---विज्ञापन---

‘सिर्फ स्वस्थ जीवन ही नहीं समाज के निर्माण के लिए भी जरूरी है योग’, इंटरनेशनल योगा डे पर बोले CM साय

Chhattisgarh CM Vishnudev Sai on International Yoga Day: छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय ने 'अंतरराष्ट्रीय योग दिवस' के मौके पर प्रदेश की जनता को खास संदेश दिया। उन्होंने कहा कि योग सिर्फ स्वस्थ जीवन के लिए ही नहीं, स्वस्थ समाज के निर्माण के लिए भी बहुत जरूरी है।

Edited By : Pooja Mishra | Updated: Jun 21, 2024 14:10
Share :
Chhattisgarh CM Vishnudev Sai on International Yoga Day

Chhattisgarh CM Vishnudev Sai on International Yoga Day: छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय शुक्रवार को ‘अंतरराष्ट्रीय योग दिवस’ के मौके पर राजधानी रायपुर के साइंस कॉलेज में आयोजित सामूहिक योगाभ्यास कार्यक्रम में शामिल हुए। इस कार्यक्रम में सीएम विष्णुदेव साय ने हजारों लोगों के साथ योग और प्राणायाम किया। इस कार्यक्रम के दौरान सीएम साय ने प्रदेश की जनता को संबोधित करते हुए कहा कि स्वस्थ जीवनशैली के लिए नियमित योगाभ्यास करना बहुत जरूरी है। इसके साथ ही सीएम साय ने कहा योग सिर्फ स्वस्थ जीवन के लिए ही नहीं, स्वस्थ समाज के निर्माण के लिए भी बहुत जरूरी है।

हैल्दी लाइफस्टाइल से जोड़ता है योग

सीएम साय ने अपने संबोधन में कहा कि योग हम सभी को प्राचीन परंपरा की हेल्दी लाइफस्टाइल से जोड़ती है। योग आयोग के जरिए प्रदेश में ज्यादा से ज्यादा लोगों को योग से जोड़ने के लिए सरकार काम करेगी। इसके साथ ही सीएम साय ने योग का अर्थ समझाते हुए कहा कि योग का अर्थ होता है जोड़ना। योग हमारे मन और दिमाग को आपस में जोड़ता है। योग हमें आध्यात्मिकता और उच्च जीवन मूल्यों से भी जोड़ने का काम करती है। सीएम साय ने कहा कि एक स्वस्थ व्यक्ति से ही समाज का निर्माण होता है। योग केवल स्वस्थ जीवन के लिए ही नहीं, बल्कि स्वस्थ समाज के निर्माण के लिए भी बहुत जरूरी है। योग के महत्व को आज पूरी दुनिया समझ रही है और अपना रही है।

यह भी पढ़ें: बृजमोहन अग्रवाल ने छोड़ा शिक्षा मंत्री पद, कैबिनेट बैठक में CM साय को सौंपा इस्‍तीफा

विद्यार्थियों को सीएम साय का खास संदेश

इस दौरान सीएम साय ने कार्यक्रम में शामिल हुए विद्यार्थियों को खास संदेश देते हुए कहा कि बच्चों को सभी तरह के योग करने चाहिए और इन्हें अपनी दिनचर्या का हिस्सा बनाना चाहिए। सिर्फ योग को अपने डेली रूटीन में शामिल करने से ही आपका विद्यार्थी-जीवन संवर जाएगा। योग करने से एकाग्रता आती है और याददाश्त बढ़ती है। विद्यार्थी-जीवन में आपको इन दोनों चीजों की बहुत जरुरत पड़ती, अगर आप योग करेंगे तो इससे आपको बहुत लाभ मिलेगा। योग आपके काम करने की क्षमता को बढ़ा देता है। साथ ही आपको तनाव को दूर रखता है। जब हम सकारात्मक रहते हुए प्रसन्न भाव से काम करते हैं तो इसका सकारात्मक प्रभाव हमारी कार्यक्षमता में पड़ता है और हमारी छवि अच्छी बनती है।

First published on: Jun 21, 2024 02:10 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें