Saturday, December 3, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

दोस्ती, प्यार, दुष्कर्म… और फिर ब्लैकमेलिंग का खेल, जांच हुई तो सामने आया ये अजीब गिरोह, जानें पूरा मामला

Uttar Pradesh News in Hindi: कानपुर के संयुक्त पुलिस आयुक्त, आनंद प्रकाश तिवारी ने बताया कि मामला खुल चुका है। पीड़िताएं और आरोपी नाबालिग हैं।

Uttar Pradesh News in Hindi: कानपुर। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के कानपुर (Kanpur) जिले में नाबालिगों का एक ऐसा गिरोह सामने आया है, जिसके कारनामे सुनकर आपके भी होश उड़ जाएंगे। ये नाबालिग शहर के अमीर घरों की किशोरियों को जाल में फंसा कर पहले दोस्ती करते थे। फिर इनके घिनोना खेल शुरू होता था। कानपुर पुलिस ने मामले का खुलासा करते हुए चार नाबालिगों को पकड़ा है।

एक परिवार की हिम्मत ने खोला पूरा मामला

दरअसल, कानपुर के एक अमीर परिवार की नाबालिग लड़की कुछ दिनों ने बदली-बदली रह रही थी। घरवालों को कुछ शक हुआ तो उससे बात की गई। परिवारवालों ने भरोसा दिया कि सभी उसके साथ हैं। किसी भी स्थिति में उसके साथ गलत नहीं होने देंगे। इतना सुनते ही बच्ची फूट-फूटकर रोने लगी। उसने परिवार वालों को बताया कि एक लड़के से कुछ समय पहले फेसबुक पर उसकी दोस्ती हुई थी। लड़के ने उसे मिलने के लिए बुलाया।

ऐसे फंसाते थे किशोरियों को

किशोरी ने परिवारवालों को बताया कि मिलने के दौरान उसने रेप किया और फिर अश्लील वीडियो बना लिया। किशोरी का आरोप है कि वीडियो को दिखा कर आरोपी उसे ब्लैकमेल करने लगा। लाखों रुपये वसूल लिए। इसके बाद घर से गहने चोरी करके लाने के लिए कहा। यह सुनकर सभी के होश उड़ गए। उन्होंने हिम्मत करके पुलिस को मामले की जानकारी दी। पुलिस ने गंभीरता को देखते हुए तत्काल जांच शुरू कर दी।

सिर्फ अमीर घरों की किशोरियां निशाने पर

पुलिस ने जब इस केस की परतें खोलना शुरू किया तो उनके भी होश उड़ गए। किशोरी को ब्लैकमेल करने वाला एक नाबालिग था। वसूले गए पैसों से उसने एक कार खरीद ली थी। पुलिस ने कार को कब्जे में लेकर किशोर से पूछताछ शुरू की। सामने आया कि शहर में नाबालिगों का इनका एक गिरोह सक्रिय है, जो अमीर घरों की किशोरियों को सोशल मीडिया से फंसाते हैं। दोस्ती करते हैं फिर प्यार की बातें करते हैं। इसके बाद उनके रेप करते हुए वीडियो बना लेते हैं।

10वी-12वीं के लड़के हैं, दिल्ली से जुड़े हैं तार

कानपुर पुलिस ने बताया कि अभी तक शहर के चार अमीर घरानों की लड़कियों को फंसाया गया है। गिरोह में दिल्ली के लड़के भी शामिल हैं। पुलिस की एक टीम दिल्ली रवाना हुई है। पुलिस की ओर से कहा गया है कि इस काम में 10वीं से 12वीं क्लास तक के किशोर शामिल हैं। पुलिस ने अभी तक चार नाबालिग लड़कों को पकड़ा है।

इनमें एक सरकारी दफ्तर में तैनात कर्मचारी का बेटा भी शामिल हैं। कानपुर के संयुक्त पुलिस आयुक्त, आनंद प्रकाश तिवारी ने बताया कि मामला खुल चुका है। पीड़िताएं और आरोपी नाबालिग हैं। गिरोह के बाकी सदस्यों की तलाश की जा रही है।

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -