्मेदारी से बचने का अद्भुत तरीका।

कर्नाटक कांग्रेस की प्रवक्त लवण्या भल्लाल ने कहा कि क्या यह दहेज का विज्ञापन है? करदाताओं के पैसे का इस्तेमाल दहेज को बढ़ावा देने के लिए किया जाता है।

अभी पढ़ें Gujarat: विधायक जिग्नेश मेवानी पर गुंडों ने किया हमला, दलित नेता ने पूर्व गृहमंत्री पर लगाए सनसनीखेज आरोप

बता दें कि भारत में सामने वाले यात्री और चालक के लिए एयरबैग अनिवार्य हैं। जनवरी 2022 में केंद्र सरकार ने प्रत्येक कार में छह एयरबैग अनिवार्य कर दिया था।

अभी पढ़ें   देश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

Click Here – News 24 APP अभी download करें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -