Wednesday, 17 April, 2024

---विज्ञापन---

‘Chandrayaan-3 के यात्रियों को सैल्यूट…’, राजस्थान के मंत्री इस बयान पर हो गए ट्रोल, देखें VIDEO

Ashok Chandna On Chandrayaan-3 Landing: राजस्थान सरकार में मंत्री अशोक चांदना ने बुधवार को चंद्रयान-3 की चंद्रमा पर सफल लैंडिंग पर हर्ष जाहिर किया। उन्होंने वैज्ञानिकों को इसके लिए बधाई दी। हालांकि, इस दौरान उनकी जुबान फिसल गई। उन्होंने कहा कि मैं चंद्रयान-3 के यात्रियों को सैल्यूट करता हूं। खेल मंत्री अशोक चांदना ने कहा, […]

Edited By : Bhola Sharma | Updated: Aug 23, 2023 23:01
Share :
Ashok Chandna, Chandrayaan-3, Rajasthan
Ashok Chandna

Ashok Chandna On Chandrayaan-3 Landing: राजस्थान सरकार में मंत्री अशोक चांदना ने बुधवार को चंद्रयान-3 की चंद्रमा पर सफल लैंडिंग पर हर्ष जाहिर किया। उन्होंने वैज्ञानिकों को इसके लिए बधाई दी। हालांकि, इस दौरान उनकी जुबान फिसल गई। उन्होंने कहा कि मैं चंद्रयान-3 के यात्रियों को सैल्यूट करता हूं।

खेल मंत्री अशोक चांदना ने कहा, ‘अगर हम कामयाब हुए हैं। सेफ लैंडिंग हुई है। जो यात्री गए हैं उन्हें मैं सलाम करता हूं। हमारा देश साइंस में स्पेस रिसर्च के अंदर एक कदम और बढ़ा है। मैं इसके लिए देशवासियों को बधाई देता हूं।’

साउथ पोल पर पहुंचने वाला भारत पहला देश

बुधवार की शाम 6:04 बजे चंद्रयान-3 के विक्रम लैंडर ने चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर सफल लैंडिंग की। इसके बाद भारत पहला देश बन गया, जिसने दक्षिणी ध्रुव पर अपना कदम रखा है। इससे पहले कोई देश वहां नहीं पहुंचा है। चंद्रयान-3 2019 में लॉन्च किए गए चंद्रयान-2 का फॉलोअप मिशन है। चार साल से इसरो के वैज्ञानिक कड़ी मेहनत कर रहे थे। जिसका परिणाम सुखद रहा।

पीएम मोदी ने वैज्ञानिकों को दी बधाई

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ब्रिक्स शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए दक्षिण अफ्रीका के जोहान्सबर्ग शहर में है। वे वहां से वर्चुअली इस लैंडिंग कार्यक्रम में शामिल हुए। उन्होंने सफलता मिलने के बाद वैज्ञानिकों को बधाई दी। इसरो चीफ एस सोमनाथ से फोन पर बात कर पूरी टीम को बधाई दी। पीएम ने कहा कि भारत अब चांद पर है।

चंद्रयान-3 मानवरहित मिशन

चंद्रयान-3 का लैंडर मॉड्यूल और रोवर मॉड्यूल अब 14 दिन चंद्रमा पर रहकर वैज्ञानिक अध्यन करेंगे। इसकी रिपोर्ट इसरो को मिलती रहेगी। लैंडर ने चंद्रमा पर लैंडिंग के बाद पहली तस्वीर भी भेजी है। यह पूरी तरह मानवरहित मिशन है।

यह भी पढ़ें: Chandrayaan-3: चांद पर इतिहास रचने वाला इकलौता देश बना भारत, जाने क्यों साउथ पोल पर कराई लैंडिंग?

First published on: Aug 23, 2023 10:56 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें