---विज्ञापन---

गुजरात में जानलेवा बना सिरप, पीते ही 3 लोगों ने तोड़ दिया दम, जांच में हुआ चौंकाने वाला खुलासा

Syrup Of Death: गुजरात के खेड़ा जिले में आयुर्वेदिक सिरप पीने के बाद तीन और दो लोगों की सदिंग्ध रूप मौत हो गई। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Edited By : Swati Pandey | Updated: Nov 30, 2023 16:33
Share :

Syrup Of Death: गुजरात के खेड़ा जिले में 5 युवकों की संदिग्ध मौत के बाद जहां इलाके में सनसनी फैल गई है वही इस मामले में पुलिस जांच के दौरान चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। जिसके मुताबिक पांच में से तीन लोगों की मौत सिरप पीने से हुई है जबकि दो अन्य युवकों की मौत को लेकर जांच चल रही है। इस मामले में सदिंग्ध तीन लोगों से पूछताछ की जा रही है। दरअसल देव दिवाली की रात बिलोदरा गांव में मांडवी यानी कि देवी मां के गरबा का कार्यक्रम था। माताजी के मांडवी गरबा के अवसर पर बिलोदरा और बागड़ू गांव के नागरिक बड़ी संख्या में एकत्र हुए। हालांकि, रात के दौरान कुछ युवाओं के आयुर्वेदिक सिरप पीने की खबर सामने आई थी। जिसके बाद 5 युवकों की मौत हो गई।

तीन लोगों को हिरासत में लिया

मामले की गंभीरता को देखते हुए खेड़ा के नडियाद में जिस मेघसावा सिरप से मौत की आशंका है, उसका उत्पादन करने वाले 3 लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। पुलिस द्वारा मिली जानकारी के मुताबिक बिलोदरा गांव में किराना दुकान चलाने वाला किशोर नाम का व्यक्ति आयुर्वेदिक सिरप बेच रहा था। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है। पुलिस जांच में पता चला है कि किराने की दुकान वाला शख्स नडियाद के एक व्यापारी से सिरप की एक बोतल 100 रुपये में खरीदता था और उसे 130 रुपये में बेचता था। पुलिस इस बात की जांच कर रही है कि नडियाद का कारोबारी यह सिरप कहां से लाता था।

यह भी पढ़े: तेलंगाना के मुस्लिम वोट बैंक पर ओवैसी परिवार का दबदबा, कांग्रेस-भाजपा की कौन सी चाल दिलाएगी वोट? देखें समीकरण

सिरप में मेथनॉल होने की आशंका

पुलिस के मुताबिक आशंका है कि पांच में से तीन लोगों की मौत आयुर्वेदिक सिरप पीने से हुई , ये तीनों बिलोदरा गांव के थे। जबकि महमदाबाद और बगड़ू गांव में जिन दो लोगों की मौत हुई है, उन लोगों ने सिरप नहीं पिया था। घटना की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने बिलोदरा गांव में शरबत पीने वाले 50 से 55 लोगों की मेडिकल जांच कराई है जो कि पूरी तरह स्वस्थ है। इस संबंध में पुलिस का कहना है शक है कि आयुर्वेदिक सिरप के उत्पादन में गड़बड़ी हुई है और इसमें मेथनॉल मिलाया गया है।

यह भी पढ़े: कौन से हैं 9 वादे जो तेलंगाना चुनाव में जीत के लिए कांग्रेस ने गिनाए, BRS ने बताया, कैसा रहा कार्यकाल?

पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद पता चलेगी वजह

खेड़ा एसपी ने बताया कि  चार लोगों की मौत होने तक पुलिस को कोई सूचना नहीं दी गई। पुलिस की जानकारी के बिना चारों मृतकों का परिजनों ने अंतिम संस्कार भी कर दिया। जबकि पांचवें व्यक्ति की मृत्यु के बाद पुलिस सतर्कता ने उसका अंतिम संस्कार करने से रोक दिया, उसका पोस्टमार्टम चल रहा था। पोस्टमार्टम में मौत का सही तथ्य सामने आएगा।

First published on: Nov 30, 2023 04:16 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें