---विज्ञापन---

Kasganj: ‘बच्चा चोर’ के शक में फंसे 4 टेक्निशियन, पुलिस बचाती रही और भीड़ पीटती रही

कासगंजः उत्तर प्रदेश के कासगंज जिले में बच्चा चोरी की अफवाह चार लोगों भारी पड़ गई। मोबाइल टावर को ठीक करने के लिए पहुंचे चार टेक्निशियन को भीड़ ने घेर लिया। उन्हें बुरी तरह से पीटा। इतना ही नहीं भीड़ ने उनकी गाड़ी भी तोड़ दी। मौके पर पुलिस ने उन्हें बचाने का प्रयास किया, […]

Edited By : Naresh Chaudhary | Updated: Sep 8, 2022 20:16
Share :

कासगंजः उत्तर प्रदेश के कासगंज जिले में बच्चा चोरी की अफवाह चार लोगों भारी पड़ गई। मोबाइल टावर को ठीक करने के लिए पहुंचे चार टेक्निशियन को भीड़ ने घेर लिया। उन्हें बुरी तरह से पीटा। इतना ही नहीं भीड़ ने उनकी गाड़ी भी तोड़ दी। मौके पर पुलिस ने उन्हें बचाने का प्रयास किया, लेकिन भीड़ उन्हें पीटती रही। इसके बाद अतिरिक्त फोर्स बुलाकर चारों लोगों को बचाया गया। घटना से इलाके में सनसनी फैल गई है।

मोबाइल टावर ठीक करने के लिए पहुंचे थे चारों

जानकारी के मुताबिक कासगंज स्थित गल्ला मंडी के पास लगे जियो रिलायंस और ऐयरटेल कंपनी के टावर की जांच के लिए टेक्नीशियन पुष्पेंद्र सिंह, रोहन सिंह, अजय और विष्णु निवासी भरतपुर (राजस्थान) एक ईको कार से पहुंचे थे। तभी बच्चा चोर गैंग आने की अफवाह सोशल मीडिया पर वायरल होने लगी। इसमें था कि एक कार बार-बार इलाके में आ रही है। लोगों को लगा कि यही बच्चा चोर हैं। इसके बाद भीड़ ने गल्ला मंडी के पास ही टेक्नीशियनों की गाड़ी को रोक लिया और बवाल शुरू कर दिया।

गाड़ी को तोड़कर पलट दिया, बेकाबू हुई भीड़

बताया जा रही है कि लोग इतने आक्रोशित थे कि उन्होंने कार को तोड़फोड़ के बाद पलट दिया। लाठी डंडे से इन चार लोगों की पिटाई करने लगे। किसी तरह से पुलिस को मामले की जानकारी हो गई। कुछ पुलिस वाले मौके पर पहुंच गए, लेकिन भीड़ का गुस्सा देख उनके भी हाथ-पैर फूल गए। उन्होंने चारों को बचाने का प्रयास किया। मगर भीड़ उन्हें पीटती रही। इसके बाद पुलिस कर्मियों की सूचना पर अतिरिक्त फोर्स मौके पर पहुंचा और चारों लोगों को बचाया।

कासगंज के एसपी ने लोगों की अपील

वहीं कासगंज के एसपी बीबीजीटीएस मूर्ति ने लोगों से अपील की है कि बच्चा चोरी की किसी भी अफवाह को फैलने न दें। न ही इन भ्रामक सूचनाओं पर किसी के साथ मारपीट जैसा अपराध करें। उन्होंने कहा है कि यदि किसी पर शक है तो उसकी जानकारी पुलिस को दें। पुलिस तत्काल मामले की जांच करेगी।

First published on: Sep 08, 2022 08:16 PM
संबंधित खबरें