Wednesday, 17 April, 2024

---विज्ञापन---

8 हार, 242 केस, बीफ विवाद; फिर भी राहुल गांधी के खिलाफ BJP ने रण में उतारा; कौन हैं के सुरेंद्रन?

Wayanad Kerala BJP Candidate K. Surendran: केरल से वायनाड से कांग्रेस नेता राहुल गांधी के खिलाफ भाजपा के के सुरेंद्रन चुनाव लड़ रहे हैं। उनके बारे में सबसे दिलचस्प बात यह है कि वे आज तक 8 चुनाव लड़ चुके हैं और आठों हार गए, फिर भी भाजपा ने उन पर भरोसा जताया है।

Edited By : Khushbu Goyal | Updated: Apr 3, 2024 15:24
Share :
Wayanad Kerala BJP Candidate K. Surendran
Wayanad Kerala BJP Candidate K. Surendran

Wayanad Kerala BJP Candidate K. Surendran: कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने आज केरल के वायनाड से लोकसभा चुनाव 2024 का नामांकन भरा है। इसके साथ ही उन्होंने वायनाड में चुनाव प्रचार अभियान भी शुरू किया। वहीं चुनावी रण में भारतीय जनता पार्टी ने राहुल गांधी के खिलाफ केरल से अपने प्रदेश अध्यक्ष के सुरेंद्रन को उतारा है।

भाजपा ने अपनी 5वीं लिस्ट में उनके नाम का ऐलान किया था। इसके अलावा CPI की एनी राजा भी राहुल गांधी को वायनाड के चुनावी रण में टक्कर देने के लिए उतरी हैं, लेकिन कांटे की टक्कर भाजपा और कांग्रेस के बीच ही होगी। राहुल गांधी को तो पूरा देश और दुनियाभर के लोग जानते हैं, आइए भाजपा उम्मीवार के सुरेंद्रन के बारे में भी जान लेते हैं…

यह भी पढ़ें: क्‍या अमेठी में स्‍मृत‍ि ईरानी को टक्‍कर देने को कांग्रेस नहीं ढूंढ पा रही उम्‍मीदवार?

सुरेंद्रन के खिलाफ 200 से ज्यादा केस

चुनाव आयोग को दिए गए रिकॉर्ड के अनुसार, के सुरेंद्रन के खिलाफ करीब 242 आपराधिक केस दर्ज हैं। इन 242 में से भी 237 केस सिर्फ सबरीमाला विवाद से जुड़ हैं। 5 केस अन्य मामलों में दर्ज हुए हैं।

गिरफ्तार हो चुके सुरेंद्रन, जेल में भी रहे

के सुरेंद्रन सबरीमाला विवाद में गिरफ्तार हो चुके हैं। उन्होंने करीब एक महीना जेल में बिताया था। उन्हें सबरीमाला के निलक्कल से गिरफ्तार किया गया था। वे सबरीमाला आंदोलन का केंद्र बिंदु थे।

यह भी पढ़ें:‘घर घर गारंटी अभियान’ की शुरुआत, 8 करोड़ परिवारों को मिलेगा कांग्रेस का गारंटी कार्ड

सुरेंद्रन के बीफ विवाद ने बटोरी थीं सुर्खियां

मई 2017 में सुरेंद्रन ने मवेशियों की बिक्री पर केंद्र सरकार के प्रतिबंध का विरोध किया था। उन्होंने अपने फेसबुक पर बाजार में फुटपाथ पर कटी हुई गायों की एक पुरानी तस्वीर पोस्ट करके विवाद खड़ा किया था। उन्होंने इस फोटो को केरल में होने वाले गोमांस उत्सव से जोड़ा था।

अक्टूबर 2015 में सुरेंद्रन की खाना खाते हुए एक तस्वीर फेसबुक पर वायरल हुई थी। इस फोटो को कैप्शन दिया गया था- केरल के भाजपा नेता गोमांस खा रहे हैं। फोटो वायरल होने पर सुरेंद्रन ने स्पष्टीकरण दिया था कि यह केवल प्याज की सब्जी थी। उन्होंने अपने जीवन में कभी गोमांस नहीं खाया।

यह भी पढ़ें:सपा के पॉलिटिकल फैमिली ट्री में नए चेहरे की एंट्री, पुत्रमोह में कहीं हो ना जाए टांय-टांय फिस्स!

सुरेंद्रन से जुड़े अन्य विवाद

भाजपा उम्मीदवार सुरेंद्रन पर 2021 में बसपा कैंडिडेट को उम्मीदवार छोड़ने के लिए धमकाने और रिश्वत ऑफर करने का आरोप लगा था। कोरोना काल में लॉकडाउन के दिनों में जब सरकार ने सफर करने पर प्रतिबंधन लगाया था, तब भी सुरेंद्र ने कोझिकोड में अपने घर से तिरुवनंतपुरण का सफर किया था। इस पर काफी विवाद हुआ था।

सुरेंद्रन ने एक बार बयान दिया था कि दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन के प्रधान सलाहकार ई. श्रीधरन को विधानसभा चुनाव में पार्टी का मुख्यमंत्री उम्मीदवार बनाया जाएगा और बाद में वे अपने इस बयान से पलट गए थे। वह केरल में मई 2021 के विधानसभा चुनाव के बाद कथित हवाला मामले में शामिल थे और भाजपा हाईकमान ने 3 सदस्यीय जांच कमेटी भी गठित की थी।

यह भी पढ़ें:राहुल गांधी ने वायनाड से दाखिल किया नामांकन, समर्थन में उमड़ी भारी भीड़

8 बार चुनाव लड़े और आठों हारे

के सुरेंद्रन के बारे में सबसे दिलचस्प बात यह है कि उन्होंने अपने राजनीतिक करियर में 8 बार चुनाव लड़ा और आठों बार चुनाव हारे। वे 3 लोकसभा और 5 विधानसभा चुनाव हार चुके हैं। इसके बावजूद भाजपा ने उन पर भरोसा जताकर उन्हें चौथी बार वायनाड से लोकसभा चुनाव उम्मीदवार बनाया है। वे केरल के उत्तरी इलाके में काफी लोकप्रिय नेता है। उन्हें 2020 में भाजपा ने केरल में प्रदेश अध्यक्ष बनाया था।

यह भी पढ़ें: 1 रुपये के 10 हजार सिक्के, नॉमिनेशन भरने आया कैंडिडेट, गिनने में छूटे पसीने, देखें वीडियो में अनोखा नामांकन

First published on: Apr 03, 2024 03:11 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें