---विज्ञापन---

विधायक अब्बास अंसारी ने पुलिस को चकमा देकर कोर्ट में किया सरेंडर, SC ने सरकार को भेजा था ये नोटिस

Abbas Ansari Surrender: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) के बेटे और मऊ के सदर से विधायक अब्बास अंसारी (Abbas Ansari) ने शुक्रवार को दोपहर बाद मऊ की MP/MLA कोर्ट में सरेंडर (Surrender) किया। गौर करने वाली बात यह रही कि पूर्व में उन्हें भगोड़ा घोषित किया गया था। पुलिस […]

Edited By : Naresh Chaudhary | Updated: Oct 22, 2022 12:21
Share :

Abbas Ansari Surrender: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) के बेटे और मऊ के सदर से विधायक अब्बास अंसारी (Abbas Ansari) ने शुक्रवार को दोपहर बाद मऊ की MP/MLA कोर्ट में सरेंडर (Surrender) किया।

गौर करने वाली बात यह रही कि पूर्व में उन्हें भगोड़ा घोषित किया गया था। पुलिस उन्हें खोजने में नाकाम रही थी। लेकिन अब पुलिस की नजरों से बचकर वे अपने वकील के साथ कोर्ट पहुंचे। जहां उन्होंने जस्टिस श्वेता चौधरी की कोर्ट में साथ उमर और मंसूर के साथ सरेंडर किया।

अभी पढ़ें – कांग्रेस नेता के ‘गीता में जिहाद’ वाले बयान पर भाजपा का पलटवार, कहा- हिंदुओं से ये नफरत संयोग नहीं प्रयोग

दो दिन पहले सुप्रीम कोर्ट से मिली थी राहत

बता दें कि दो दिन पहले बुधवार को अब्बास अंसारी को सुप्रीम कोर्ट से आर्म्स एक्ट के मामले में राहत मिली थी। अब्बास की ओर से दायर याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई करते हुए प्रदेश सरकार को नोटिस जारी किया। साथ ही कहा था कि अगली सुनवाई तक उनके खिलाफ कोई भी कठोर कार्रवाई न की जाए। वहीं जानकारी के मुताबिक शुक्रवार को अब्बास ने यूपी विधानसभा चुनाव में हेट स्पीच के मामले में दर्ज केस में सरेंडर किया है।

लखनऊ, दिल्ली-मऊ में की थी तलाश

अब्बास अंसारी बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के बेटे हैं। वर्तमान में उत्तर प्रदेश के मऊ की सदर विधानसभी सीट से सुभासपा के विधायक हैं। पिछले दिनों कोर्ट की ओर से उनके खिलाफ कुर्की के आदेश हुए थे। वहीं पुलिस लगातार उनकी तलाश में छापेमारी कर रही थी। लखनऊ, मऊ और दिल्ली में उनके कई ठिकानों पर पुलिस ने एक साथ कार्रवाई भी की थी। इसके बाद उन्हें भगोड़ा घोषित किया गया था। वहीं अब्बास ने सुप्रीम कोर्ट की शरण ली थी।

अभी पढ़ें केदारनाथ और बद्रीनाथ धाम के दौरे पर पीएम मोदी, 3400 करोड़ रुपये के परियोजनाओं की रखेंगे आधारशिला

राहत के बाद सैफई पहुंचे थे अब्बास

जानकारी के मुताबिक सुप्रीम कोर्ट से राहत मिलने के बाद अब्बास अंसारी सैफई में शोकाकुल अखिलेश यादव से मिलने के लिए पहुंचे थे। हालांकि इस मुलाकात की जानकारी सोशल मीडिया पर आईं तस्वीरों के बाद हुई थी। एक गोपनीय योजना के तहत शुक्रवार को अब्बास अंसारी ने मंसूर और उमर के साथ कोर्ट में सरेंडर किया। उनके सरेंडर करने के  बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया।

अभी पढ़ें प्रदेश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

First published on: Oct 21, 2022 06:09 PM
संबंधित खबरें