Saturday, December 3, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

Noida Crime News: शराब के लिए बच्चे का किया अपहरण, फिरौती न मिलती तो कर देता ये खौफनाक काम

ग्रेटर नोएडा पुलिस ने आरोपी को बुलंदशहर के खुर्जा से गिरफ्तार करके बच्चे को बरामद किया है। पूछताछ में आरोपी ने अपने खौफनाक मंजूबों के बारे में बताया तो पुलिस के भी होश उड़ गए।

Noida Crime News: उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा में पुलिस ने महज 7 घंटे में एक तीन साल के मासूम बच्चे को अपहरणकर्ता के चंगुल से मुक्त करा लिया। जब आरोपी से पूछताछ हुई तो पुलिस के भी होश उड़ गए। आरोपी ने बताया कि उसने शराब के लिए पैसे जुटाने के लिए बच्चे का अपहरण किया था, फिरौती वसूलने वाला था। अगर फिरौती नहीं मिलती तो वह बच्चे को बेच देता, लेकिन पुलिस ने जी-जान लगाकर बच्चे को खोज निकाला। एक मां को उसकी खुशियां लौटा दीं। बच्चे के परिवार वालों ने पुलिस को धन्यवाद दिया है।

अपने मायके आई थी आरती, भाई की दुकान पर बैठी थी

आरती की ससुराल राजस्थान में है। वह रक्षाबंधन पर अपने मायके ग्रेटर नोएडा के गामा-2 आई थी। यहां गामा-2 के गेट नंबर-एक पर आरती के भाई और मां की चाय की दुकान है। शनिवार दोपहर को आरती चाय की दुकान पर बैठी थी। तभी उसे दवाई लेने के लिए जाना था तो वह पास के एक गार्ड को बच्चे की निगरानी रखकर बोलकर चली गई, लेकिन वापस लौटी तो बच्चा गायब था। काफी खोज के बाद भी बच्चा नहीं मिलने पर परिवार वाले पुलिस के पास गए और मदद की गुहार लगाई।

सीसीटीवी में दिखा बच्चे को ले जाते हुए

ग्रेटर नोएडा की बीटा-दो पुलिस ने तत्काल मामला दर्ज करते हुए जांच शुरू कर दी। पुलिस ने इलाके के सीसीटीवी कैमरे खंगाले। यहीं से पुलिस को सुराग मिल गया। एक युवक बच्चे को ले जाते हुए दिखा। पुलिस ने तत्काल कई टीमें बनाकर आरोपी की खोज शुरू कर दी। सात घंटे बाद पुलिस ने आरोपी को बुलंदशहर से गिरफ्तार करके बच्चे को बरामद कर लिया। पुलिस ने दोनों को ग्रेटर नोएडा ले आई। पुलिस ने बच्चे के परिवार वालों को मामले की जानकारी दी। बच्चे की मां और नानी तत्काल थाने पर पहुंच गई।

अपने गांव खुर्जा में ले गया था बच्चे को, बेचने की फिराक में था

आरोपी की पहचान बुलंदशहर के खुर्जा निवासी प्रमोद के रूप में हुई है। पुलिस ने जब आरोपी से पूछताछ की तो पता चला कि वह जगत फार्म में एक टेलर की दुकान पर काम करता था। शराब पीने का आदी है। टेलर मालिक से भी कई बार पैसे मांगे, लेकिन उसने शराब पीने के नाम पर देने के लिए मना कर दिया। इस पर प्रमोद ने बच्चे के अपहरण की योजना बनाई। आरोपी ने बताया कि बच्चे के नाम पर फिरौती मांगने वाला था। बच्चे को अपने गांव लेकर गया था। पुलिस ने जब पूछा कि फिरौती नहीं मिलती तो, तब उसने बताया कि वह बच्चे को कहीं बेच देता। वहीं घटना के सफल खुलासे के लिए नोएडा कमिश्नर की ओर से टीम को इनाम और प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया है।

देश और दुनिया की ताज़ा खबरें सबसे पहले न्यूज़ 24 पर फॉलो करें न्यूज़ 24 को और डाउनलोड करे - न्यूज़ 24 की एंड्राइड एप्लिकेशन. फॉलो करें न्यूज़ 24 को फेसबुक, टेलीग्राम, गूगल न्यूज़.

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -