Sunday, December 4, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

Ayodhya Deepotsav 2022: राम की पैड़ी पर इस बार टूटेगा पिछला रिकॉर्ड, इतने लाख दीपों की रोशनी के साक्षी बनेंगे PM Modi

पीएम मोदी प्रतीकात्मक भगवान श्री राम का 'राज्याभिषेक' करेंगे। शाम करीब साढ़े छह बजे सरयू के घाटों पर आरती कर भव्य दीपोत्सव का शुभारंभ करेंगे।

Ayodhya Deepotsav 2022: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के अयोध्या (Ayodhya) जिले में इस बार होने वाला दीपोत्सव अपना पुराना रिकॉर्ड तोड़ेगा। खास बात यह भी है कि इस बार के दीपोत्सव (Ayodhya Deepotsav 2022) में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी शामिल हो रहे हैं। अवध विश्वविद्यालय के स्वयं सेवक इस काम में युद्ध स्तर पर लगे हुए हैं। अयोध्या प्रशासन भी तैयारियों में जुट गया है।

पहली बार शामिल होंगे पीएम मोदी

जानकारी के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अयोध्या में रविवार (23 अक्टूबर) को पहली बार व्यक्तिगत रूप से दीपोत्सव के छठे संस्करण की शुरुआत करने के लिए आ रहे हैं। इसको लेकर जिला प्रशासन की ओर से तैयारियां की जा रही हैं। बता दें कि प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी तैयारियों का कई बार जायजा ले चुके हैं। अधिकारियों को किसी भी प्रकार की कमी नहीं रहने देने के खास निर्देश हैं।

अभी पढ़ें सीएम गहलोत ने विकास कार्यों का किया लोकार्पण, बोले- कोटा में ‘ओम-शांति’ है तो फिर कमी किस बात की

इस बार जलाए जाएंगे 16 लाख दीए

दिवाली रोशनी की त्योहार है। लोग अपने घरों और आसपास के इलाकों में अच्छाई रूपी दीयों की रोशनी से बुराई रूपी अंधेरे को मिटाते हैं। साथ ही भगवान राम की उनके घर अयोध्या में वापसी के जश्न के लिए मनाया जाता है। उत्तर प्रदेश के अवध विश्वविद्यालय के स्वयंसेवक अयोध्या में राम की पैड़ी घाटों पर इस बार 16 लाख से अधिक दीपक जलाकर अयोध्या में दिवाली पर सबसे अधिक दीये (मिट्टी के दीपक) जलाने के पिछले रिकॉर्ड को तोड़ने की कोशिश कर रहे हैं।

अभी पढ़ें दिल्ली में राजस्थान भाजपा कोर कमेटी की बैठक शुरू, अमित शाह भी मौजूद

रामलला की दर्शन और पूजन करेंगे पीएम

बता दें कि अयोध्या में इस साल की दिवाली पिछली बार से भी ज्यादा भव्य होने का वादा किया जा रहा है, क्योंकि यह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के दूसरे कार्यकाल की पहली दिवाली है। वहीं प्रस्तावित कार्यक्रम के अनुसार प्रधानमंत्री मोदी रविवार को शाम 5 बजे भगवान श्री रामलला विराजमान के ‘दर्शन’ और पूजा करने के लिए जाएंगे। इसके बाद श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र स्थल का निरीक्षण करेंगे।

श्रीराम राज्याभिषेक के साथ दीपोत्सव की शुरुआत करेंगे मोदी

शाम 5:45 बजे वह प्रतीकात्मक भगवान श्री राम का ‘राज्याभिषेक’ करेंगे। शाम करीब साढ़े छह बजे प्रधानमंत्री सरयू नदी के पास घाट पर आरती करेंगे, जिसके बाद प्रधानमंत्री द्वारा भव्य दीपोत्सव समारोह का शुभारंभ किया जाएगा। दीपोत्सव के दौरान दिखाई जाने वाली झांकियां लगभग तैयार हैं। इस बार करीब 16 झांकियां निकाली जाएंगी, जो भगवान राम के जीवन का और रामायण के पात्रों पर आधारित होंगी।

अभी पढ़ें प्रदेश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -