Thursday, December 1, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

सावधान! Google पर चल रहा है Holidays Scam, बचने के लिए जान लें ये 5 बातें

Google Holidays Scam Alert: गूगल की ओर से यूजर्स को छुट्टियों से जुड़े स्कैम को लेकर सावधान किया है। आइए जानते हैं कि कैसे धोखेबाज लोगों को अपना शिकार बना रहे हैं।

Google Holidays Scam Alert: छुट्टियों का मौसम एक ऐसा समय होता है जब लोग खरीदारी की बिक्री, यात्रा पर छूट आदि की तलाश में रहते हैं। इसलिए यह सभी धोखेबाजों के लिए अपने अगले शिकार पर नजर रखने के लिए बैठने का मौसम बना रहा है।

Google कुछ प्रमुख घोटालों पर यूजर्स को सचेत (Google Holidays Scam Alert) कर रहा है जो लोगों को वर्ष के इस समय के दौरान देखने को मिलते हैं।कंपनी ने यूजर्स को गिफ्ट कार्ड और सस्ता धोखाधड़ी, दान संबंधी घोटाले, जनसांख्यिकीय लक्ष्यीकरण घोटाले, सदस्यता नवीनीकरण धोखाधड़ी और क्रिप्टो घोटाले से बचने की सलाह दी।

अभी पढ़ें pTron Bassbuds Nyx भारत में लॉन्च, अभी खरीदने पर मिल रही है इतनी छूट

  1. छुट्टियों के चरम मौसम के दौरान गिफ्ट कार्ड और गिफ्ट देने संबंधी धोखाधड़ी आम बात है। स्कैमर्स एक मान्यता प्राप्त संपर्क होने का नाटक करके या अपने क्रेडिट कार्ड नंबर के बदले में मुफ्त उपहार देकर पीड़ितों को उपहार कार्ड खरीदने के लिए मूर्ख बनाने की कोशिश कर सकते हैं।
  2. इन दिनों क्रिप्टो संबंधित धोखाधड़ी भी काफी चर्चित है। इसमें फ्रॉड पीड़ित को धमकी देकर या पैसों का लालच देकर पैसे निकालने की कोशिश करते हैं।
  3. धर्मार्थ से जुड़े घोटाले भी देखे जा रहे हैं, जिसमें फ्रॉडस्टर घोटाले या फिशिंग की कोशिश करते हुए धोखाधड़ी करते हैं। दान करने वालों को अपना शिकार बना लेते हैं।
  4. कंपनी ने कहा कि पहचान-आधारित दुर्भावनापूर्ण ईमेल पर नज़र रखें, जो स्थानीय अभिभावक-शिक्षक संघ (पीटीए) बोर्ड के सदस्यों का प्रतिरूपण कर सकते हैं या फेक ईमेल के साथ कुछ आयु समूहों को लक्षित कर सकते हैं।
  5. बढ़ी हुई सुरक्षा के वादे के साथ पीड़ितों को आकर्षित करने के प्रयास में सदस्यता नवीनीकरण से जुड़े घोटाले फेक एंटीवायरस सेवाएं बना सकते हैं।

अभी पढ़ें Best Recharge Plan: सिर्फ 395 रुपये में पाएं 84 दिन तक अनलिमिटेड कॉलिंग, डाटा समेत कई बेनिफिट्स, जानें पूरी जानकारी

कंपनी ने एक ब्लॉगपोस्ट में कहा कि टेक दिग्गज एक दिन में लगभग 15 बिलियन अवांछित संदेशों से यूजर्स की सुरक्षा करती है और 99.9 प्रतिशत से अधिक स्पैम, फ़िशिंग और मैलवेयर को ब्लॉक करती है।

भले ही कुछ स्कैमर अपने संदेशों को विश्वसनीय बनाने में अत्यधिक कुशल होते हैं, यूजर्स को हमेशा प्रेषक के ईमेल की जांच करनी चाहिए। अगर कुछ गलत लगता है, तो वो फेक हो सकता है।

अभी पढ़ें  गैजेट्स से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -