---विज्ञापन---

Shukra Surya Yuti: 5 राशियों को लाभ, जानें कालपुरुष कुंडली के 10वें भाव और वृषभ राशि में ‘शुक्र-सूर्य युति’ का असर

Shukra Surya Yuti: 14 मई को सूर्य ने वृषभ राशि में प्रवेश कर लिया है, वहीं 19 मई से शुक्र भी इसी राशि में विराजेंगे। इन दोनों महत्वपूर्ण ग्रहों के युति की चाल का असर 5 राशियों पर सबसे अधिक पड़ने की संभावना है। आइए जानते हैं, ये राशियां कौन-सी हैं और इन पर क्या असर होगा?

Edited By : Shyam Nandan | Updated: May 16, 2024 18:06
Share :
शुक्र और सूर्य की युति का राशियों पर असर

Shukra Surya Yuti: सूर्य का राशि परिवर्तन 14 मई को हो चुका है, वे वृषभ राशि में प्रवेश कर चुके हैं। वहीं, 19 मई को शुक्र भी गोचर कर वृषभ में जाएंगे, जो उनकी अपनी राशि है। शुक्र और सूर्य की युति से शुक्रादित्य योग बनता है। लेकिन क्या 19 मई से कालपुरुष कुंडली के दशम भाव (घर), जो कि एक केंद्र भाव है और शुभ माना गया है, में वृषभ राशि में हुई शुक्र-सूर्य युति का असर सभी राशियों पर एक समान पड़ेगा? नहीं, ऐसा नहीं है। शुक्र और सूर्य की युति असर यूं तो जीवन के सभी क्षेत्र और सभी 12 राशियों पर पड़ेगा, लेकिन 5 राशियां इससे सबसे ज्यादा प्रभावित होंगी।

शुक्र-सूर्य युति का राशियों पर असर

सूर्य आत्मा, सम्मान, अधिकार और जीवन के उद्देश्य के कारक ग्रह हैं, वहीं शुक्र रिश्ते-नाते, प्रेम, विलासिता और सुंदरता का प्रतिनिधित्व करते हैं। दशम भाव में वृषभ राशि में इन दोनों के होने से इन पहलुओं पर अधिक असर होगा। इन दोनों ग्रहों की युति का सम्मिलित रूप से मेष, वृषभ, सिंह, वृश्चिक और धनु पर सबसे अधिक प्रभाव पड़ने की संभावना है।

मेष राशि

शुक्र-सूर्य युति के असर से मेष राशि के जातक धन लाभ की स्थिति में रहेंगे, लेकिन खर्च भी उसी अनुपात में रहेगा। लिहाजा सेविंग्स के उपायों की ओर ध्यान देना होगा। शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य उत्तम रहेगा और व्यक्तित्व में एक नई आभा आएगी। भौतिक सुख-साधनों में बढ़ोतरी होगी। बातचीत में विनम्रता रखने से कई समस्याएं सुलझने के योग हैं।

वृषभ राशि

वृषभ राशि के जातकों पर शुक्रादित्य योग का प्रभाव औसत से बेहतर होगा। रुके हुए काम में प्रगति हो सकती है। आमदनी बढ़ने घर में सुख-सुविधाओं में कमी नहीं होगी। धन की बचत होने के योग हैं, जो भविष्य के लिए योजनाएं बनाने के लिए प्रेरित करेगा। व्यवसायी वर्ग औसत से अधिक लाभ की आशा रख सकते हैं। उद्यमशीलता बढ़ने से आय के नए स्रोत बन सकते हैं। लेकिन, दशम भाव में शुक्र ‘कारको भाव नाशाय’ से ग्रसित होंगे, जो कि सामान्य फल ही दिलाएगा।

सिंह राशि

इन राशि के जातकों पर शुक्र-सूर्य युति की चाल का असर रोजगार, व्यापार नौकरी, राज-काज के काम और व्यक्तिगत रिश्तों पर अधिक होगा। नए रिश्ते बनेंगे, जो लाभकारी हो सकते हैं। पैतृक संपत्ति के विवाद शांत हो जाएंगे। वाणी पर नियंत्रण रखकर मुद्दे को सुलझा सकते हैं। पारिवारिक रिश्ते सामान्य रहेंगे, लेकिन आर्थिक सहयोग बढ़ेगा। छात्रों के करियर में प्रगति होगी।

वृश्चिक राशि

वृश्चिक राशि के जातकों शुक्र और सूर्य की युति का असर सबसे अधिक सकारात्मक रहने के योग बना रहा है, क्योंकि इन दोनों ग्रहों की दृष्टि इसी भाव पर है। ज्योतिष सिद्धांत के अनुसार, भाव (घर) में ग्रह की उपस्थिति से अच्छी किसी भाव पर उनकी दृष्टि मानी गई है। माता का सुख प्राप्त होगा। मातृधन से लाभान्वित होंगे। जमीन-जायदाद से अच्छी आमदनी होगी। मन शांत रहेगा।

ये भी पढ़ें: Numerology: इन 4 तारीखों में जन्मे लोग होते हैं जबरदस्त ‘मेमोरी पावर’ के धनी

धनु राशि

इस राशि के जातकों पर शुक्र-सूर्य युति की चाल का प्रभाव बढ़िया रहने के योग दर्शा रहा है। आध्यात्मिक विकास के नए रास्ते बनेंगे। तीर्थयात्रा के लिए योजना बन सकती है। धन के अभाव से मुक्ति मिलने के योग हैं। पड़ोसियों के साथ संबंध मधुर होंगे। लेन-देन के काम से बरकत होने के योग हैं। कर्ज मुक्ति के प्रयास सफल होंगे। किया हुआ निवेश लाभ दे सकता है। लंबी यात्रा में संभल कर रहने की आवश्यकता है।

ये भी पढ़ें: Lucky Mobile Wallpaper: मनी, करियर, हेल्थ… बनेगी हर बात, अपने मूलांक के अनुसार चुनें लकी वॉलपेपर

डिस्क्लेमर: यहां दी गई जानकारी ज्योतिषीय मान्यताओं पर आधारित है तथा केवल सूचना के लिए दी जा रही है। News24 इसकी पुष्टि नहीं करता है।

First published on: May 16, 2024 06:06 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें