Wednesday, February 8, 2023
- विज्ञापन -

Latest Posts

Sharechat Layoffs 2022: ट्विटर, फेसबुक के बाद अब शेयरचैट ने की कर्मचारियों की छंटनी, जानें कितने लोगों को निकाला

Sharechat Layoffs 2022: ट्विटर और फेसबुक की तरह भारतीय सोशल मीडिया कंपनी शेयरचैट (ShareChat) ने भी अब अपने कर्मचारियों की छंटनी कर दी है।

Sharechat Layoffs 2022: ट्विटर और फेसबुक की तरह भारतीय सोशल मीडिया कंपनी शेयरचैट (ShareChat) ने भी अब अपने कर्मचारियों की छंटनी कर दी है। शेयरचैट ने अपने कर्मचारियों की करीब 5 प्रतिशत छंटनी की है। कंपनी ने पुष्टि की कि उसने अपने फैंटेसी स्पोर्ट्स प्लेटफॉर्म Jeet11 को बंद कर दिया है।

शेयरचैट के जीत11 ने ड्रीम11 और एमपीएल (MPL) यानी मोबाइल प्रीमियर लीग (Mobile Premier League) जैसे अन्य फैंटेसी स्पोर्ट्स प्लेटफॉर्म को टक्कर दी। शेयरचैट को ट्विटर, गूगल, स्नैप और टाइगर ग्लोबल का समर्थन प्राप्त है। कंपनी में करीब 2300 कर्मचारी हैं।

शेयरचैट के प्रवक्ता ने आईएएनएस से कहा कि एक स्टैंडर्ड बिजनेस प्रैक्टिस के तौर पर वो समय-समय पर अपनी स्ट्रैटेजिस का मूल्यांकन करते हैं। उन्होंने पुष्टि की कि वो Jeet11 के संचालन को बंद कर रहे हैं और उन्होंने अपने कुछ कार्यों को पुनर्गठित किया है, जिसका अर्थ है कि कंपनी ने अपनी टीम में कुछ टैलेंटों को शामिल किया तो कुछ कर्मचारियों का बाहर का रास्ता भी दिखाया है।

Meta ने फेसबुक और इंस्टाग्राम से हटाए करोड़ों कंटेंट! यहां जानें पूरी जानकारी

प्रवक्ता ने आगे कहा कि “इस प्रक्रिया ने उनके 5 फीसदी से कम कर्मचारियों को प्रभावित किया है।” इस प्रक्रिया के तहत 2300 कर्मचारियों में से 100 से अधिक कर्मचारियों पर छंटनी का असर पड़ा है।

शेयरचैट जीवन के सभी क्षेत्रों के यूजर्स के बीच लोकप्रिय है। यह कई भारतीय भाषाओं को सपोर्ट करता है, जिससे ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों के लिए भी इस ऐप को आसानी से एक्सेस करना आसान हो जाता है। ShareChat, ShareChat, Moj और Moj Lite+ जैसे अनुप्रयोगों की मूल कंपनी है। भारत से TikTok को उखाड़ फेंकने के बाद Moj को लॉन्च किया गया था। जो कि भारत में एक लोकप्रिय शॉर्ट वीडियो प्लेटफॉर्म है।

वर्तमान में ShareChat के 400 मिलियन से ज्यादा यूजर्स भारत में हैं जो करीब-करीब व्हाट्सएप के बराबर है, जिसके भारत में समान संख्या में यूजर हैं। ऐप के 180 मिलियन से ज्यादा मंथली एक्टीव यूजर्स हैं, जबकि Moj के देश में लगभग 300 मिलियन यूजर्स हैं।

कंपनी के प्रवक्ता ने एजेंसी को बताया कि “हम अपनी योजनाओं के अनुसार विभिन्न कार्यों और भूमिकाओं में मजबूत विकास और काम पर रखने पर ध्यान केंद्रित करना जारी रखते हैं। भारत की सबसे तेजी से बढ़ती सोशल मीडिया कंपनी के रूप में सफल होने के लिए हम अपनी रणनीति का नियमित रूप से आकलन करते हैं और अपनी दृष्टि को प्राप्त करने के लिए जरूरी बदलाव करते हैं।”

यह भी पढ़ें: Heat Lamp: सर्दियों में हीटर नहीं ‘इंफ्रारेड लैंप’ का करें यूज, बिजली का बिल आधा आएगा, गर्मी भी होगी ज्यादा

घरेलू सोशल मीडिया ऐप की स्थापना 2015 में अंकुश सचदेवा, भानु प्रताप सिंह और फरीद अहसन ने की थी। ऐप को शुरू में एक कंटेंट शेयरिंग प्लेटफॉर्म के रूप में जारी किया गया था, जिसने यूजर्स को अपनी सामग्री बनाने के लिए बहुत कम गुंजाइश दी थी। हालाँकि, 2016 में, ऐप ने अपने प्लेटफ़ॉर्म पर यूजर-जनित सामग्री निर्माण को सक्षम किया, जिससे यूजर्स को अपने खुद के पोस्टर और रचनात्मक कंटेंट साझा करने की अनुमति मिली।

जहां तक ​​इसकी फंडिंग का संबंध है, कंपनी ने Google, द टाइम्स ग्रुप और मौजूदा निवेशकों से $255 मिलियन जुटाए। शेयरचैट का मौजूदा मूल्यांकन 5 अरब डॉलर है।

और पढ़िए – गैजेट्स से जुड़ी अन्य बड़ी ख़बरें यहाँ  पढ़ें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -