---विज्ञापन---

दिल्ली में बाढ़ का खतरा और हथिनीकुंड का जलस्तर क्यों बढ़ा? वजह जान लें

Yamuna Water Level: पहाड़ों पर फिर से शुरू हुई बारिश के कारण एक बार फिर दिल्ली वालों की धड़कनें बढ़ रही हैं। हरियाणा के हथिनीकुंड बैराज से यमुना में पानी छोड़े जाने के बाद जलस्तर फिर से खतरे के निशान (Yamuna Water Level) को छू सकता है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, बैराज से करीब 75 […]

Edited By : Naresh Chaudhary | Updated: Aug 15, 2023 18:37
Share :
Yamuna Water Level, Flood threat in Delhi, Delhi Flood, Hathini Kund, Yamuna Flood Alert, Delhi News

Yamuna Water Level: पहाड़ों पर फिर से शुरू हुई बारिश के कारण एक बार फिर दिल्ली वालों की धड़कनें बढ़ रही हैं। हरियाणा के हथिनीकुंड बैराज से यमुना में पानी छोड़े जाने के बाद जलस्तर फिर से खतरे के निशान (Yamuna Water Level) को छू सकता है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, बैराज से करीब 75 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा गया है। आशंका है कि यदि और पानी छोड़ा गया तो दिल्ली की स्थिति एक बार फिर बिगड़ सकती है।

खतरे के निशान से बस इतना नीचे है पानी

टीओआई की एक रिपोर्ट के अनुसार, सोमवार शाम सात बजे दिल्ली के पुराने रेलवे पुल पर यमुना का जलस्तर 203.35 मीटर दर्ज किया गया है। यमुना में चेतावनी का स्तर 205.33 मीटर है। रिपोर्ट में अधिकारियों के हवाले से यह भी कहा गया है कि यदि पहाड़ों पर बारिश नहीं थमी तो हरियाणा से और पानी छोड़ा जाएगा।

यह भी पढ़ेंः हिमाचल-उत्तराखंड में बारिश से अब तक 58 की मौत; अगले 24 घंटे और भी ज्यादा भारी, IMD का अलर्ट जारी

16 अगस्त से दिख सकता है असर

रिपोर्ट में कहा गया है कि हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में लगातार बारिश जारी है, जिसके कारण हथिनी कुंड बैराज में पानी भी लगातार बढ़ रहा है। इसके बाद यमुना नदी की मुख्य धारा में पानी छोड़ने की आशंका है। अधिकारियों ने बताया कि 26 जुलाई के बाद यह पहली है जब यमुना में हथिनी कुंड से 50 हजार क्यूसेक से ज्यादा पानी छोड़ा गया है। अधिकारियों ने यह भी कहा है कि 16 अगस्त से दोबारा यमुना में स्थिति खराब हो सकती है।

यह भी पढ़ेंः उत्तराखंड में डराने लगे हालात, फिर याद आया ‘केदारनाथ’, Watch Video

फिर से खाली कराई जा रहे निचले इलाके

दिल्ली के प्रशासनिक अधिकारी सिंचाई विभाग, बाढ़ नियंत्रण विभाग और हथिनी कुंड बैराज प्रबंधन के अधिकारियों से लगातार संपर्क में हैं। यमुना में फिर से बाढ़ के खतरे को देखते हुए निचले इलाकों को खाली कराना शुरू कर दिया है। हाल में आई बाढ़ के दौरान जो भी प्रबंध किए गए थे उन्हें भी दोहराया जा सकता है।

दिल्ली की खबरों के लिए यहां क्लिक करेंः-

First published on: Aug 15, 2023 06:37 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें