Friday, September 30, 2022
- विज्ञापन -

Latest Posts

MP: नए अंदाज में दिखे ज्योतिरादित्य सिंधिया, हॉकी थामकर दागा गोल

मध्यप्रदेश में केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया (Union Minister Jyotiraditya Scindia) ग्वालियर दौरे पर हैं। रविवार को सिंधिया ग्वालियर रेलवे हॉकी स्टेडियम (Gwalior Railway Hockey Stadium) पहुंचे।

ग्वालियर: मध्यप्रदेश में केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया (Union Minister Jyotiraditya Scindia) ग्वालियर दौरे पर हैं। रविवार को सिंधिया ग्वालियर रेलवे हॉकी स्टेडियम (Gwalior Railway Hockey Stadium) पहुंचे। यहां उन्होंने ग्वालियर रेलवे हॉकी स्टेडियम में बनाए नए एस्ट्रोटर्फ का शुभारंभ किया। इसके बाद सिंधिया ने हॉकी में हाथ आजमाए जहां हॉकी में गोल दाग कर उपस्थित लोगों की उन्होंने वाहवाही लूटी। इस दौरान सांसद विवेक नारायण शेजवलकर (MP Vivek Narayan Shejwalkar) ने हॉकी स्टिक पकड़कर बॉल को गोल पोस्ट में पहुंचाया।

ज्योतिरादित्य सिंधिया
ज्योतिरादित्य सिंधिया
नए एस्ट्रोटर्फ के शुभारंभ कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे सिंधिया

सिंधिया रियासत के महाराज और केंद्रीय मंत्री ने क्रिकेट के बाद हॉकी में हाथ आजमाए हैं। तस्वीरें ग्वालियर से सामने आई हैं, जहां “सिंधिया ने गोल दागा”। केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादिय सिंधिया ने हॉकी स्टिक थामकर एक के बाद एक गोल दागे। वह रेलवे हॉकी स्टेडियम में आयोजित नए एस्ट्रोटर्फ के शुभारंभ कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे थे। उनके साथ सांसद विवेक नारायण शेजवलकर ने भी हॉकी स्टिक से गोल दागे।

ज्योतिरादित्य सिंधिया

दरअसल, रविवार को ग्वालियर में केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने रेलवे हॉकी स्टेडियम में नए एस्ट्रोटर्फ सहित अन्य खिलाड़ियों से जुड़ी सुविधाओं का लोकार्पण किया। इस मौके पर सांसद विवेक नारायण शेजवलकर और ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न तोमर सहित पूर्व मंत्री इमरती देवी मौजूद थीं। यूं तो सिंधिया क्रिकेट का बल्ला हाथ में थामे नजर आते रहे हैं, लेकिन यह पहला मौका रहा जहां केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया हाथ में हॉकी स्टिक थाम कर एक के बाद एक गोल दागते नजर आए।

ग्वालियर को बताया हॉकी का गर्भगृह

इस मौके पर सिंधिया ने कहा कि हॉकी के क्षेत्र में ग्वालियर ने कई विभूतियां दी हैं, इसलिए ग्वालियर को हाकी का गर्भ गृह कहा जाए तो कोई अतिशयोक्ति नहीं होगी। उन्होंने मेजर ध्यानचंद, कैप्टन रूप सिंह जैसे हॉकी खिलाड़ियों को इस मौके पर याद किया। वहीं जब उनसे पूछा गया कि क्या हॉकी स्टिक से दागे गए गोल का असर 2023 में दिखाया देगा तो केंद्रीय मंत्री सिंधिया ने कहा कि जो चीज खेल के मैदान की हो उसे राजनीति से नहीं जोड़ना चाहिए। आज का वक्त यह है कि राजनीति में खेल का स्प्रिट अपनाना होगा, रोचक तरीके से खेल खेला जाना चाहिए, उसके बाद स्पोर्ट्स में स्प्रिट की तरह मिलकर देश के लिए काम करना चाहिए।

गौरतलब है कि करीब 6 करोड़ की लागत से रेलवे हॉकी स्टेडियम में एस्ट्रोटर्फ के अलावा अन्य विकास कार्य कराए गए हैं, जिनमें खिलाड़ियों के रहने और उनकी अन्य सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए कई कार्य कराए गए हैं।

Latest Posts

- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -
- विज्ञापन -