Friday, September 30, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

MP में सियासी घमासान, नरोत्तम मिश्रा और सिंधिया समर्थक इमरती देवी के समर्थकों में खींचतान

मध्य प्रदेश के ग्वालियर जिले की डबरा नगर पालिका अध्यक्ष को लेकर गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा और सिंधिया समर्थक इमरती देवी के समर्थकों में खींचतान देखने को मिली।

विपिन श्रीवास्तव, ग्वालियर: मध्य प्रदेश के ग्वालियर जिले की डबरा नगर पालिका अध्यक्ष को लेकर गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा और सिंधिया समर्थक इमरती देवी के समर्थकों में खींचतान देखने को मिली। दरअसल, 30 पार्षदों वाली डबरा नगर पालिका अध्यक्ष के लिए घमासान तेज हो गया है। 4 अगस्त को अध्यक्ष का चुनाव होना है‌। जो जीते हुए पार्षद चुनेंगे। लेकिन इससे पहले सरकार के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा और सरकार में राज्य मंत्री का दर्जा प्राप्त सिंधिया समर्थक इमरती देवी के बीच नगर पालिका अध्यक्ष बनाने को लेकर खींचतान चल रही है।

इमरती देवी डबरा के 15 पार्षदों को लेकर दिल्ली पहुंचीं

डबरा के 30 में से BJP के 14 पार्षद, कांग्रेस के 10, निर्दलीय 4 और AAP के 2 पार्षद हैं। कैबिनेट मंत्री दर्जा प्राप्त सिंधिया समर्थक इमरती देवी डबरा के 15 पार्षदों को लेकर 1 अगस्त को दिल्ली पहुंचीं। 6 कांग्रेस, दो निर्दलीय, एक आम आदमी पार्टी और 6 BJP पार्षद को लेकर दिल्ली पहुंची इमरती ने केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया से मुलाकात की। 4 अगस्त को होना है डबरा नगर पालिका अध्यक्ष के लिए चुनाव।

नरोत्तम और इमरती गुट के पास है 15-15 पार्षद

दरअसल, BJP के 14 में से 8 पार्षद गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा गुट के और 6 पार्षद सिंधिया समर्थक इमरती देवी गुट के जीते हैं। इसके अलावा कांग्रेस के जीते 10 पार्षदों में से 6 इमरती देवी के साथ दिल्ली गए। नरोत्तम गुट को 8 BJP, निर्दलीय 2, एक आम आदमी पार्टी और कांग्रेस के 4 पार्षद का समर्थन हैं। जबकि नरोत्तम और इमरती गुट के पास अब 15-15 पार्षदों की संख्या है। यानि अगर एक पार्षद अगर क्रॉस वोटिंग करता है तो तय हो जाएगा कि डबरा नगर पालिका अध्यक्ष नरोत्तम मिश्रा का समर्थक होगा या फिर सिंधिया समर्थक इमरती देवी का।

बहरहाल, डबरा नगर परिषद अध्यक्ष पद पर इमरती देवी के समर्थक का कब्जा हो चुका है ऐसे में अब नगर पालिका अध्यक्ष के पद को लेकर नरोत्तम मिश्रा और इमरती देवी के समर्थकों के बीच जोड़-तोड़ की राजनीति चल रही है। ऐसा नहीं है कि नरोत्तम मिश्रा और इमरती देवी के बीच यह टकराव पहली बार हो रहा है।

डबरा विधानसभा से कांग्रेस के टिकट पर इमरती देवी जीतती रही हैं। लेकिन ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ बीजेपी में शामिल होने के बाद बीजेपी की तरफ से डबरा में उपचुनाव हुए जिसमें इमरती देवी हार गई थी। इसके लिए इमरती देवी ने नरोत्तम मिश्रा को ही जिम्मेदार ठहराया था।

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -