Tuesday, February 7, 2023
- विज्ञापन -

Latest Posts

‘कांग्रेस में JDU का विलय कराना चाहते थे प्रशांत किशोर’, बिहार के CM नीतीश कुमार का दावा

चुनावी रणनीतिकार से नेता बने प्रशांत किशोर को 2018 में नीतीश कुमार द्वारा जद (यू) में शामिल किया गया था और उन्हें राष्ट्रीय उपाध्यक्ष के पद पर भी प्रमोट किया गया था।

पटना: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर के बीच जारी तनातनी थमने का नाम नहीं ले रही है। नीतीश कुमार ने दावा किया कि चुनावी रणनीतिकार ने उन्हें अपनी पार्टी का कांग्रेस में विलय करने की सलाह दी थी।

बिहार के सीएम ने कहा, “चार से पांच साल पहले प्रशांत किशोर ने मुझसे जेडीयू का कांग्रेस में विलय करने के लिए कहा था। वह अब भाजपा में चले गए हैं और उसी के अनुसार काम कर रहे हैं।”

यह पूछे जाने पर कि क्या प्रशांत किशोर को हाल ही में उनके द्वारा एक पद की पेशकश की गई थी, नीतीश कुमार ने कहा, “ऐसा कुछ नहीं है। उनकी जो मर्जी है बोले रहे। (ऐसा कुछ नहीं है। उन्हें जो कुछ भी बोलना है उन्हें बोलने दें)। अब क्या हम बोले?” नीतीश ने कहा कि अब मैं उनकी टिप्पणी पर कुछ भी जवाब नहीं दूंगा।

दो दिन पहले प्रशांत किशोर ने दिया था ये बयान

इससे पहले गुरुवार को प्रशांत किशोर ने बिहार के सीएम के खिलाफ अपना तीखा हमला जारी रखा था और कहा कि वह कभी भी नीतीश कुमार के साथ काम नहीं करेंगे, भले ही नीतीश कुमार उनके लिए ‘मुख्यमंत्री की कुर्सी खाली’ कर दें। प्रशांत किशोर ने यह भी दावा किया कि उन्होंने हाल ही में नीतीश कुमार के जद (यू) का ‘नेतृत्व’ करने के अनुरोध को ठुकरा दिया था।

3,500 किलोमीटर लंबी ‘जन सुराज’ पदयात्रा के दौरान पश्चिम चंपारण जिले के जमुनिया गांव में एक सभा को संबोधित करते हुए किशोर ने कहा, “जब मैं कुछ दिन पहले नीतीश कुमार से मिला, तो उन्होंने मुझसे फिर से जदयू में शामिल होने की बात कही और कहा कि आप मेरे राजनीतिक उत्तराधिकारी हैं।

उन्होंने कहा, “मैंने मुख्यमंत्री से स्पष्ट रूप से कहा कि मैं उनके साथ काम नहीं करूंगा, भले ही वह (नीतीश कुमार) मुझे अपना राजनीतिक उत्तराधिकारी बना दें या मेरे लिए सीएम की कुर्सी छोड़ दें। मैंने कहा नहीं … मैंने लोगों से वादा किया है जिसे बदला नहीं जा सकता।”

बता दें कि चुनावी रणनीतिकार से नेता बने प्रशांत किशोर को 2018 में नीतीश कुमार द्वारा जद (यू) में शामिल किया गया था और उन्हें राष्ट्रीय उपाध्यक्ष के पद पर भी प्रमोट किया गया था। हालांकि, नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) को लेकर नीतीश कुमार के साथ तकरार के बाद उन्हें पार्टी से निष्कासित कर दिया गया था।

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -