Wednesday, September 28, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

Rajasthan: पुष्कर सरोवर में लीन हुए गुर्जर नेता कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला, उमड़ा लाखों लोगों का हुजूम

अजमेर: राजस्थान में गुर्जर समुदाय के लिए आरक्षण की मांग को लेकर आंदोलन का नेतृत्व करने वाले नेता कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला की अस्थियां सोमवार को राजस्थान के पुष्कर सरोवर में विसर्जित की गयी। बता दें कि बैंसला का निधन 31 मार्च को हो गया था। वे राजस्थान के प्रमुख गुर्जर नेता थे, जिन्हें गुर्जर आरक्षण आंदोलन का नेतृत्व करने वाले गुर्जर नेता के तौर पर जाना जाता है।

52 घाटों पर एक साथ किया गया विसर्जन

बता दें कि 17 अगस्त को झुंझुनू जिले से ‘अस्थी-विसर्जन’ यात्रा शुरू हुई और पुष्कर पहुंचने से पहले 20 से अधिक जिलों में 75 विधानसभा क्षेत्रों को कवर किया। इन 75 विधानसभा क्षेत्रों में शोक सभा हुई। अब आज गुर्जर समाज के लोग ने सरोवर के 52 घाटों पर एक साथ अलग-अलग कलश के जरिए सामूहिक रूप से स्वर्गीय कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला की अस्थियों का विसर्जन किया है।

5 लाख से ज्यादा लोग जुटे

अस्थि विसर्जन के दौरान राजस्थान की टेंपल सिटी पुष्कर में आज देशभर के पांच लाख से ज्यादा गुर्जर समाज के लोग एकत्रित हुए। यहां रविवार रात से ही हरियाणा, राजस्थान, मध्य प्रदेश और अन्य राज्यों से गुर्जर समाज के लोग यहां पहुंचने लगे थे।

लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला हुए शामिल

इस अवसर पर उनके बेटे विजय बैंसला ने बताया कि गुर्जर समाज ने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला, दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल, राजस्थान सीएम अशोक गहलोत, बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनियां, बसपा प्रमुख मायावती, गुर्जर नेता सचिन पायलट, सहित कई राजनीतिक हस्तियों को भी आमंत्रित किया है, जिनमें से कई नेता उपस्थित हुए हैं।

दिवंगत कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला के अस्थि विसर्जन कार्यक्रम में लोकसभा स्पीकर के अलावा पटेल आंदोलन नेता हार्दिक पटेल, खेल मंत्री अशोक चांदना, मंत्री शकुंतला रावत, आरटीडीसी चेयरमैन धर्मेंद्र राठौर, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पुनिया, बीजेपी नेता राजेंद्र राठौड़, आरएलडी नेता जयंत चौधरी के अलावा अन्य राजनीतिक पार्टियों के पदाधिकारी शामिल हुए हैं।

बैंसला की मूर्ति भी लगाई गयी

सोमवार को सबसे पहले पुष्कर स्थित गुर्जर भवन में अस्थि विसर्जन के कार्यक्रम के अवसर पर कर्नल बैंसला की मूर्ति का भी अनावरण किया गया। मार्बल के पत्थर की यह मूर्ति 6.1 फीट ऊंची है। करीब 80 हजार रुपए की लागत से इस मूर्ति का निर्माण करवाया गया है।

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -