Saturday, 20 April, 2024

---विज्ञापन---

Bihar: पटना में नौकरी मांगने पर मिली लाठियां, शिक्षक भर्ती बहाली की मांग कर रहे थे छात्र

पटना: पटना में नौकरी मांगने पर छात्रों पर लाठियां बरसाईं गईं हैं। बताया जा रहा है कि पटना में शिक्षक अभ्यर्थी नौकरी की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे थे। इसके बाद प्रशासन की टीम ने अभ्यर्थियों पर लाठियां बरसाईं और पानी की बौछार भी की। जानकारी के मुताबिक, प्रदर्शन करने वालों में अधिकतर CTET […]

Edited By : Om Pratap | Updated: Aug 22, 2022 16:55
Share :

पटना: पटना में नौकरी मांगने पर छात्रों पर लाठियां बरसाईं गईं हैं। बताया जा रहा है कि पटना में शिक्षक अभ्यर्थी नौकरी की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे थे। इसके बाद प्रशासन की टीम ने अभ्यर्थियों पर लाठियां बरसाईं और पानी की बौछार भी की। जानकारी के मुताबिक, प्रदर्शन करने वालों में अधिकतर CTET और BTET के अभ्यर्थी शामिल थे।

हाथों में तिरंगा लेकर प्रदर्शन कर रहे थे छात्र

छात्रों ने बताया कि वे पटना डाक बंगला चौराहे पर नौकरी की मांग कर रहे थे। छात्रों का आरोप है कि इस दौरान पटना एडीएम केके सिंह ने उन्हें वहां से हटाने के लिए लाठीचार्ज कर दिया। छात्रों ने बताया कि कई अभ्यर्थियों को चोटें आईं हैं। उन्होंने कहा कि छात्र शांतिपूर्वक हाथों में तिरंगा लेकर नौकरी की मांग कर रहे थे लेकिन पुलिस की टीम ने उन्हें बुरी तरह मारा।

लाठीचार्ज के बाद डिप्टी सीएम बोले- जो चीजें सामने आईं, वो गलत है

शिक्षक अभ्यर्थियों पर लाठीचार्ज की खबरों के बाद उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा कि जो चीजें आज सामने आई है वो गलत है। ऐसा नहीं होना चाहिए था। उन्होंने कहा कि डीएम से बात हुई है और जांच कमेटी बना दी गई है। दोषी पाए जाने वाले लोगों के खिलाफ कार्रवाई होगी। डिप्टी सीएम ने कहा कि महागठबंधन की सरकार मुख्य्मंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में चल रही। 20 लाख रोजगार की बात कही गई है। युवाओं को नौकरी दी जाएगी।

डिप्टी सीएम ने कहा कि हम प्रतिदिन लोगों से मिल रहे हैं। उनकी बातों को सुन रहे हैं। इस मामले को लेकर हम गंभीर हैं। उन्होंने कहा कि युवाओं को घबराने की जरूरत नहीं है। थोड़ा संयम बरतने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि 2 साल भाजपा के लोगों ने बर्बाद किया, लेकिन अब काम हो रहा है। हमलोग काम कर रहे है। रोजगार व नौकरी देने के लिए सरकार काम कर रही है।

नीतीश-तेजस्वी ने नौकरी को लेकर की थी घोषणा

बिहार में महागठबंधन की सरकार बनने के बाद तेजस्वी यादव ने 10 लाख नौकरियों की बात कही थी। इसके बाद स्वतंत्रता दिवस पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव के 10 लाख नौकरियों के वादे वाले बयान का समर्थन करते हुए 10 लाख और नौकरियां देने की बात कही थी।

नीतीश कुमार के इस घोषणा के बाद तेजस्वी यादव ने कहा था कि आज (स्वतंत्रता दिवस) ऐतिहासिक दिन पर राज्य के मुख्यमंत्री ने घोषणा की कि हम 10 लाख नौकरियां देंगे जिसको बढ़ाकर 20 लाख किया जाएगा। हम इसके अलावा नए रोज़गार बनाने का भी काम करेंगे। हम लोग अपने वादे को पूरा कर रहे हैं। यह अच्छी बात है कि रोज़गार पर चर्चा हो रही है।

नीतीश ने कहा था- नौकरियों और रोजगार के लिए कुछ भी करेगी सरकार

पटना के गांधी मैदान से 15 अगस्त को बिहार के लोगों को संबोधित करते हुए कुमार ने अपनी सरकार की उपलब्धियों के बारे में बातचीत की थी और कई घोषणाएं भी की थी। उन्होंने कहा था कि बिहार सरकार नौकरियों और रोजगार के लिए सब कुछ करेगी। नीतीश कुमार ने मंच पर मौजूद तेजस्वी यादव की ओर से देखते हुए कहा कि हम अब साथ हैं.. हमारी अवधारणा है कि हमें इसे (नौकरियों) को कम से कम 10 लाख करना चाहिए, लेकिन मैं कहूंगा नौकरियों के अलावा रोजगार के लिए भी मिलकर काम करेंगे। उन्होंने कहा कि हमारी इच्छा नौकरियों को 20 लाख तक ले जाने की है।

First published on: Aug 22, 2022 02:33 PM
संबंधित खबरें