Thursday, 22 February, 2024

---विज्ञापन---

कितने पढ़े-लिखे हैं शिवसेना MLA संतोष बांगर? परिजनों के वोट न देने पर बच्चों से की थी भूखा रहने की अपील

Shiv Sena Santosh Bangar: संतोष बांगर को साल 2017 में शिवसेना पार्टी से हिंगोली जिला का अध्यक्ष बनाया गया था। इसके बाद साल 2019 में वह कलामनुरी निर्वाचन क्षेत्र चुनाव जीते थे।

Edited By : Amit Kasana | Updated: Feb 11, 2024 18:28
Share :
Santosh Bangar
संतोष बांगर

Santosh Bangar: महाराष्ट्र सीएम एकनाथ शिंदे गुट की शिवसेना से विधायक संतोष बांगर ने केवल सातवीं तक पढ़ाई की है। वह महाराष्ट्र में कलामनुरी निर्वाचन क्षेत्र से विधायक हैं। उन्होंने हिंगोली के माणिक मेमोरियल आर्यन स्कूल से साल 1994-95 में 7वीं क्लास पास की है। दरअसल, वह हाल ही में स्कूली बच्चों से 2 दिन खाना न खाने की अपील करने के बाद चर्चा में आएं हैं।

मम्मी पूछे तो बताना पहले बांगर को वोट करे..

विधायक महाराष्ट्र में आने वाले विधानसभा चुनावों के मद्देनजर स्कूली बच्चों की सभा को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने कहा अगर तुम्हारे मम्मी-पापा आने वाले चुनाव में मुझे वोट न दे तो दो दिन खाना मत खाना। उन्होंने बच्चों से कहा कि अगर मम्मी पूछे की खाना क्यों नहीं खा रहे तो उनसे कहना कि पहले संतोष बांगर को वोट करे।

अक्टूबर 2024 में हो सकते हैं महाराष्ट्र में चुनाव

अपने इस बयान के बाद वह सोशल मीडिया पर वायरल हो गए। विपक्ष ने भी उन्हें आड़े हाथों लिया। दरअसल, महाराष्ट्र में अक्टूबर 2024 में विधानसभा होने का अनुमान है। जिसके चलते राज्य में राजनीतिक सरगर्मियां तेज हैं। संभावित प्रत्याशी अपनी सीट पक्की करने के लिए अपने-अपने विधानसभा क्षेत्रों में प्रचार-प्रचार कर रहे हैं। इसी कड़ी में बीते दिनों संतोष बांगर ने यह बयान दिया था।

2017 में शिवसेना पार्टी से हिंगोली जिला के अध्यक्ष थे

जानकारी के अनुसार संतोष बांगर को साल 2017 में शिवसेना पार्टी से हिंगोली जिला का अध्यक्ष बनाया गया था। इसके बाद साल 2019 में वह कलामनुरी निर्वाचन क्षेत्र चुनाव जीते थे। उनका जन्म 14 जून 1980 में हिंगोली के वंजरवाडी में हुआ था। चुनाव आयोग को दिए हलफनामे में उन्होंने खुद का व्यवाय और किसानों को पेशा बताया है।

39 प्रतिशत वोट मिले थे साल 2029 विधानसभा चुनाव में

साल 2019 में चुनाव आयोग को दिए हलफनामे के अनुसार संतोष बाग के पास करीब 92 लाख की चल-अचल संपत्ति है। उनके पिता का नाम लक्ष्‍मणराव रामजी बांगर है। बता दें उन्हें साल 2019 में कलामनुरी निर्वाचन क्षेत्र से 39.04 फीसदी वोट पड़े थे। विधानसभ चुनाव में उन्होंने वंचित बहुजन अगाड़ी पार्टी के अजित मागेर को 16378 वोटों के अंतर से हराया था। बता दें वह उद्धव ठाकरे का साथ छोड़कर एकनाथ शिंदे के साथ आए थे।

First published on: Feb 11, 2024 06:17 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें