---विज्ञापन---

Kirodi Lal Meena: किरोड़ी लाल के समर्थन में आईं राजस्थान बीजेपी की ये दिग्गज नेता, जानें…

Kirodi Lal Meena: राज्यसभा सांसद किरोड़ी लाल मीणा पिछले 6 दिनों से आगरा-जयपुर हाईवे पर धरने पर बैठे हैं। अब उनको पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे का साथ मिला। राजे ने ट्वीट करते हुए कहा कि किरोड़ी लाल पिछले 6 दिनों से धरने पर बैठे हैं। इतना बड़ा आंदोलन होने के बावजूद गहलोत सरकार युवाओं के सपनों […]

Edited By : Rakesh Choudhary | Updated: Jan 30, 2023 11:49
Share :
Kirodi Lal Meena, Vasundhara Raje
Kirodi Lal Meena, Vasundhara Raje

Kirodi Lal Meena: राज्यसभा सांसद किरोड़ी लाल मीणा पिछले 6 दिनों से आगरा-जयपुर हाईवे पर धरने पर बैठे हैं। अब उनको पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे का साथ मिला। राजे ने ट्वीट करते हुए कहा कि किरोड़ी लाल पिछले 6 दिनों से धरने पर बैठे हैं। इतना बड़ा आंदोलन होने के बावजूद गहलोत सरकार युवाओं के सपनों की जरा भी परवाह नहीं कर रही।

और पढ़िए –Bihar Hindi News: मुजफ्फरपुर में 151 जाट बटालियन ने मनाया वीर नारी सम्मान समारोह, जानें पूरी खबर

कांग्रेस सरकार की अंतिम कील साबित होगा

राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने ट्वीट कर गहलोत सरकार पर निशाना साधा। (Kirodi Lal Meena) उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार युवाओं के सपनों को कुचलने का काम कर रही है। जो राजस्थान की कांग्रेस सरकार के डूबते जहाज की अंतिम कील साबित होगा। बता दें कि किरोड़ीलाल मीणा पेपर लीक मामले की सीबाआई जांच को लेकर पिछले 6 दिनों से धरने पर बैठे हैं। उनके साथ हजारों की संख्या प्रदर्शनकारी युवा छात्र भी धरना दे रहे हैं।

नेताओं का मिल रहा समर्थन

वहीं किरोड़ीलाल को बीजेपी के केंद्रीय और राज्य इकाई के नेताओं का लगातार समर्थन भी मिल रहा है। (Kirodi Lal Meena) वहीं इससे पहले बीजेपी की राष्ट्रीय मंत्री अलका सिंह गुर्जर, जयपुर उपमहापौर पुनीत कर्णावत समेत सैकड़ों युवा सांसद किरोड़ी लाल मीणा के समर्थन में धरना स्थल पहुंचे।

और पढ़िए –Magh Purnima 2023: 5 फरवरी, पूर्णिमा पर कर लें ये काम, पूरा वर्ष शानदार रहेगा

सरकार सीबीआई जांच से कर चुकी इंकार

वहीं, धरना खत्म कराने के लिए सरकार ने आला अधिकारियों के साथ गृह राज्य मंत्री राजेंद्र यादव को 4 बार भेजा। लेकिन, सीबीआई जांच की मांग को लेकर अड़े मीणा ने धरना खत्म करने से इंकार कर दिया।

बता दें कि सरकार की तरफ से केबिनेट मंत्री शांति धारीवाल विधानसभा में कह चुके हैं कि पेपर लीक मामलों की जांच सीबीआई को नहीं सौंपी जाएगी। धरने पर बैठे मीणा को समर्थन देने के लिए विधानसभा उपनेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ से लेकर केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान भी आ चुके हैं।

और पढ़िए –देश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

First published on: Jan 30, 2023 11:18 AM
संबंधित खबरें