Wednesday, 24 April, 2024

---विज्ञापन---

कौन हैं BRS नेता के. कविता, CBI ने भेजा समन, दिल्ली शराब घोटाले में क्या है कनेक्शन?

BRS Leader K Kavitha Delhi Liquor Policy Case: बीआरएस की नेता के. कविता को सीबीआई की ओर से समन जारी किया गया है। उन्हें दिल्ली शराब नीति घोटाले में पूछताछ के लिए शामिल होने के लिए कहा गया है। के. कविता से पहले भी पूछताछ की जा चुकी है। इस केस से उनका क्या कनेक्शन है, इस खबर में जानेंगे...

Edited By : Pushpendra Sharma | Updated: Feb 21, 2024 22:54
Share :
BRS Leader K Kavitha
BRS Leader K Kavitha

BRS Leader K Kavitha Delhi Liquor Policy Case: केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) की ओर से भारत राष्ट्र समिति (BRS) नेता के. कविता को समन जारी किया गया है। इस समन के जरिए उन्हें दिल्ली शराब नीति घोटाले की जांच के सिलसिले में 26 फरवरी को पेश होने के लिए कहा गया है। कविता से पहले भी पूछताछ हो चुकी है। आइए जानते हैं कि बीआरएस की नेता के. कविता कौन हैं और उनका दिल्ली शराब नीति घोटाले से क्या कनेक्शन है…

कौन हैं बीआरएस नेता के. कविता?

के. कविता का पूरा नाम कल्वाकुंतला कविता है। वह तेलंगाना के पूर्व मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव की बेटी हैं। उनसे भ्रष्टाचार निरोधक एजेंसी पहले भी पूछताछ कर चुकी है। कविता से आखिरी बार दिसंबर 2022 में पूछताछ की गई थी।

के कविता वर्तमान में 2020 से निजामाबाद से विधान परिषद सदस्य यानी एमएलसी हैं। इसके साथ ही वह 2014 से 2019 तक निजामाबाद लोकसभा सीट से सांसद रह चुकी हैं। मनी लॉन्ड्रिंग मामले की जांच कर रहे प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने उनसे मार्च 2023 में पूछताछ की थी।

दिल्ली शराब नीति घोटाले से क्या है कनेक्शन? 

केंद्रीय एजेंसी शराब नीति को प्रभावित करने में उनकी भूमिका की जांच कर रही है। कविता पर आरोप है कि वे आम आदमी पार्टी (AAP) के तत्कालीन कम्यूनिकेशन प्रभारी विजय नायर के संपर्क में थीं। विजय कथित तौर पर शराब उद्योग के व्यापारियों और राजनेताओं से मिल रहे थे।

केंद्रीय जांच एजेंसियों का दावा है कि दिल्ली के व्यवसायी समीर महेंद्रू ने उत्पाद शुल्क नीति के तहत दिल्ली में कई रिटेल जोन का नियंत्रण हासिल कर लिया। ये भी आरोप लगा कि एक साउथ ग्रुप द्वारा AAP नेताओं को 100 करोड़ रुपये की रिश्वत दी गई। कविता इस ग्रुप की सदस्य थीं।

गोवा विधानसभा चुनाव में इस्तेमाल किया गया पैसा

साउथ के इस ग्रुप में के कविता और महेंद्रू के अलावा वाईएसआर कांग्रेस सांसद मगुंटा श्रीनिवासुलु रेड्डी, उनके बेटे राघव मगुंटा और अरबिंदो ग्रुप के प्रमोटर सरथ रेड्डी शामिल हैं। ईडी ने इस 100 करोड़ की रिश्वत का इस्तेमाल गोवा विधानसभा चुनाव में AAP के प्रचार अभियान में भी इस्तेमाल करने का दावा किया है।

के. कविता ने आरोपों से किया इनकार 

पिछले दिनों ईडी ने इस मामले में हैदराबाद के कारोबारी अरुण पिल्लई को गिरफ्तार किया था। बताया जाता है कि अरुण जिस कंपनी के लिए काम करता है, उसमें कविता की 65 प्रतिशत हिस्सेदारी है। पिछले साल मार्च में भी उनसे पूछताछ की गई थी। हालांकि उन्होंने सभी आरोपों से इनकार किया था।

ये भी पढ़ें: महाराष्ट्र से लेकर दिल्ली तक छापेमारी, 3500 करोड़ रुपये के ड्रग्स जब्त

First published on: Feb 21, 2024 10:54 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें