Thursday, December 8, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

Rajasthan: ग्रामीण ओलम्पिक खेलों का हुआ समापन, इस दौरान सीएम गहलोत ने कही ये बड़ी बात

जयपुर: राजस्थान में पहली बार आयोजित हो रहे राजीव गांधी ग्रामीण ओलम्पिक खेलों का समापन समारोह आज एसएमएस इंडोर स्टेडियम पर आयोजित किया गया है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जहां 16 अक्टूबर को खेलों का उद्घाटन किया था, तो वहीं आज समापन समारोह में भी मुख्यमंत्री अशोक गहलोत मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद रहें। वहीं, सीएम गहलोत ने विजेता खिलाड़ियों को पुरुस्कृत कर सम्मानित भी किया।

जयपुर में गुरूवार को आयोजित समापन कार्यक्रम में सीएम गहलोत ने कहा कि आगामी 26 जनवरी से अब राजस्थान में शहरी ओलम्पिक प्रतियोगिता का आयोजन किया जाएगा और इसका मकसद खेल प्रतिभाओं को मौका देने के साथ खेल भावना को भी बढ़ाना है।

अभी पढ़ें खड़गे को रबड़ स्टाम्प बताए जाने पर बिफरे CM गहलोत, बोले- BJP नेताओं को इतिहास पढ़ना चाहिए, ताकि उनका मखौल न बने

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सवाई मान सिंह (एसएमएस) स्टेडियम में राज्य स्तरीय राजीव गांधी ग्रामीण ओलम्पिक खेलों के समापन समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि इन खेलों से लोगों को अपने मनमुटाव भुलाने का मौका मिला और वे एक दूसरे के करीब आए। उन्होंने कहा, ‘‘इन खेलों से लोग आपस में करीब आए। मैं समझता हूं कि इसने खिलाड़ियों को आपस में प्रेम, भाईचारे, सद्भावना से साथ रहने का एक मौका दिया, जिसकी आज मुल्क में सबसे बड़ी जरूरत है।’’

समापन समारोह के दौरान सीएम गहलोत ने कहा कि, “प्रकृति प्रहार करती है तो कुछ देकर भी जाती है। कोरोना के कारण निरोगी राजस्थान की थीम कमजोर पड़ गयी थी। लेकिन, अब राजीव गांधी ग्रामीण ओलंपिक ने खिलाड़ियों को सद्भावना का संदेश दिया। खिलाड़ियों ने अपने गांव का गौरव बढ़ाया है।” साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि, अब ‘खेलेगा राजस्थान और जीतेगा राजस्थान’ की शुरूआत हो चुकी है।

अभी पढ़ें जयपुर में सीएम गहलोत ने इंदिरा रसोई का किया अवलोकन, पत्नी संग खाया खाना, देखें

ग्रामीण ओलम्पिक खेलों की ख़ास बात यह रही की इसमें राज्य के सभी 33 जिलों में 30 लाख से भी ज्यादा खिलाडियों ने भाग लिया। कबड्डी, खो-खो, बॉलीबॉल जैसे 6 खेलों का इसमें आयोजन किया गया था। बता दें पहले पंचायत स्तर, फिर जिला स्तर और उसके बाद राज्य स्तर पर खेलों का आयोजन हुआ।

राजस्थान सरकार ने पहली बार इतने बड़े लेवल पर आयोजित हो रहे इस कार्यक्रमों के आयोजन को कितनी गंभीरता से लिया है इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है की करीब 40 करोड़ रूपये के बजट वाले इन खेलों में सीएम अशोक गहलोत कभी दर्शक, तो कभी खिलाडी तो कभी रेफरी की भूमिका में मैदान में उतरे खिलाडियों का हौंसला अफजाई करते नज़र आए।

अभी पढ़ें प्रदेश से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -