Thursday, 22 February, 2024

---विज्ञापन---

सब-इंस्पेक्टर पर दुष्कर्म का आरोप! जब अधिकारियों ने नहीं सुना तो पीड़िता ने उठाया ये बड़ा कदम

Ghaziabad: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के गाजियाबाद (Ghaziabad) जिले में पुलिस सब-इंस्पेक्टर (Sub Inspector) के खिलाफ दुष्कर्म और धमकी देने का मामला दर्ज किया गया है। बताया गया है कि 32 वर्षीय पीड़िता मुंबई की रहने वाली है। उसने उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव से मामले की शिकायत की थी, जिसके बाद यह सख्त कार्रवाई […]

Edited By : Naresh Chaudhary | Updated: Feb 17, 2023 12:03
Share :
Palghar, Maharashtra news, Palghar Crime News

Ghaziabad: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के गाजियाबाद (Ghaziabad) जिले में पुलिस सब-इंस्पेक्टर (Sub Inspector) के खिलाफ दुष्कर्म और धमकी देने का मामला दर्ज किया गया है। बताया गया है कि 32 वर्षीय पीड़िता मुंबई की रहने वाली है। उसने उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव से मामले की शिकायत की थी, जिसके बाद यह सख्त कार्रवाई की गई है।

जानकारी के मुताबिक वर्ष 2015 बैच के दरोगा अनुज कुमार के खिलाफ 14 फरवरी को मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा से शिकायत की गई थी। इस पर उन्होंने कार्रवाई का निर्देश दिया, जिस पर गाजियाबाद के भोजपुर थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है।

निजी कंपनी में कंप्यूटर ऑपरेटर है पीड़िता

एक निजी कंपनी में कंप्यूटर ऑपरेटर के रूप में काम करने वाली 28 वर्षीय महिला ने कहा कि उसके पास शिकायत के अलावा कोई विकल्प नहीं बचा है। महिला ने अपनी शिकायत में कहा कि अक्टूबर 2022 में उसने गाजियाबाद के तत्कालीन एसएसपी से मुलाकात की थी। इसके बाद सब-इंस्पेक्टर को पुलिस लाइन भेजा गया था।

यह भी पढ़ेंः छात्राओं की पहले चली दारू पार्टी, फिर बॉयफ्रेंड ने किया गंदा काम

पूर्व में शिकायत के बाद पुलिस लाइन भेजा एसआई

शिकायत के अनुसार महिला ने बताया कि वह 2021 की शुरुआत में किसी काम के लिए एनसीआर आई थी। अपने एक दोस्त के एक्सीडेंट के बाद सब-इंस्पेक्टर से मिली थी। उसने आरोप लगाया कि एसआई ने उससे कुछ कागजात पर हस्ताक्षर करने को कहा और फिर उसके साथ दुष्कर्म किया। आरोप है कि एसआई ने उसकी कुछ तस्वीरें भी लीं। महिला का यह भी कहना है कि उसने शादी का वादा किया था।

अधिकारियों पर सुनवाई न करने का आरोप

महिला ने शिकायत में कहा है कि 2022 में उसे पता चला कि एसआई पहले से शादीशुदा है। उसके बाद उसने शिकायत दर्ज करने की कोशिश की और वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों से मुलाकात, लेकिन मुकदमा दर्ज नहीं किया गया। पीड़िता ने कहा कि कोई भी मेरी समस्या नहीं सुन रहा था, इसलिए मेरे पास कोई विकल्प नहीं बचा था। मैंने राज्य के मुख्य सचिव को पत्र लिखा था।

और पढ़िए –UP Demolition Drive: आग से दो महिलाओं की मौत के बाद अधिकारियों के खिलाफ FIR, परिवार ने की ये मांग

आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज

इस मामले पर मोदीनगर एसीपी रितेश त्रिपाठी ने बताया कि एसआई के खिलाफ आधिकारिक जांच चल रही है। शिकायत के आधार पर दुष्कर्म समेत अन्य गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है।

और पढ़िए – प्रदेश से जुड़ी अन्य बड़ी ख़बरें यहाँ पढ़ें

First published on: Feb 17, 2023 09:46 AM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें