Tuesday, 27 February, 2024

---विज्ञापन---

हिमाचल समेत पहाड़ी राज्यों में बर्फबारी का आनंद उठाने पहुंच रहे पर्यटक, जानें उत्तर भारत के लिए IMD की भविष्यवाणी

Snowfall In Hill States: भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने अगले कुछ घंटों में कई उत्तरी राज्यों में शीत लहर की चेतावनी दी है, वहीं हिमाचल प्रदेश के मनाली, जम्मू-कश्मीर समेत उत्तराखंड के कुछ इलाकों में ताजा बर्फबारी ने पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करना शुरू कर दिया है। शिमला समेत प्रदेश के अन्य इलाकों […]

Edited By : Om Pratap | Updated: Jan 14, 2023 11:27
Share :
fresh snowfall

Snowfall In Hill States: भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने अगले कुछ घंटों में कई उत्तरी राज्यों में शीत लहर की चेतावनी दी है, वहीं हिमाचल प्रदेश के मनाली, जम्मू-कश्मीर समेत उत्तराखंड के कुछ इलाकों में ताजा बर्फबारी ने पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करना शुरू कर दिया है।

शिमला समेत प्रदेश के अन्य इलाकों में हल्की बर्फबारी के बाद पहाड़ों की रानी और होटलों में ठहरने वालों की संख्या 10-15 प्रतिशत तक बढ़ गई है। हालांकि, बर्फबारी के बाद बारिश और ओले गिरे और पर्यटकों और निवासियों की खुशी कुछ ही मिनटों तक रही।

fresh snowfall

कुल्लू में कोठी में 14 सेमी, खदराला और शिलारो में 10 सेमी और 7.5 सेमी, कोकसर में 6 सेमी, मनाली, ठियोग, निचार, भरमौर में 5 सेमी जबकि कुफरी, कल्पा और गोंडला में 4 सेमी हिमपात हुआ। राजधानी शहर में जाखू पहाड़ी बर्फ की पतली परत से ढकी हुई थी लेकिन रुक-रुक कर हो रही बारिश से बर्फ बह गई।

शिमला, कांगड़ा, कुल्लू, चंबा, किन्नौर, और लाहौल और स्पीति जिलों के अलग-अलग हिस्सों में हल्की बर्फबारी देखी जा रही है। निचले पहाड़ी इलाकों में कई स्थानों पर रुक-रुक कर बारिश हुई। पर्यटन उद्योग को उम्मीद है कि सप्ताहांत में बर्फबारी से पर्यटकों की भीड़ बढ़ेगी।

मनाली में मौसम का पहला हिमपात हुआ

जैसे ही मनाली में मौसम की पहली बर्फबारी हुई, पर्यटकों को मध्यरात्रि में आनंद लेते देखा गया। मनाली में शुक्रवार रात 4 सेमी से अधिक बर्फबारी हुई और मनाली में तापमान 0 डिग्री सेल्सियस से नीचे चला गया।

मौसम विभाग ने अगले तीन दिनों तक हिमाचल प्रदेश में छिटपुट बर्फबारी और बारिश की संभावना जताई है। राज्य के विभिन्न हिस्सों में बर्फबारी से करीब 200 संपर्क मार्ग अवरुद्ध हो गए हैं। कुछ इलाकों में ब्लैकआउट का भी सामना करना पड़ा क्योंकि अधिकारियों ने बिजली कटौती का सहारा लिया।

आज से पर्यटकों की भीड़ बढ़ने की उम्मीद

टूरिज्म इंडस्ट्री स्टेकहोल्डर्स एसोसिएशन ने कहा कि शुक्रवार को होटलों में लगभग 50 प्रतिशत लोग थे। शनिवार से भीड़ बढ़ने की उम्मीद है।

स्थानीय मौसम विज्ञान केंद्र ने 14 जनवरी को मध्य और ऊंची पहाड़ियों में अलग-अलग क्षेत्रों में हल्की बारिश और हिमपात की भविष्यवाणी की है और 14 जनवरी से 18 जनवरी तक क्षेत्र में कम पहाड़ी और शुष्क मौसम में बारिश की भविष्यवाणी की है। इसके साथ ही 14 से 17 जनवरी तक निचली पहाड़ियों में घने कोहरे और शीत लहरों की भी चेतावनी दी।

जम्मू-कश्मीर में हिमस्खलन की चेतावनी

पूरे कश्मीर में शुक्रवार को हुई भारी बर्फबारी के कारण घाटी में ताजा शीत लहर चल पड़ी है। हालांकि शनिवार से मौसम में सुधार होने की संभावना है, लेकिन शीतलहर से राहत नहीं मिलेगी। मौसम विभाग ने कश्मीर के पहाड़ी इलाकों में हिमस्खलन की चेतावनी जारी की है।

हरियाणा सरकार ने स्कूलों में छुट्टी की सीमा बढ़ी

हरियाणा सरकार ने ठंड के मौसम की मौजूदा स्थिति को देखते हुए शुक्रवार को राज्य के सभी स्कूलों में शीतकालीन अवकाश 21 जनवरी तक बढ़ा दिया है।

हरियाणा के स्कूल शिक्षा निदेशालय द्वारा जारी एक नोटिस के अनुसार, सर्दियों की छुट्टियां बढ़ाए जाने के बाद से सभी सरकारी और निजी स्कूल 21 जनवरी तक बंद रहेंगे। पहले 16 जनवरी को खुलने वाले स्कूल अब 23 जनवरी यानी सोमवार को खुलेंगे।

हालांकि, नोटिस में कहा गया है कि 10वीं और 12वीं कक्षा के छात्रों के लिए कक्षाएं चलती रहेंगी, जिन्हें अपनी बोर्ड परीक्षाओं में शामिल होना है।

दिल्ली को मिली एक दिन की राहत

शनिवार को राष्ट्रीय राजधानी में आसमान में आंशिक रूप से बादल छाए रहे जबकि शुक्रवार को अधिकतम तापमान सामान्य से एक डिग्री अधिक 21.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

IMD ने शनिवार को आसमान में आंशिक रूप से बादल छाए रहने और सुबह मध्यम कोहरा छाए रहने का पूर्वानुमान जताया था। अधिकतम और न्यूनतम तापमान क्रमश: 20 और 8 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने का अनुमान है।

शुक्रवार को न्यूनतम तापमान सामान्य से दो डिग्री अधिक 9.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मौसम कार्यालय ने कहा कि रविवार से दिल्ली और उसके आसपास शीतलहर की एक ताजा लहर चलने की संभावना है। शीत लहर से पारा तीन से पांच डिग्री सेल्सियस तक गिरेगा।

पूर्वी उत्तर प्रदेश और बिहार में घना कोहरा जारी

पश्चिमी विक्षोभ के कारण तेज़ सतही हवाओं ने पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में कोहरे की स्थिति में उल्लेखनीय सुधार किया है। हालांकि, पूर्वी उत्तर प्रदेश और बिहार में घना से बहुत घना कोहरा जारी है।

IMD के अनुसार, उत्तरी राजस्थान के कुछ हिस्सों में 14-17 जनवरी, हिमाचल प्रदेश में 15 से 17 जनवरी, पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ में 16-18 जनवरी, उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश में 17 से 18 जनवरी तक गंभीर शीत लहर की स्थिति की संभावना है। साथ ही पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश और बिहार में घने से बहुत घने कोहरे के जारी रहने की भी भविष्यवाणी की है।

First published on: Jan 14, 2023 11:27 AM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें