Monday, November 28, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

Ankita Murder Case: अंकिता के पोस्टमार्टम की वीडियोग्राफी सुरक्षित, जांच की निगरानी के लिए भी बनी समिति

एसआईटी प्रभारी डीआईजी पी. रेणुका देवी ने कहा कि मामले में राजस्व अधिकारियों और कर्मचारियों से भी सघन पूछताछ की जा रही है।

Ankita Murder Case: उत्तराखंड (Uttarakhand) के अंकिता भंडारी हत्याकांड (Ankita Bhandari Murder Case) में गुरुवार को एसआईटी (SIT) की प्रभारी डीआईजी पीआर देवी (SIT in-charge, DIG P Renuka Devi) ने पोस्टमार्टम रिपोर्ट (Postmortem Report) के बारे में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि अंकिता के शव का पोस्टमार्टम डॉक्टरों के पैनल द्वारा कराया गया था। पूरी प्रक्रिया की वीडियोग्राफी कराई गई थी। कोर्ट की अनुमति लेकर कोई भी इसे देख सकता है। वहीं महिला ने भी जांच के लिए एक समिति का गठन किया है।

उत्तराखंड प्रशासन की कार्रवाई पर उठे थे सवाल

बता दें कि अंकिता हत्याकांड के बाद उत्तराखंड समेत पूरे देश में आक्रोश फैला था। पीड़ित परिवार वालों ने कार्रवाई पर आरोप लगाए थे। इसके बाद पुलिस ने एक-एक करके सभी आवश्यक तथ्यों को सार्वजनिक करना शुरू कर दिया, ताकि पीड़ित परिवार और उत्तराखंड के लोगों का सरकार व कानून व्यवस्था पर भरोसा बना रहे। इसी क्रम में गुरुवार को समाचार एजेंसी एएनआई के हवाले से मामले की जांच कर रही एसआईटी टीम की प्रभारी डीआईजी ने पोस्टमार्टम के दौरान हुई वीडियोग्राफी के बारे में जानकारी दी।

अभी पढ़ें –  Rajasthan: अलवर में नाबालिग से आठ युवकों ने किया गैंगरेप, ब्लैकमेल कर ऐंठे 50 हजार रूपये, मामला दर्ज

गवाहों से पूछताछ-साक्ष्यों का हो रहा अवलोकन

डीआईजी ने बताया कि आरोपियों की रिमांड प्रक्रिया चल रही है। अंकिता हत्याकांड से जुड़े सभी लोगों, गवाहों और संबंधित लोगों के बयान दर्ज कराए जा रहे हैं। साथ ही घटना के बाद जुटाए सभी साक्ष्यों का अवलोकन भी चल रहा है। डीआईजी ने लोगों से यह भी अपील की है कि अंकिता के पोस्टमार्टम से संबंधी कोई पोस्ट सोशल मीडिया पर पोस्ट न करें। इससे जांच प्रभावित हो सकती है।

अभी पढ़ें  Noida News: मेट्रो स्टेशन के पास कॉल सेंटर में लगी भीषण आग, 5 लोगों का रेस्क्यू, सामने आई बड़ी वजह

राजस्व अधिकारियों से हो रही है कड़ी पूछताछ

एसआईटी प्रभारी डीआईजी पी. रेणुका देवी ने कहा कि मामले में राजस्व अधिकारियों और कर्मचारियों से भी सघन पूछताछ की जा रही है। क्योंकि पीड़ित पिता अंकिता के लापता होने पर सबसे पहले राजस्व पुलिस के पास ही गए थे। वनंतरा रिजॉर्ट राजस्व पुलिस चौकी क्षेत्र के अंतर्गत ही आता है, इसलिए राजस्व पुलिस से जुड़े सभी लोगों से पूछताछ की जा रहा है।

जांच की निगरानी को महिला आयोग ने बनाई समिति

वहीं दूसरी ओर अंकिता भंडारी हत्याकांड की चल रही जांच की निगरानी और सभी पहलुओं पर नजर रखने के लिए उत्तराखंड राज्य महिला आयोग ने भी एक समिति गठित की है। आयोग की अध्यक्ष कुसुम कंडवाल ने कहा कि यह बेहद संवेदनशील मामला है, जिसमें तत्काल कार्रवाई की जरूरत है। मामले की चल रही जांच पर कड़ी नजर रखने के लिए आयोग द्वारा एक विशेष समिति का गठन किया गया है। उन्होंने कहा कि एसडीएम यमकेश्वर, पौड़ी के जिला कार्यक्रम अधिकारी और लक्ष्मण झूला थाना उप निरीक्षक की समिति जांच में प्रगति के बारे में आयोग को सूचित करती रहेगी।

अभी पढ़ें – प्रदेश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें  

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -