---विज्ञापन---

कोलकाता के नन्हे श्लोक को Google ने दिए 24 लाख रुपए, कारण जान हैरान हो जाएंगे

Google Doodle: देश और दुनिया में खास अवसरों पर गूगल अपने सर्च पेज पर उस अवसर के लिए खास तौर पर तैयार किया गया डूडल दिखाता है। आज चिल्ड्रन्स डे के अवसर पर भी गूगल देश में एक खास डूडल दिखा रहा है। इस डूडल को कोलकाता में रहने वाले एक नन्हे बच्चे ने डिजाईन […]

Edited By : Sunil Sharma | Updated: Nov 14, 2022 16:34
Share :
Google Doodle, Shloka google doodle, shloka painting,

Google Doodle: देश और दुनिया में खास अवसरों पर गूगल अपने सर्च पेज पर उस अवसर के लिए खास तौर पर तैयार किया गया डूडल दिखाता है। आज चिल्ड्रन्स डे के अवसर पर भी गूगल देश में एक खास डूडल दिखा रहा है। इस डूडल को कोलकाता में रहने वाले एक नन्हे बच्चे ने डिजाईन किया है। यही नहीं, इस डूडल के लिए श्लोक को 24 लाख रुपए का अवॉर्ड भी दिया गया है। श्लोक कोलकाता के न्यू टाउन स्थित दिल्ली पब्लिक स्कूल में स्टूडेंट है।

Doogle for Google कॉम्पीटिशन में लिया था भाग

दुनिया का सबसे बड़ा सर्च इंजन हर वर्ष Doogle for Google प्रतियोगिता आयोजित करता है। इसमें बच्चों को अपनी क्रिएटिविटी दिखाते हुए डुडल्स बनाने होते हैं। इस वर्ष की प्रतियोगिता में भारत में करीब एक लाख पन्द्रह हजार बच्चों ने भाग लिया था। बेस्ट डूडल्स सलेक्ट करने के लिए ऑनलाइन वोटिंग भी करवाई गई थी जिसमें श्लोक की पेंटिंग ने सबसे ज्यादा वोट अर्जित किए।

यह भी पढ़ेंः देश के पहले सबसे सस्ते 5G स्मार्टफोन की बाजार में धूम, कीमत 10,000 से भी कम, दमदार बैटरी, शानदार कैमरा

श्लोक के अलावा इन बच्चों ने भी Google Doodle बनाकर जीता अवॉर्ड

गूगल द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार अलग-अलग ग्रुप बनाकर बच्चों से एंट्री मांगी गई थी। इसमें श्लोक ग्रुप 3-4 में विजेता चुना गया। ग्रुप 1-2 में विशाखापत्तनम की कनाकला श्रीनिका, ग्रुप 5-6 में गुरुग्राम की दिव्यांशी सिंघल, ग्रुप 7-8 में रांची की पिहू कच्छप और ग्रुप 9-10 में विशाखापत्तनम की ही पुप्पला इंदिरा जाह्नवी ने अवॉर्ड जीता है।

इस विषय पर बनाया था श्लोक ने गूगल डूडल

गूगल की इस प्रतियोगिता का विषय था “अगले 25 साल में मेरा भारत कैसा होगा?” इसी के तहत श्लोक ने अपनी पेंटिंग बनाते हुए प्रकृति और विज्ञान के बीच संतुलन बनाते हुए मानव के विकास की कल्पना की गई थी। श्लोक ने अपने डूडल में प्राचीन भारतीय योग के साथ-साथ रोबोट्स को भी शामिल किया। श्लोक ने लिखा, “अगले 24 साल में, मेरे भारत के वैज्ञानिक मानवता के विकास के लिए खुद का इको-फ्रेंडली रोबोट बनाएंगे। भारत पृथ्वी से अंतरिक्ष के बीच यात्राएं करेगा। भारत योग और आयुर्वेद के क्षेत्र में विकसित होगा और आने वाले वर्षों में और भी मजबूत होता जाएगा।”

First published on: Nov 14, 2022 04:32 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें