Saturday, 24 February, 2024

---विज्ञापन---

आखिर क्यों फूट-फूट कर रोने लगे उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन, आंसू पोंछते तस्वीर आई सामने

North Korea Kim Jong Un: संयुक्त राष्ट्र यानी यूएन के मुताबिक उत्तर कोरिया में एक महिला से जन्म लेने वाले बच्चों की औसत संख्या 1.8 है।

Edited By : Shubham Singh | Updated: Dec 6, 2023 13:03
Share :

North Korea News: उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन इस समय बहुत परेशान हैं। अपनी परेशानी को लेकर वे इतने ज्यादा टेंशन में हैं कि अब समर्थन मांगने लगे हैं। आखिर क्या है इस तानाशाह के परेशानी की वजह। एक ऐसा तानाशाह जिसे अमेरिका जैसा शक्तिशाली देश भी टेंशन में नहीं डाल सका, वह क्यों रोने पर मजबूर हो गया। क्या है इस सनकी तानाशाह के रोने के पीछे की कहानी।

रिपोर्ट्स के मुताबिक तानाशाह किम जोंग अपने देश में घटती जनसंख्या को लेकर चिंतित हैं। जन्म दर में गिरावट उनके टेंशन की वजह बन गई है। उत्तर कोरिया के सबसे बड़े नेता किम जोंग महिलाओं से ज्यादा बच्चे पैदा करने की अपील करने के बाद रोने लगे। उनकी एक तस्वीर सामने आई है जिसमें वे रोने के बाद रुमाल से अपने आंसू पोंछते हुए दिखाई दे रहे हैं।

ये भी पढ़ें-एक साल में भारत में किन वजहों से हुईं ज्यादा हत्याएं, दिल दहलाने वाले आंकड़े

बता दें कि संयुक्त राष्ट्र यानी यूएन के मुताबिक उत्तर कोरिया में एक महिला से जन्म लेने वाले बच्चों की औसत संख्या 1.8 है। इस वजह से इस क्मयुनिष्ट देश में जन्म दर में गिरावट आई है।

महिलाओं को बताई समस्या

किम जोंग उन ने इसे लेकर महिलाओं को बुलाकर अपनी समस्या बताई। कहा कि जन्म दर में गिरावट को रोकना और बच्चों की अच्छी देखभाल करना हमारे सभी हाउसकीपिंग कर्तव्य हैं जिन्हें हमें माताओं के साथ काम करते समय संभालने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि सभी को जन्म दर में आई इस गिरावट को रोकने की कोशिश करनी चाहिए।

किम जोंग ने इसे चुनौती बताते हुए कहा कि इससे हर महिला को जूझना है। बता दें कि उत्तर कोरिया के आसपास के देशों में भी जन्म दर में गिरावट आई है। इसमें चीन, दक्षिण कोरिया और जापान प्रमुख हैं।

ये भी पढ़ें-तीन राज्यों में BJP की जीत के बाद विरोधी पार्टियां उठा रही EVM पर सवाल; मांग-बैलट पेपर से हों चुनाव

First published on: Dec 06, 2023 01:02 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें