Wednesday, 21 February, 2024

---विज्ञापन---

Chabad House: आतंकियों के पास मिले मुंबई की इस बिल्डिंग के Google Image, बेहद खतरनाक था मंसूबा

Chabad House: मुंबई पुलिस को कोलाबा के छाबड़ हाउस के पास 26/11 जैसा आतंकवादी हमले का इनपुट मिला है। इसके चलते मुंबई पुलिस ने हाउस की सिक्योरिटी बढ़ा दी है। इनपुट पुणे में गिरफ्तार दो आतंकियों से पूछताछ के दौरान महाराष्ट्र एटीएस को मिला है। आतंकियों के पास छाबड़ हाउस का गूगल इमेज था। छाबड़ […]

Edited By : Bhola Sharma | Updated: Jul 29, 2023 22:37
Share :
Mumbai Police, Mumbai Police received threat call, serial blasts threat call, Mumbai local train

Chabad House: मुंबई पुलिस को कोलाबा के छाबड़ हाउस के पास 26/11 जैसा आतंकवादी हमले का इनपुट मिला है। इसके चलते मुंबई पुलिस ने हाउस की सिक्योरिटी बढ़ा दी है। इनपुट पुणे में गिरफ्तार दो आतंकियों से पूछताछ के दौरान महाराष्ट्र एटीएस को मिला है। आतंकियों के पास छाबड़ हाउस का गूगल इमेज था। छाबड़ हाउस यहूदियों का सामुदायिक केंद्र है।

मुंबई पुलिस ने बताया कि महाराष्ट्र आतंकवाद निरोधी दस्ते (ATS) को कोलाबा स्थित छबाड़ हाउस के पास की कुछ गूगल तस्वीरें मिलीं। उन्होंने हमें सूचित किया। हमने हाउस के आसपास सुरक्षा बढ़ा दी है। गुरुवार को केंद्र और बाहरी क्षेत्र में एक मॉक ड्रिल भी की गई।

एमपी के रहने वाले हैं दोनों संदिग्ध

एटीएस ने मध्य प्रदेश के रतलाम के रहने वाले 23 वर्षीय मोहम्मद इमरान मोहम्मद यूनुस खान और 24 वर्षीय मोहम्मद यूनुस मोहम्मद याकूब साकी को पुणे पुलिस से हिरासत में ले लिया है। आगे की जांच में आरोपियों के पास से कंप्यूटर, लैपटॉप, पेन ड्राइव और हार्ड डिस्क जब्त की गईं। एटीएस ने पाया कि आरोपियों को धमाकों के लिए प्रशिक्षित किया गया था। दो संदिग्धों के किराए के फ्लैट से बरामद एक सफेद विस्फोटक पदार्थ का इस्तेमाल पुणे, सतारा और कोल्हापुर जिलों में अलग-अलग स्थानों पर बम विस्फोट परीक्षणों के लिए किया गया था।

5 अगस्त तक एटीएस की हिरासत में संदिग्ध

जांच अधिकारी ने पुणे की एक अदालत के समक्ष आरोपियों की 14 दिन की हिरासत की मांग करते हुए कहा कि उनके पास से जो चीजें जब्त की गई हैं उनमें कोलाबा की Google इमेज, उनकी प्लानिंग और कार्रवाई का विवरण शामिल है। अदालत ने 5 अगस्त तक एटीएस की हिरासत दे दी।

अदालत को बताया गया कि आरोपी मध्यप्रदेश में राष्ट्र विरोधी गतिविधि में शामिल थे और एनआईए द्वारा वांछित हैं। अधिकारी ने कहा कि संदिग्ध डेढ़ साल से पुणे में छिपे हुए थे और हमें जांच करनी होगी कि उनकी योजना क्या थी और उन्हें यहां छिपने में किसने मदद की।

यह भी पढ़ें: सड़क किनारे खड़े भिखारी से लिपटकर फूट-फूटकर रोई महिला, जानें क्यों? देखें VIDEO

First published on: Jul 29, 2023 10:26 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें