Wednesday, 28 February, 2024

---विज्ञापन---

तेलंगाना में सियासी जमीन को बचाने में लगे असदुद्दीन ओवैसी, कांग्रेस की अल्पसंख्यक घोषणा पर बोले- ‘नाम बदलकर RSS अन्ना कर लो’

saduddin Owaisi target Congress for minority announcement: ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने तेलंगाना में कांग्रेस की 'अल्पसंख्यक घोषणा' पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि कांग्रेस सदन का नाम बदल RSS अन्ना कर दिया जाना चाहिए।

Edited By : Hemendra Tripathi | Updated: Nov 12, 2023 07:42
Share :
Asaduddin Owaisi Statement On Ram Mandir
AIMIM के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने राम मंदिर को लेकर बड़ा बयान दिया है।

Asaduddin Owaisi target Congress for minority announcement: अपने विवादित और तीखे बयानों से हमेशा चर्चा में रहने वाले ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने शनिवार को कांग्रेस पर हमला बोला। उन्होंने तेलंगाना में कांग्रेस की ‘अल्पसंख्यक घोषणा’ पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि कांग्रेस सदन का नाम बदल RSS अन्ना कर दिया जाना चाहिए। AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी के इस बयान के बाद चुनावी राज्यों के राजनीतिक गलियारों में हलचल तेज हो गई है।

 

‘हमारे क्षेत्र को उजाड़ना चाहता है RSS से आया व्यक्ति’

ओवैसी ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि उन्होंने घोषणा की है कि वे हैदराबाद में एक नया शहर बनाएंगे और हैदराबाद घोषणापत्र बनाएंगे, मेरे पास पूरा है। आगे कहा कि मुझे विश्वास है कि आरएसएस से आया हुआ व्यक्ति हमारे इस क्षेत्र को उजाड़ना चाहता है, तोड़-फोड़ करना चाहता है। आपको बताते चलें कि तेलंगाना में चुनाव से पहले कांग्रेस पार्टी ने ‘अल्पसंख्यक घोषणा’ की घोषणा करते हुए कसम खाई कि कांग्रेस पार्टी राज्य में अल्पसंख्यकों के वित्तीय उत्थान और सशक्तिकरण के लिए काम करेगी।

 

कांग्रेस ने अल्पसंख्यकों के कल्याण के लिए किए कई चुनावी वादे

आपको जानकारी के लिए बता दें कि अपने घोषणा पत्र में कांग्रेस ने सत्ता संभालने के पहले छह महीनों के अंदर जाति जनगणना कराने का वादा किया है। इसके साथ ही घोषणा पत्र में अल्पसंख्यकों के कल्याण के लिए बजट को 4,000 करोड़ रुपये तक बढ़ाने की अपनी प्रतिबद्धता को भी रेखांकित किया। इसके अलावा विशेष तौर पर मुसलमानों के लिए एक समर्पित ‘उप-योजना’ का भी वादा किया गया है।

 

ये भी पढ़े: ब्रह्मकुमारी के नाम पर धोखाधड़ी के बाद कई बहनों ने की आत्महत्या! 4 पन्ने के सुसाइड नोट ने खोले ‘गंदे दरवाजे’

 

मुस्लिम, ईसाई और सिख युवाओं की पढ़ाई के लिए कांग्रेस ने की बड़ी घोषणा

आगामी 30 नवंबर को तेलंगाना विधानसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने अपने घोषणा पत्र में कहा कि बेरोजगार अल्पसंख्यक युवाओं और महिलाओं के लिए सब्सिडी वाले ऋण प्रदान करने के लिए हर साल 1,000 करोड़ रुपये आवंटित किए जाएंगे। इतना ही नहीं, कांग्रेस पार्टी ने ‘तेलंगाना सिख अल्पसंख्यक वित्त निगम’ का भी वादा किया, जिसमें उनकी ओर से कहा गया है कि वह अब्दुल कलाम तौफा-ए-तालीम’ योजना के तहत एमफिल और पीएचडी पूरा करने पर मुस्लिम, ईसाई और सिख युवाओं को 5 लाख रुपये की स्कॉलरशिप प्रदान करेगी।

ये भी पढ़े:  दो बहनें…4 पन्नों का सुसाइड नोट और एक गुहार, ‘योगी जी, आसाराम की तरह इन लोगों को सजा देना’

 

धर्म के आधार पर आरक्षण नहीं देगी भाजपा

कांग्रेस के इन चुनावी वादों के अलावा भाजपा ने भी इससे इतर अपने चुनावी घोषणाओं में बिगुल फूंक दिया है। भाजपा ने तेलंगाना में निर्वाचित होने पर मुसलमानों के लिए आरक्षण वापस लेने के साथ-साथ पिछड़े वर्गों के सदस्यों को कोटा का लाभ देने वादा किया है। आपको बता दें कि की समय पहले एक सार्वजनिक बैठक को संबोधित करते हुए भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष जी कृष्ण रेड्डी ने एक चुनावी ऐलान करते हुए कहा था कि हम धर्म के आधार पर दिए जा रहे 4 प्रतिशत आरक्षण को उलटने के साथ ही इसे एससी, एसटी और ओबीसी लोगों को लाभ देने का वादा करते हैं। 90 नवंबर को चुनाव संपन्न होने के बाद तेलंगाना विधानसभा के लिए वोटों की गिनती 3 दिसंबर को होनी है। वहीं, तेलंगाना में आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा, सत्तारूढ़ भारत राष्ट्र समिति और कांग्रेस के बीच त्रिकोणीय मुकाबला देखने को मिलने वाला है।

 

First published on: Nov 12, 2023 07:41 AM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें