Saturday, 20 April, 2024

---विज्ञापन---

सप्ताह में सिर्फ 3 दिन करना होगा काम, AI को लेकर बिल गेट्स ने दिया गजब का सुझाव

Bill Gates on AI: बिल गेट्स ने कहा, जीवन का मकसद सिर्फ नौकरी करना नहीं है। अगर आपको एक ऐसा समाज मिलता है जहां सप्ताह में केवल तीन दिन काम करना पड़ता है, तो यह शायद ठीक है।

Edited By : Shubham Singh | Updated: Nov 23, 2023 19:39
Share :

Microsoft co-founder Bill Gates on artificial intelligence: इनफोसिस के को फाउंडर नारायणमूर्ति के 70 घंटे काम करने वाले बयान को लेकर छिड़ी बहस अभी शांत भी नहीं हुयी है। बहस इस बात को लेकर भी है कि क्या टेक्नालॉजी मनुष्य की जगह ले सकती है। सप्ताह के कार्य दिवस को लेकर भी बहस जारी है। इसपर लोग तरह-तरह से अपनी राय दे रहे हैं। इस बीच इस माइक्रोसाफ्ट के सह संस्थापक और दुनिया के सबसे अमीर लोगों में से एक बिल गेट्स इस बहस में कूद पड़े हैं। उन्होंने इसे लेकर बड़ा बयान दिया है। यह बयान आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस यानी एआई को लेकर है। बिलगेट्स का कहना है कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से लोगों की नौकरियां नहीं जाएंगी बल्कि उनके काम करने का समय इससे कम हो जाएगा।

बिल गेट्स एक ऐसे भविष्य की कल्पना की है जहां टेक्नालॉजी इंसानों की जगह नहीं ले पाएगी, बल्कि इससे सप्ताह में तीन दिन काम करने के चलन की शुरुआत हो सकती है। बिल गेट्स ने यह बात कॉमेडियन ट्रेवर नोआ के व्हाट नाउ पोडकॉस्ट पर बातचीत के दौरान कही। बता दें कि बिल गेट्स एआई के समर्थक रहे हैं। 45 मिनट तक चली बातचीत में उन्होंने एआई के कई पहलुओं का जिक्र करते हुए अपने विचार साझा किए। उन्होंने कहा कि ऐसी संभावना है कि समाज इसे अपना लेगा।

ये भी पढ़ें-Rajasthan Election 2023: राजेश पायलट के नाम से खेला गया पैंतरा चुनावी दंगल में किसका करेगा मंगल? समझिए गुर्जर वोटों का समीकरण

जीवन का मकसद सिर्फ नौकरी करना नहीं-गेट्स

बिल गेट्स ने टेक्नोलॉजी और काम पर अपने विचार शेयर किए। नौकरियों पर एआई के खतरे के बारे में जब उनसे पूछा गया तो उन्होंने इसे लेकर आशावादी नजरिया दिखाया। उन्होंने आशा व्यक्त की कि यह श्रम को अधिक रचनात्मक कार्यों के लिए मुक्त कर देगा। गेट्स ने कहा कि जीवन का मकसद सिर्फ नौकरी करना नहीं है। इसलिए अगर आपको एक ऐसा समाज मिलता है जहां सप्ताह में केवल तीन दिन या कुछ और काम करना पड़ता है, तो यह शायद ठीक है।

एआई नौकरियां नहीं खाएगा-बिल गेट्स

गेट्स ने ऐसे भविष्य की कल्पना की जहां जरूरी काम मशीनों से होंगे। इससे इंसानों को काम करने की जरूरत कम होगी। गेट्स ने कहा कि एआई नौकरियां नहीं खाएगा बल्कि इसे हमेशा के लिए बदल देगा। इससे लोगों के पास अधिक समय होगा। उन्होंने कहा कि अगर आप मानव श्रम को मुक्त कर देते हैं तो आप छोटे वर्ग के लोगों की बेहतर मदद कर सकते हैं। उन्होंने सुझाव दिया कि अगर तकनीक की प्रगति उचित गति के साथ आगे बढ़े और सरकार बदलाव अपनाने वालों का समर्थन करे तो यह पॉजिटिव हो सकता है।

ये भी पढ़ें-ODI World Cup 2023: भारत की हार पर ममता बनर्जी के बयान से भड़क जाएगी बीजेपी? कहा-पापियों ने…

First published on: Nov 23, 2023 07:37 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें