Wednesday, September 28, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

Lakhimpur Kheri Case: अब आरोपियों के परिवार वाले भी आए सामने, बताया-बेटे तो यहां थे

उन्होंने बताया कि उनके बेटे बाजार में राशन लेने के लिए गए थे। परिवार वालों का कहना है कि यदि उनके बेटों ने वारदात की होती तो वह लौटकर घरों के लिए नहीं आते, बल्कि फरार हो जाते।

Lakhimpur Kheri Case: उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में दो सगी बहनों की दुष्कर्म के बाद हत्या के मामले में एक नया मोड़ आ रहा है। पुलिस ने इस मामले में जिन छह आरोपियों को पकड़ा है, उनमें से चार के परिवार वालों ने दावा किया है कि उनके बेटे घटना स्थल पर नहीं थे। उन्होंने बताया कि उनके बेटे बाजार में राशन लेने के लिए गए थे। परिवार वालों का कहना है कि यदि उनके बेटों ने वारदात की होती तो वह लौटकर घरों के लिए नहीं आते, बल्कि फरार हो जाते। बता दें कि लखीमपुर खीरी के एसपी ने भी इस बात को कहा था कि लड़कियों का अपहरण नहीं हुआ है। वह अपनी मर्जी से लड़कों के साथ गई थीं, लेकिन रेप और हत्या की उन्होंने पुष्टि की थी।

अभी पढ़ें Weather Forecast: अगले 48 घंटे तक इन राज्यों में होगी भारी बारिश, जानें- मौसम विभाग का ताजा अलर्ट

पुलिस ने छह आरोपियों को गिरफ्तार किया है

लखीमपुर खीरी के एसपी संजीव सुमन ने घटना के बारे में बताया कि अलग-अलग तरह से वारदात में शामिल कुल 6 आरोपी गिरफ्तार किए जा चुके हैं। सभी आरोपी दोनों बहनों को पहले से जानते थे। इनकी पहचान छोटू, जुनैद, सोहेल, हाफिजुल, करीमुद्दीन और आरिफ के रूप में हुई है। आरोपी जुनैद को पुलिस ने मुठभेड़ में पकड़ा गया है, इस दौरान उसके पैर में गोली लगी है।

पीड़ित मां ने कहा, गेट से दोनों को उठाकर ले गए

समाचार एजेंसी एएनआई को दोनों लड़कियों के पिता ने पूरी घटना के बारे में बचाया। उन्होंने कहा कि आरोपी मेरी बेटियों को घर से उठाकर ले गए थे। उन्होंने कहा कि एक आरोपी घर में घुसा था। इसके बाद दीवार फलांद कर भाग गया। पिता ने रुंधी आवाज में कहा कि आरोपी मेरी बेटियों को उठाकर ले गए थे। इसके बाद उनके साथ वारदात की। मुझे इंसाफ चाहिए। सभी आरोपियों को फांसी की सजा दी जाए। वहीं दोनों लड़कियों की मां ने भी कहा था घर के गेट से आरोपी दोनों लड़कियों को बाइक पर उठाकर ले गए थे। इसके बाद उनकी दुष्कर्म के बाद हत्या कर दी गई।

अभी पढ़ें SCO Summit 2022: एससीओ समिट आज, PM मोदी समेत कई देशों के राष्ट्राध्यक्ष पहुंचे समरकंद

पुलिस ने कहा, अपहरण के साक्ष्य नहीं मिले

एसपी ने बताया कि आरोपी लड़कियों के दोस्त थे। सोहेल और जुनैद ने लड़कियों को खेतों में ले जाकर बलात्कार किया। सामने आया है कि जबरन शादी के लिए मजबूर करने का विरोध करने पर सोहेल, हाफिजुल और जुनैद ने गला घोंटकर उनकी हत्या कर दी। करीमुद्दीन और आरिफ को बुलाया और सबूत मिटाने के लिए लड़कियों को फांसी पर लटका दिया।

अभी पढ़ें –  देश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

Click Here – News 24 APP अभी download करें

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -