Wednesday, November 30, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

Ankita Murder Case: परिवार वालों ने रोका अंकिता का अंतिम संस्कार, कहा- हमें चाहिए पोस्टमार्टम की फाइनल रिपोर्ट

एसआईटी प्रभारी डीआईजी पीआर देवी ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया कि उन्होंने रिसॉर्ट के हर कर्मचारी को थाने बुलाया है। सबके बयान लिए जाएंगे।

Ankita Murder Case: उत्तराखंड (Uttarakhand) के ऋषिकेश (Risikesh) में रिसॉर्ट की रिसेप्शनिस्ट अंकिता भंडारी (Ankita Bhandari) के शव की प्रारंभिक पोस्टमार्टम रिपोर्ट (Post-mortem Report) आ चुकी है। रिपोर्ट में अंकिता की मौत का कारण पानी में डूबना आया है। रिपोर्ट में आया भी है कि अंकिता को मौत से उसे किसी भारी वस्तु से भी पीटा गया था। इसके बाद परिवार वालों ने अंकिता के शव का अंतिम संस्कार करने से इनकार कर दिया है। अंकिता के भाई और पिता ने कहा है कि उन्हें पोस्टमार्टम की फाइनल रिपोर्ट का इंतजार है।

अभी आई है प्रारंभिक पोस्टमार्टम रिपोर्ट

समाचार एजेंसियों के मुताबिक, अंकिता के पिता वीरेंद्र सिंह भंडारी ने कहा है कि मैं अस्थायी (प्रारंभिक) पोस्टमार्टम रिपोर्ट से संतुष्ट नहीं हूं। उन्होंने कहा कि अंतिम विस्तृत रिपोर्ट मिलने तक अंकिता के शव का अंतिम संस्कार नहीं किया जाएगा। वहीं अंकिता के भाई अजय सिंह भंडारी ने कहा है कि जब तक उसकी अंतिम पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट नहीं दी जाती, हम अंतिम संस्कार नहीं करेंगे। हमने उसकी प्रोविजनल रिपोर्ट में देखा कि उसे पीटा गया और नदी में फेंक दिया गया, लेकिन हम अंतिम रिपोर्ट का इंतजार कर रहे हैं।

एम्स ऋषिकेश में हुआ अंकिता का पोस्टमार्टम

बता दें कि 23 सितंबर को चिल्ला नहर से अंकिता भंडारी का शव बरामद हुआ था। वह ऋषिकेश के वनंतरा रिसॉर्ट में रिसेप्शन पर काम करती थी। शव मिलने से करीब 6 दिन पहले वह अचानक लापता हो गई थी। पुलिस ने एम्स ऋषिकेश में अंकिता के शव का पोस्टमार्टम कराया था। इसके बाद शनिवार को शव परिवार वालों के हवाले कर दिया गया था। अंकिता की हत्या के मामले में लक्ष्मण झुला पुलिस ने रिसॉर्ट के मालिक पुलकित आर्य समेत मैनेजर सौरभ भाष्कर और पुलकित गुप्ता को गिरफ्तार कर लिया है। उत्तराखंड में अंकिता की मौत के बाद सनसनी फैल गई है।

एसआईटी ने रिसॉर्ट के स्टाफ को पूछताछ के लिए बुलाया

वहीं अंकिता भंडारी हत्याकांड की जांच के लिए गठित एसआईटी टीम की प्रभारी डीआईजी पीआर देवी ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया कि उन्होंने रिसॉर्ट के हर कर्मचारी को थाने बुलाया है। सबके बयान लिए जाएंगे। उन्होंने बताया कि हम रिसॉर्ट की पृष्ठभूमि का पूरा विश्लेषण कर रहे हैं। साथ ही अंकिता भंडारी की व्हाट्सएप चैट की भी जांच की जा रही है। बता दें कि उत्तराखंड शासन की ओर से मामले की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया गया है। इसकी प्रभारी डीआईजी पीआर देवी को बनाया गया है।

 

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -