---विज्ञापन---

कैल्शियम की कमी से शरीर पर क्या-क्या असर हो सकता है?

Calcium Deficiency Effect On Body: अगर शरीर में कैल्शियम की कमी आती है, तो इससे कई तरह की समस्याएं पैदा हो सकती हैं। कैल्शियम कम होने के संकेत दिखने लगते हैं, आइए जान लेते हैं क्या-क्या परेशानी का सामना करना पड़ सकता है?

Edited By : Deepti Sharma | Jun 22, 2024 06:30
Share :
calcium deficiency
Image Credit: Freepik

Calcium Deficiency Effect On Body: हमारी बॉडी को कई तरह के प्रोटीन विटामिन की जरूरत होती है और इनमें कैल्शियम बहुत जरूरी है। जब धीरे-धीरे उम्र बढ़ने लगती है, तो इसकी कमी होने लगती है। क्योंकि ये हड्डी, दांत, मसल्स और नर्वस सिस्टम से जुड़ा होता है। ये आपके मसल्स मूवमेंट से लेकर नर्व्स के द्वारा दिमाग और शरीर के अन्य ऑर्गन के बीच मैसेज देने में हेल्प करता है।

शरीर में कई काम ऐसे हैं कि इसकी कमी के चलते बहुत दिक्कत होती है। कैल्शियम की कमी का शरीर पर कई नेगेटिव प्रभाव पड़ सकते हैं। यह कमी शॉर्ट टर्म और लॉन्ग टर्म समस्याओं का कारण बन सकती है। ये हैं कैल्शियम की कमी के कुछ प्रमुख असर..

हड्डियों और दांतों पर असर

ऑस्टियोपोरोसिस- हड्डियों की डेंसिटी कम हो जाती है, जिससे वे कमजोर हो जाती हैं।
ऑस्टियोमलेशिया- एडल्ट में हड्डियों का मुलायम होना, जो दर्द और हड्डियों के टूटने का कारण बनता है।
रिकेट्स- बच्चों में हड्डियों का डीस्टोर्ड होना, जिससे वे कमजोर और मुड़ सकती हैं। दांतों का कमजोर होना और उनमें कैविटी होना।

मांसपेशियों पर असर

मांसपेशियों में ऐंठन और खिंचाव। मांसपेशियों की कमजोरी और थकान।

नर्वस सिस्टम पर असर

नर्व से जुड़ी समस्याएं जैसे सुन्नता और झुनझुनी। चिड़चिड़ापन और मूड स्विंग होना शामिल है।

दिल पर असर

दिल की धड़कन में अनियमितता (एरिथमिया)।
हाई ब्लड प्रेशर (हाइपरटेंशन)।

अन्य प्रभाव क्या होते हैं

त्वचा में सूखापन और खुजली।
नाखूनों का कमजोर और टूटना।
बालों का झड़ना और कमजोर होना।

हार्मोनल इंबैलेंस

पैराथायराइड हार्मोन के लेवल में बढ़ोतरी होना, जो हड्डियों से कैल्शियम को रिलीज कर सकती है और हड्डियों को और कमजोर कर सकती है।

खून के थक्के जमने में समस्या

खून का जमाव धीमा हो सकता है, जिससे चोट लगने पर अधिक खून बहने का खतरा बढ़ जाता है।

कैल्शियम की कमी को दूर करने के लिए कैल्शियम युक्त डाइट जैसे दूध, पनीर, दही, हरी पत्तेदार सब्जियां, नट्स, और सप्लीमेंट्स का सेवन करना जरूरी है।

ये भी पढ़ें-  कम पानी पीने से किडनी स्टोन का खतरा कितना ज्यादा? किन बातों का रखें ख्याल

Disclaimer: ऊपर दी गई जानकारी पर अमल करने से पहले डॉक्टर की राय अवश्य ले लें। News24 की ओर से कोई जानकारी का दावा नहीं किया जा रहा है। 

First published on: Jun 22, 2024 06:30 AM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें