Sunday, December 4, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

Ankita Murder Case: ‘गरीब हूं, पर दस हजार के लिए खुद को नहीं बेचूंगी’, अंकिता की आखिरी चैट में सामने आईं ये बातें

Ankita Murder Case: अंकिता की आखिरी चैट सामने आई है, जिससे पता चलता है कि उन्हें अपने स्वाभिमान बचाने के लिए कितना जूझना पड़ रहा था।

देहरादून: उत्तराखंड के एक रिजॉर्ट में काम करने वाली अंकिता भंडारी की हत्या (Ankita Murder Case) के बाद पूरे उत्तराखंड में नाराजगी का माहौल है। अंकिता भाजपा नेता विनोद आर्य के बेटे पुलकित आर्य के रिजॉर्ट में कार्यरत थीं। खबरों के मुताबिक पुलकित अंकिता पर अनैतिक काम का दवाब बना रहा था, जिसके लिए अंकिता ने मना कर दिया। नतीजतन पुलकित ने अपने दो साथियों के साथ मिलकर अंकिता की हत्या कर दी। अंकिता का शव चिल्ला नदी से बरामद किया जा चुका है।

अभी पढ़ें – Ankita Murder Case: अंकिता भंडारी के पिता बोलेसरकार ने रिसॉर्ट तोड़ दिया, वहां तो सबूत थे

अब अंकिता की आखिरी चैट सामने आई है, जिससे पता चलता है कि उन्हें उस रिजॉर्ट में अपने स्वाभिमान बचाने के लिए कितना जूझना पड़ रहा था। रिपोर्ट्स के मुताबिक अंकिता ने अपने एक व्हाट्सएप चैट में कहा कि पुलकित आर्य के सहायक अंकित गुप्ता ने उन्हें होटल के मेहमानों को “अतिरिक्त सेवाएं” प्रदान करने के लिए मजबूर करने की कोशिश की थी।

उन्होंने कहा, “आज, अंकित मेरे पास आया और मुझसे कहा कि वह मुझसे कुछ बात करना चाहता है। मैं मान गई और अपने रिसेप्शन डेस्क के पास एक कोने में चली गई। वहां उसने मुझसे पूछा कि क्या मैं एक ऐसे मेहमान को ‘अतिरिक्त सेवाएं’ देने के लिए तैयार हूं जो 10,000 रुपये देने को तैयार है। मैंने स्पष्ट रूप से उससे कहा कि मैं गरीब हो सकती हूं, लेकिन मैं खुद को आपके रिसॉर्ट को 10,000 रुपये में नहीं बेचूंगी।”

उसी चैट में, अंकित भंडारी ने कहा: “मेरे जवाब के बाद, उसने फिर स्पष्ट करने की कोशिश की कि वह मुझसे ऐसा करने के लिए नहीं कह रहा था, बल्कि किसी ऐसी अन्य लड़की को सूचित करने के लिए कह रहा था जो इस काम को करने में इच्छुक हो। लेकिन मुझे पता है कि उसने उस ऑफर को केवल मेरे लिए ही कहा था, यह सोचकर कि मैं राशि जानने के बाद सहमत हो सकती हूं। ”

अभी पढ़ें – Ankita Murder Case: आरोपी पुलकित ने अंकिता के दोस्त को किया था गुमराह, सामने आई कॉल रिकॉर्डिंग

Ankita Murder Case: हम अब तक क्या जानते हैं?

  • पुलकित आर्य, रिसॉर्ट मैनेजर सौरभ भास्कर और सहायक प्रबंधक अंकित गुप्ता को शुक्रवार को गिरफ्तार किया गया था, जब उन्होंने अंकिता की हत्या करने (Ankita Murder Case) और उसके शव को चिल्ला नहर में फेंकने की बात कबूल की थी।
  • दोषियों ने पुलिस को सूचित किया है कि अंकिता की हत्या उसके साथ एक बहस होने के बाद की गई थी क्योंकि वह रिजॉर्ट मालिक और उसके मेहमानों के साथ यौन संबंध बनाने की मांग से इनकार कर रही थी।
  • 18 सितंबर को पुलकित आर्य, उसका दोस्त अंकित गुप्ता और रिजॉर्ट मैनेजर सौरभ भास्कर इस मुद्दे को सुलझाने के लिए अंकिता को बातचीत के लिए बाहर ले गए। वे अंकिता के साथ बाइक से ऋषिकेश गए।
  • वहां, पुलकित और अंकिता इस मामले को लेकर बहस करने लगे, पुलकित इस बात से नाराज हो गया कि उसने दूसरों को उसकी इस मांग के बारे में बताया था। इस बात को लेकर दोनों के बीच मारपीट हो गई और इस लड़ाई के दौरान अंकिता ने पुलकित का फोन नदी में फेंक दिया। इस बात से नाराज पुलकित ने उसे नदी में धकेल दिया, जिससे संभवत: उसकी मौत हो गई।
  • राज्य आपदा प्रतिक्रिया बल (एसडीआरएफ) ने पुष्टि की कि अंकिता भंडारी का शव शनिवार की तड़के उत्तराखंड के ऋषिकेश में चिल्ला नहर से बरामद किया गया था। उत्तराखंड पुलिस ने कहा कि रिसॉर्ट के मेहमानों के साथ वेश्यावृत्ति में लिप्त होने से इनकार करने पर आर्य और रिसॉर्ट के दो अन्य कर्मचारियों द्वारा भंडारी की हत्या कर दी गई।
  • पुलिस ने आगे पुष्टि की कि गिरफ्तार किए गए तीनों ने सख्ती से पूछताछ करने पर अपना अपराध कबूल कर लिया।
  • शव बरामद होने के बाद, स्थानीय लोगों ने ऋषिकेश में भाजपा नेता विनोद आर्य के बेटे पुलकित आर्य के स्वामित्व वाले वनतारा रिसॉर्ट में आग लगा दी।
  • भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने अंकिता भंडारी की हत्या के मामले में मुख्य आरोपी पुलकित आर्य के पिता विनोद आर्य और भाई अंकित आर्य को निष्कासित कर दिया है।

अभी पढ़ें –  देश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

Click Here – News 24 APP अभी download करें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -