Thursday, 29 February, 2024

---विज्ञापन---

Rajasthan: गहलोत सरकार से खफा छात्रों की गुजरात में दांडी यात्रा, आर-पार की लड़ाई का किया ऐलान

जयपुर: प्रदेश के युवा बेरोजगारों की विभिन्न मांगों को लेकर राजस्थान कांग्रेस सरकार की तानाशाही और लापरवाही के खिलाफ राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ के बैनर तले युवा बेरोजगारों की चौथे दिन भी गुजरात में दांडी यात्रा जारी है। गहलोत सरकार से खफा बेरोजगारों ने कांग्रेस सरकार के खिलाफ आर-पार की लड़ाई का ऐलान कर दिया […]

Edited By : Nirmal Pareek | Updated: Oct 5, 2022 13:24
Share :
Dandi Yatra of Rajasthan's unemployed students in Gujarat
राजस्थान के बेरोजगार छात्रों की गुजरात में दांडी यात्रा

जयपुर: प्रदेश के युवा बेरोजगारों की विभिन्न मांगों को लेकर राजस्थान कांग्रेस सरकार की तानाशाही और लापरवाही के खिलाफ राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ के बैनर तले युवा बेरोजगारों की चौथे दिन भी गुजरात में दांडी यात्रा जारी है। गहलोत सरकार से खफा बेरोजगारों ने कांग्रेस सरकार के खिलाफ आर-पार की लड़ाई का ऐलान कर दिया है।

पिछले 4 दिनों से गुजरात में दांडी मार्च निकाल रहे बेरोजगारों का कहना है कि ‘हर बार सरकार हमें झूठे आश्वासन देती है। लेकिन इस बार हम सरकार के किसी आश्वासन में नहीं आएंगे।’ प्रदेश के युवाओं ने इस बार राजस्थान को छोड़कर गांधी की धरती गुजरात को अपने आंदोलन के लिए चुना है। बता दें कि आगामी दिनों में गुजरात में विधानसभा चुनाव है और सीएम गहलोत गुजरात चुनाव को लेकर कांग्रेस के सीनियर ऑब्जर्वर हैं। ऐसे में यह आंदोलन जो काफी अहम माना जा रहा है।

युवा बेरोजगारों की यह दांडी यात्रा मेहसाना गुजरात से आगे पहुंच चुकी है। राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ प्रदेश अध्यक्ष उपेन यादव बिना खाना खाए पैदल दांडी यात्रा का नेतृव कर रहे हैं। युवा बेरोजगारों की पैदल दांडी यात्रा अहमदाबाद कांग्रेस कार्यालय तक जाएगी और युवा बेरोजगार विभिन्न मांगों को लेकर कांग्रेस कार्यालय के बाहर सत्याग्रह करेंगे।

वहीं बेरोजगार एकीकृत महासंघ प्रदेश अध्यक्ष उपेन ने एलान किया है कि यदि बेरोजगारों के दांडी यात्रा और सत्याग्रह से कांग्रेस सरकार नहीं जागती है तो फिर राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा में कूच करके भारत जोड़ो यात्रा का विरोध किया जाएगा।

आपको बता दें कि, प्रदेश के बेरोजगार उपेन यादव के नेतृत्व में अपनी 20 सूत्रीय मांगों को लेकर ये रैली निकाल रहे हैं। जिनमें कंप्यूटर अनुदेशक भर्ती में 40फीसदी की बाध्यता में शिथिलता देकर सभी रिक्त पदों को भरने, राजकीय आईटीआई कॉलेजों में 1500 पदों पर कनिष्ठ अनुदेशक भर्ती की विज्ञप्ति जारी करने, पंचायतीराज JEN भर्ती की विज्ञप्ति जारी करने, प्रतियोगी भर्ती परीक्षाओं में ओबीसी ईडब्ल्यूएस के नवीनतम सर्टिफिकेट को मान्य किया और किसी भी चयनित अभ्यर्थियों को सर्टिफिकेट की वजह से बाहर नहीं करने की मांग प्रमुख है।

First published on: Oct 05, 2022 01:24 PM
संबंधित खबरें