Wednesday, 21 February, 2024

---विज्ञापन---

BJP नेता की हत्या का जिम्मा ले नक्सलियों ने फेंके पर्चे; खुली धमकी- वोट मांगे तो गोली मिलेगी

Chhattisgarh BJP Leader Murder: भाजपा नेता बिरजू तारम की हत्या के मामले में नक्सलियों ने पर्चा फेंककर जिम्मेदारी ली है, साथ ही नक्सलियों ने यह चेतावनी भी दी है कि वोट मांगने वालों को बिरजू जैसी सजा मिलेगी।

Edited By : Shailendra Pandey | Updated: Oct 24, 2023 17:18
Share :
Chhattisgarh BJP Leader Murder, Naxalites, Pamphlets, BJP Leader Murder, Chhattisgarh Crime, Crime News, Hindi News, Chhattisgarh News

Chhattisgarh BJP Leader Murder: भाजपा नेता बिरजू तारम की हत्या के मामले में छत्‍तीसगढ़ के मोहला मानपुर अंबागढ़ चौकी जिले के सीतागांव-औंधी रोड पर नक्सलियों ने पर्चा फेंककर हत्या की जिम्मेदारी ली है, साथ ही नक्सलियों ने यह चेतावनी भी दी है कि वोट मांगने वालों को बिरजू जैसी सजा मिलेगी। नक्सलियों ने पर्चे में यह भी लिखा है कि बिरजू तारम को मौत की सजा पहले ही दे दी गई थी। इसके साथ ही बीजेपी व आरएसएस को भगाओ देश बचाओ का नारा भी नक्सलियों ने पर्चे में लिखा है।

हत्या को लेकर नक्सलियों पर था संदेह

गौरतलब है कि 20 अक्‍टूबर को प्रदेश के नवगठित मोहला-मानपुर-अंबागढ़ चौकी जिले के औंधी क्षेत्र में बीजेपी नेता बिरजूराम तारम की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। पुलिस के अनुसार, हथियारों से लैस कुछ लोगों ने घर में घुसकर घटना को अंजाम दिया। इस हत्या को लेकर पहले ही नक्सलियों पर संदेह किया जा रहा था। नक्सली पर्चा मिलने के बाद पुलिस और सतर्क हो गई है तथा इलाके की सर्चिंग तेज कर दी गई है।

यह भी पढ़ें- पेशी पर जा रहे कैदी ने किया फेसबुक लाइव, वीडियो वायरल होते ही नपे दरोगा समेत चार पुलिसकर्मी

नक्सलियों की हिट लिस्ट में था नाम

बता दें कि पिछले माह पुलिस जबलपुर से एक नक्सली को गिरफ्तार कांकेर लेकर आई थी। उसके तार मोहला-मानपुर-अंबागढ़ चौकी जिले से जुड़ा था। इसलिए यहां से पुलिस अधीक्षक रत्ना सिंह कांकेर में गिरफ्तार नक्सली से पूछताछ करने गई थी। खबर है कि गिरफ्तार नक्सली के पास से पुलिस ने एक डायरी जब्त किया था, जिसमें बिरजुराम तारम का नाम हिट लिस्ट में था।

बिरजू तारम इलाके के एक बड़े हिंदुत्ववादी नेता थे। इस क्षेत्र में मिशनरीज और हिंदुत्वादी संगठनों में काफी समय से विवाद चल रहा है। 1 साल पहले यहां हिन्दू देवी-देवताओं की मूर्तियों को कुछ असामाजिक तत्वों ने तोड़ दिया था, जिसे पुलिस ने नक्सली घटना बताया था और बिरजू तारम लंबे समय से इन सबके खिलाफ आंदोलन कर रहे थे। उन्होंने मोहला-मानपुर में कई बार धर्मांतरण रोककर बड़े आंदोलन किए थे।

 

First published on: Oct 24, 2023 05:18 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें