Monday, November 28, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

Auraiya News: 10वीं के छात्र की पिटाई के बाद मौत पर मायावती ने सरकार पर साधा निशाना, ट्वीट कर कहीं ये बातें

पूर्व मुख्यमंत्री और बसपा सुप्रीमो मायावती ने इस घटना पर तीखी प्रतिक्रिया जाहिर की है। उन्होंने प्रदेश सरकार पर निशाना साधते हुए कानून-व्यवस्था पर सवाल खड़े किए हैं।

Auraiya News: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के औरैया (Auraiya) जिले से शिक्षक की पिटाई के बाद 19 दिन अस्पताल में भर्ती रहे 10वीं के छात्र निखिल की मौत के मामले में प्रदेश में आक्रोश है। यूपी की पूर्व मुख्यमंत्री और बसपा सुप्रीमो मायावती (BSP Supremo Mayawati) ने इस घटना पर तीखी प्रतिक्रिया जाहिर की है। उन्होंने प्रदेश सरकार पर निशाना साधते हुए कानून-व्यवस्था पर सवाल खड़े किए हैं।

लगातार दो ट्वीट किए, जताया आक्रोश

बहुजन समाज पार्टी की मुखिया और प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने छात्र की मौत के मामले में नाराजगी जताई है। उन्होंने अपने आधिकारी ट्विटर हैंडल से लगातार दो द्वीट किए। पहले ट्वीट में लिखा, ‘औरैया में शिक्षक की पिटाई से दलित छात्र की मौत पर सरकारी उदासीनता व लापरवाही का मामला काफी तूल पकड़ता जा रहा है। इंसाफ व उचित कार्रवाई के अभाव में लोग काफी आक्रोशित हैं। सरकार ऐसे संगीन मामलों को रफादफा करने के बजाय तुरन्त प्रभावी कार्रवाई सुनिश्चित करे, बीएसपी की यह मांग।’

अभी पढ़ें MP News: PFI के सदस्यों पर ATS की बड़ी कार्रवाई, 20 से अधिक गिरफ्तार, गृहमंत्री ने कही ये बात

वहीं दूसरे ट्वीट में उन्होंने लिखा है, ‘साथ ही, यूपी में दलितों, गरीबों, मजलूमों व अल्पसंख्यकों आदि के साथ-साथ महिलाओं की असुरक्षा का मामला भी काफी चर्चाओं में है। महिला पुलिसकर्मियों के विरुद्ध थाना में शोषण व अन्याय की खबरें भी लगातार सुर्खियों में हैं, जो सरकार के कानून-व्यवस्था के दावे को गलत साबित करती हैं।’

क्या है औरैया का मामला

घटना औरैया जिले की है। यहां अछल्दा थाना क्षेत्र बसोली गांव में रहने वाले राजू का बेटा निखिल आदर्श इंटर कॉलेज में 10वीं का छात्र था। पिता ने बताया कि उसके सामाजिक विज्ञान के टीचर अश्वनी सिंह ने 7 सितंबर को एक परीक्षा में गलती करने के बाद बुरी तरह से पीटा था। निखिल ने बताया था कि टीचर ने उसे लात-घूंसों से मारा। वह कॉलेज में ही बेहोश हो गया। उसकी तबीयत बिगड़ गई।

पिता ने टीचर के खिलाफ कराया मुकदमा

हालत ज्यादा बिगड़ने पर उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया। इसी बीच 24 सितंबर को निखिल के पिता राजू ने शिक्षक के खिलाफ अछल्दा थाने में बच्चे के इलाज में सहयोग नहीं करने और जातिसूचक अपशब्दों का इस्तेमाल करने का मामला दर्ज कराया था। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी।

अभी पढ़ें Badaun News: जाति पूछकर देते थे छुट्टी, विरोध पर कर दी छेड़छाड़, अब थाना प्रभारी समेत तीन पुलिसवाले नपे

औरैया एसपी ने जारी किया था अपना बयान

वहीं रविवार को इलाज के दौरान निखिल की मौत हो गई। निखिल की मौत के बाद परिवार में कोहराम मच गया। औरैया की पुलिस अधीक्षक चारु निगम ने बताया कि हमने मौत के कारणों का पता लगाने के लिए पैनल और वीडियोग्राफी के लिए इटावा सीएमओ से बात की है। पत्राचार भी किया गया है। जांच की जा रही है। वहीं आरोपी की गिरफ्तारी के लिए 3 टीमों का गठन किया गया है।

अभी पढ़ें प्रदेश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें 

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -