Monday, January 30, 2023
- विज्ञापन -

Latest Posts

Cyber ​​Security Tips: साइबर सुरक्षा है बेहद जरूरी! बचाव के लिए अपनाएं ये कुछ तरीके

Cyber ​​Security Tips: वीसर्व इन्फोसिस्टम्स के नॉर्थ बिजनस हेड नीरज ओझा ने साइबर सुरक्षा पर कई तरह की जानकारी दी और बचाव के तरीके बताए।

Cyber ​​Security: साइबर क्राइम का मामला है कि थमने का नाम नहीं ले रहा है। इसे लेकर अलग-अलग सुझाव और बचाव के तरीके साइबर सेल द्वारा जारी किए जाते हैं। ऑनलाइन में बढ़ती भीड़ के साथ साइबर क्राइम बढ़ता जा रहा है। ऐसे में वीसर्व इन्फोसिस्टम्स के नॉर्थ बिजनस हेड नीरज ओझा (Neeraj Ojha) का कहना है कि लोगों को पैसों से ज्यादा जरूरी अपने साइबर सुरक्षा करनी चाहिए। आइए जानते हैं कि नीरज ओझा ने पत्रकारों से बातचीत करने के दौरान क्या-क्या कहा।

इंटरनेट पर उपलब्ध हैं कई डाटा

आज यानी 04 दिसंबर, रविवार को वीसर्व इन्फोसिस्टम्स के नॉर्थ बिजनस हेड नीरज ओझा ने पत्रकारों से बातचीत की। इस दौरान उन्होंने कहा कि 21वीं सदी में हर काम इंटरनेट के जरिए हो रहे हैं। बैंक से लेकर व्यवसाय तक के सभी डाटा इंटरनेट पर होता है और हमारा सम्पूर्ण डेटा इंटरनेट में होता है।

Sharechat Layoffs 2022: ट्विटर, फेसबुक के बाद अब शेयरचैट ने की कर्मचारियों की छंटनी, जानें कितने लोगों को निकाला

साइबर सुरक्षा की होनी चाहिए विशेष जानकारी

इसलिए हमें अपने डेटा को सुरक्षित रखने के लिए साइबर सुरक्षा के विषय पर खास जानकारी होनी चाहिए। साथ ही बचाव के तरीकों का भी पता होना चाहिए। पिछले दिनों हुए कुछ मामले जैसे- दिल्ली एम्स, गूगल, सैमसंग और अन्य हेल्थकेअर, मैनुफेक्चुरिंग इंडस्ट्री, फिंटेक इंडस्ट्री आदि साइबर हमले दरसाते हैं कि साइबर सुरक्षा एक व्यक्ति से लेकर बड़ी-बड़ी संस्थाओं के लिए कितना जरूरी हो गया है।

आज के इस समय में अनेक हैकर्स डेटा चोरी करके लोगों को लूट रहे हैं। यहां तक कि बैंक अकाउंट समेत कंपनियों के डाटा को भी हैक कर लिया जाता है। ऐसे में कंपनियों से करोड़ो-अरबों रुपये तक की मांग भी की जाती है। इसे लेकर किसी तरह की लापरवाही सही नहीं है, ये एक चिंता का विषय है। इसलिए इसे सुक्षित रखने के लिए हमें साइबर सुरक्षा को और ज्यादा बढ़ाना होगा। दिनों-दिन अपराध बढ़ते जा रहे है। इसे रोकने के लिए हमें सतर्क रहना होगा।

साइबर सुरक्षा से ही होगी डेटा की सुरक्षा

  • साइबर सुरक्षा के लिए ऑफलाइन या ऑनलाइन तरीका अपनाया जा सकता है।
  • भारत सरकार ने साइबर सुरक्षा के लिए सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम 2000 को लागू किया है।
  • समय-समय पर अपने अकाउंट का पासवर्ड बदलते रहना चाहिए।
  • स्पैम ईमेल, हैकिंग, फिशिंग, वायरस, रैनसमवेयर आदि के जरिए साइबर अपराध का अनजाम दिया जा सकता है।
  • अपने पुराने अकाउंट को डिलीट कर दें, जिसका इस्तेमाल नहीं करते हैं।
  • बीच-बीच में कंपनी के नेटवर्क का साइबर आडिट करना चाहिए।
  • किसी भी अकाउंट का पासवर्ड और अपना फोन किसी अनजान को ना दें।

सिर्फ 621 रुपए में घर ले जाएं नया Redmi 11 Prime 5G, यहां पढ़ें फीचर्स और ऑफर की डिटेल्स

सुरक्षा के लिए कई सोफ्टवेयर उपलब्ध

सुरक्षा हमलों में हमारा देश पांचवे नंबर पर आता है। इससे बचाव के लिए कई डिवाइस हार्डवेयर और साफ्टवेयर उपलब्ध हैं। अगर आप साइबर सुरक्षा करना चाहते हैं तो इनका इस्तेमाल कर सकते हैं। डाटा सुरक्षा (Data Security) एक ऐसी प्रक्रिया जिसमें डिजिटल डाटा (कंप्यूटर द्वारा तैयार की गई जानकारी) शामिल है।

साइबर सुरक्षा की कई सुविधा उपलब्ध

  • डाटा सुरक्षा (Data Security)
  • मोबाइल सुरक्षा (Mobile Security)
  • जानकारी सुरक्षा (Information Security)
  • नेटवर्क सुरक्षा (Network Security)
  • अप्लीकेशन सुरक्षा (Application Security)
  • यूजर सुरक्षा (User Security)
  • आपातकालीन सुरक्षा (Emergency Security)
  • क्लाउड सुरक्षा (Cloud Security)

वीसर्व इन्फोसिस्टम्स के नॉर्थ बिजनस हेड नीरज ओझा ने कहा कि सम्पूर्ण डेटा को अगर हैक कर लिया जाए तो पीछे कुछ भी ही नहीं बचाता है। आज के समय में रुपयों से ज्यादा साइबर की सुरक्षा जरूरी है, क्योंकि पैसों को वापस प्राप्त किया जा सकता है। हालांकि, अगर किसी का डेटा चुरा लिया जाए तो उसे वापस प्राप्त नहीं किया जा सकता है। उसे हैकर्स अपने वस में कर लेता है और जो भी मिलता है उसे हालिस कर लेता है।

और पढ़िए – गैजेट्स से जुड़ी अन्य बड़ी ख़बरें यहाँ  पढ़ें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -