---विज्ञापन---

क्या आपके WhatsApp पर भी आ रहे विकसित भारत के मैसेज? चुनाव आयोग ने IT मंत्रालय पर बरती सख्ती

Viksit Bharat WhatsApp Message: चुनाव आयोग ने व्हाट्सएप पर भेजे जा रहे 'विकसित भारत' के मैसेज को तुरंत रोकने के लिए सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय को आदेश दिया है। आयोग ने इसे आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन बताया है।

Edited By : Achyut Kumar | Updated: Mar 21, 2024 14:40
Share :
Viksit Bharat whatsapp message rajiv kumar
चुनाव आयोग ने WhatsApp पर Viksit Bharat के Message को रोकने का आईटी मंत्रालय को दिया आदेश

Viksit Bharat WhatsApp Message: चुनाव आयोग ने व्हाट्सएप पर भेजे जा रहे विकसित भारत के मैसेज को तुरंत रोकने के लिए सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय को आदेश दिया है। आयोग ने कहा कि लोकसभा चुनाव 2024 की तारीखों के ऐलान के बाद देश में आदर्श आचार संहिता लागू हो गई है। ऐसे में इस तरह के मैसेज को नहीं भेजा जा सकता।

WhatsApp पर लोगों से मांगे गए सुझाव 

दरअसल, प्रधानमंत्री ‘विकसित भारत संपर्क’ से व्हाट्सएप पर लोगों को मैसेज भेजे जा रहे हैं। इस मैसेज के जरिए लोगों से केंद्र सरकार के कामकाज को लेकर फीडबैक और सुझाव मांगे गए हैं। कांग्रेस की केरल इकाई ने इसे लेकर मेटा से शिकायत की है। कांग्रेस ने पीएम मोदी पर सरकारी डेटाबेस और व्हाट्सएप का गलत उपयोग करने का आरोप लगाया है।

व्हाट्सएप मैसेज में क्या कहा गया?

व्हाट्सएप पर पीएम मोदी के लेटर के साथ भेजे जा रहे मैसेज में कहा गया है कि यह पत्र पीएम मोदी के नेतृत्व वाली भारत सरकार के विकसित भारत संपर्क केंद्र द्वारा भेजा गया है। पिछले 10 सालों में भारत सरकार की योजनाओं का सीधा लाभ देश के 140 करोड़ से ज्यादा नागरिकों को मिला है, जो आगे भी मिलता रहेगा। मैसेज में आगे कहा गया है कि विकसित भारत के संकल्प को पूरा करने के लिए आपका सहयोग और सुझाव बहुत महत्वपूर्ण है। इसलिए आपसे अनुरोध है कि योजनाओं को लेकर अपने विचार अवश्य लिखें।

यह भी पढ़ें: PM Modi ने किया Rahul Gandhi पर पलटवार, कहा- 4 जून को होगा मुकाबला

पीएम मोदी का ‘परिवारजन’ के नाम पत्र

व्हाट्सएप मैसेज में पीएम मोदी का ‘परिवारजन’ के नाम लिखा पत्र भी भेजा रहा है। इस पत्र में प्रधानमंत्री कहते हैं कि आपका और हमारा साथ अब एक दशक पूरा करने जा रहा है। मेरे 140 करोड़ परिवारजनों के साथ विश्वास, सहयोग और समर्थन से जुड़ा यह मजबूत रिश्ता मेरे लिए कितना विशेष है, इसे शब्दों में व्यक्त कर पाना कठिन है।

यह भी पढ़ें: यहां वोट मांगना या मतदान करना..मतलब ‘मौत के कुएं’ में कार चलाना!

‘बड़े फैसले लेने से हम चूके नहीं’

पीएम मोदी ने अपनी सरकार की योजनाओं का जिक्र करते हुए कहते हैं कि यह आपका विश्वास और समर्थन ही था कि जीएसटी लागू करना, धारा 370 समाप्त करना , तीन तलाक पर नया कानून, संसद में महिलाओं के लिए नारी शक्ति वंदन अधिनियम , नए संसद भवन का निर्माण, आतंकवाद और नक्सलवाद पर कठोर प्रहार जैसे अनेक ऐतिहासिक और बड़े फैसले लेने से हम चूके नहीं।

‘यह मोदी की गारंटी है’

प्रधानमंत्री ने पत्र के आखिर में कहा कि विकसित भारत के निर्माण में जिस संकल्प के साथ देश आगे बढ़ रहा है, उसको पूरा करने के लिए मुझे आपके विचारों, सुझावों, साथ और सहयोग की जरूरत है। मुझे विश्वास है कि आपका आशीर्वाद और समर्थन हमें निरंतर मिलता रहेगा। उन्होंने कहा कि राष्ट्र निर्माम के लिए हमारे प्रयास बिना थके, बिना रुके लगातार जारी रहेंगे, यह मोदी की गारंटी है।

यह भी पढ़ें: BJP ने चुनाव आयोग से क्यों की राहुल गांधी की शिकायत?

First published on: Mar 21, 2024 01:59 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें